बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
बुध वृषभ राशि में हुए मार्गी, 7 जुलाई तक इन 4 राशि वालों के जीवन में आएंगी अपार खुशियां
Myjyotish

बुध वृषभ राशि में हुए मार्गी, 7 जुलाई तक इन 4 राशि वालों के जीवन में आएंगी अपार खुशियां

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

बांदा: भाजपा की झंडी लगी कार झोपड़ी में घुसी, मासूम की मौत, चार घायल

बांदा-प्रयागराज राष्ट्रीय राजमार्ग पर भाजपा की झंडी लगी कार पंक्चर हो जाने पर सड़क किनारे झोपड़ी में जा घुसी, जिसमें एक माह के मासूम की मौत हो गई और चार लोग घायल हो गए। कार मालिक को हिरासत में ले लिया गया है।

अतर्रा नगर निवासी पूरा परिवार कार में चित्रकूट से वापस आ रहे थे। बुधवार को सुबह बदौसा रोड पावर हाउस के पास अगला पहिया पंक्चर हो जाने से तेज रफ्तार कार अनियंत्रित हो गई और सड़क किनारे झोपड़ी में घुस गई। झोपड़ी के बाहर सो रहे एक माह के मासूम पप्पू की घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

उसकी मां नगीना, सोनी, मीरा व तुलसीदास भी घायल हो गए। इनमें दो को ज्यादा चोटें आईं। उन्हें जिला अस्पताल भेज दिया गया। राहगीरों ने वाहन चालक को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया है। उधर, मृतक बच्चे की मां नगीना का आरोप है कि महिला द्वारा कार चलाना सीखने के दौरान यह हादसा हुआ है। 

उधर, अतर्रा इंस्पेक्टर अरविंद सिंह गौर ने बताया कि कार अतर्रा नगर निवासी अनुराग गुप्ता की बताई गई है। कार मालिक को हिरासत में ले लिया गया है। फिलहाल मृतक के परिजनों ने अभी तहरीर नहीं दी है। कार पर लगे भाजपा के झंडे के सवाल पर कहा कि अक्सर सत्ताधारी दल का झंडा लोग लगा लेते हैं। अनुराग भाजपा का नेता है या नहीं, इसकी जानकारी नहीं है।
... और पढ़ें

कानपुर: दिव्या कांड के मुख्य अभियुक्त पीयूष को भुगतनी होगी उम्रकैद, दो अन्य आरोपियों की एक-एक साल की सजा हुई माफ

दिव्या कांड के मुख्य अभियुक्त स्कूल प्रबंधक के बेटे पीयूष कुमार वर्मा को उम्रकैद की सजा काटनी होगी। सेशन कोर्ट की ओर से वर्ष 2018 में सुनाई गई सजा के खिलाफ पीयूष की अपील हाईकोर्ट ने खारिज कर दी है। दो अन्य आरोपियों सुधीर कुमार वर्मा और संतोष मिश्रा की अपील स्वीकार कर उनकी एक-एक साल की सजा माफ कर दी है।

रावतपुर स्थित ज्ञानस्थली स्कूल में 27 सितंबर 2010 को कक्षा छह की छात्रा दिव्या पढ़ने गई थी। दोपहर में दिव्या की हालत बिगड़ने पर स्कूल कर्मचारी उसे घर छोड़ गए। गंभीर हालत में उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था।

दिव्या की मां सोनू भदौरिया ने स्कूल प्रबंधन पर आरोप लगाए थे। तत्कालीन मुख्यमंत्री मायावती ने मामले की सीबीसीआईडी जांच के आदेश दिए थे। इसके बाद स्कूल प्रबंधक चंद्रपाल वर्मा और उनके बेटे पीयूष व सुधीर के अलावा लिपिक संतोष को जेल भेजा गया था।

पांच दिसंबर 2018 को अपर जिला जज द्वितीय ज्योति कुमार त्रिपाठी ने पीयूष को कुकर्म और हत्या का दोषी मानते हुए उम्रकैद और 75 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई थी, जबकि गैर इरादतन हत्या और जानबूझकर अपराध की सूचना न देने का दोषी मानते हुए सुधीर वर्मा और संतोष मिश्रा को एक-एक साल की कैद की सजा सुनाई थी।

सबूतों के अभाव में स्कूल प्रबंधक चंद्रपाल वर्मा को दोषमुक्त करार दिया गया था। तीनों ने सजा के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील की थी। सोनू भदौरिया की ओर से अधिवक्ता एलएम सिंह व रघुवीर शरण सिंह ने अपील का विरोध किया था।
... और पढ़ें

कानपुर: डॉ. संजय काला बने जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के नए प्राचार्य

सीनियर सर्जन डॉ. संजय काला जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के नए कार्यवाहक प्राचार्य बने हैं। इस संबंध में प्रमुख सचिव आलोक कुमार ने आदेश जारी कर दिया है। मेडिकल कॉलेज के कार्यवाहक प्राचार्य रहे डॉ. आरबी कमल को उनके मूल तैनाती स्थल भेज दिया गया है।

डॉ. कमल राजकीय मेडिकल कॉलेज प्रयागराज में फिजियोलॉजी विभागाध्यक्ष के रूप में ज्वाइन करेंगे। कार्यवाहक प्राचार्य बनने से पहले वह इसी पद पर तैनात रहे थे। डॉ. संजय राजकीय मेडिकल कॉलेज आगरा के कार्यवाहक प्राचार्य रहे हैं।

वह शासन के अग्रिम आदेश तक आगरा मेडिकल कॉलेज की भी जिम्मेदारी संभालेंगे। डॉ. संजय आगरा जाने के पहले जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के सर्जरी विभागाध्यक्ष थे। डॉ. कमल के तबादले की चर्चा बीते शुक्रवार से हो रही थी।

जाते-जाते डॉ. कमल ने साथियों पर फोड़ा ठीकरा
जीएसवीएम मेडिकल कालेज के प्राचार्य डॉ. आरबी कमल ने जाते-जाते अपने साथियों पर नाकामयाबी का ठीकरा फोड़ दिया है। वह एक साल 12 दिन कार्यवाहक प्राचार्य रहे। उनसे शासन-प्रशासन को सबसे ज्यादा शिकायत टीम न बना पाने की थी।

सूत्र बता रहे हैं कि इस पर उन्होंने कई विभागाध्यक्षों और अधिकारियों का नाम लिख कर शासन को दिया है। बुधवार को डॉ. कमल का तबादला आदेश आने के साथ शासन से विभागाध्यक्षों के नाम स्पष्टीकरण संबंधी पत्र भी आने लगे। इससे हड़कंप मच गया। सबसे ज्यादा चर्चा हैलट की प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉ. ज्योति सक्सेना के नाम की रही।

हैलट की अव्यवस्था, कोरोना रोगियों की मौत छिपाने, रेमडेसिविर प्रकरण आदि मामलों में शासन ने डॉ. कमल को बुलाया था। इस पर नाराजगी जाहिर की गई। सूत्रों ने बताया कि शासन से डाक्टरों के असहयोग की शिकायत की गई थी। इस पर शासन ने नोटिस ले लिया है।

प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सक्सेना का कहना है कि उनके पास अभी कोई पत्र तो नहीं आया लेकिन पता चला है कि कालेज में आया है। गुरुवार को पता चलेगा। इसके अलावा कम्युनिटी मेडिसिन विभागाध्यक्ष डॉ. सीमा निगम के नाम भी पत्र आने की चर्चा है। विभागाध्यक्षों की शिकायत की भी चर्चा होती रही। हालांकि डॉ. कमल ने कहा कि शासन का निर्णय है। वह अपने कार्यकाल के दौरान काम से संतुष्ट हैं। 
... और पढ़ें

धर्म परिवर्तन का मामला: एमबीए पास रिचा बनी माहीन अली, मस्जिद में दान करती है सैलरी

धर्मांतरण कराने वाले गिरोह ने पढ़ी-लिखी युवतियों को भी अपने जाल में फंसा उनका धर्म परिवर्तन कराया। इसमें घाटमपुर के बीहूपुर पहवा गांव निवासी 26 वर्षीय रिचा देवी भी शामिल है। 2018 में मोहम्मद उमर के संगठन ने रिचा का धर्म परिवर्तन कर उसको माहीन अली बना दिया। एमबीए पास रिचा उर्फ माहीन अली नोएडा में एक बड़ी कंपनी में काम करती है।

हर महीने मिलने वाली सैलरी से 75 हजार रुपये मस्जिद में दान करती है। परिवार वालों से रिश्ता तोड़ रखा है। धर्मांतरण के आरोपी उमर गौतम ने 2018 में जिन लोगों का धर्म परिवर्तन कराया उनकी एक सूची मिली है। इसमें कई युवतियां शामिल हैं। जिन्होंने हिंदू से मुस्लिम धर्म अपनाया। इसमें घाटमपुर के बीहूपुर पहवा निवासी रिचा का भी नाम शामिल है।
... और पढ़ें
धर्म परिवर्तन प्रकरण धर्म परिवर्तन प्रकरण

यूपी: महोबा में सराफा व्यापारी के घर एक करोड़ की चोरी, एक किलो से अधिक सोना, ढाई किलो चांदी ले गए चोर

महोबा के कुलपहाड़ में कोतवाली से चंद कदम दूर बुधवार की रात चोरों ने सराफा व्यापारी के आवास में चोरी की। मकान का ताला तोड़कर घर में घुसे चोरों ने लॉकर में रखे पांच लाख रुपये और सोने-चांदी के आभूषण चुरा ले गए। पीड़ित व्यापारी ने करीब एक करोड़ रुपये की चोरी होने की कोतवाली में तहरीर दी है। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

एएसपी और सीओ महोबा ने घटनास्थल का निरीक्षण कर चोरी के खुलासे के लिए टीमें गठित की हैं। कस्बा कुलपहाड़ के मोहल्ला हटवारा निवासी राजू सोनी की मुख्य बाजार में चंद्रा ज्वैलर्स के नाम से दुकान है। प्रतिदिन दुकान बंद करने के बाद वह आभूषण घर ले आते थे। बुधवार की सुबह राजू की पत्नी की अचानक हालत बिगड़ गई। उनका इलाज कराने के लिए वह मकान पर ताला लगाकर झांसी चले गए। गुरुवार की सुबह वापस घर लौटने पर घर का दरवाजा खुला मिला।

अंदर जाकर देखा तो सामान अस्त-व्यस्त पड़ा था। अलमारी और लॉकर टूटे मिले। घटना की सूचना तत्काल पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही अपर एसपी आरके गौतम, सीओ रामप्रवेेश राय कोतवाली पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे और घटनास्थल का बारीकी से जायजा लिया। पीड़ित ने बताया था कि पत्नी की तबियत खराब होने पर वह झांसी इलाज को गए थे।

 
... और पढ़ें

Vaccine trial: बच्चों में रिस्पांस बड़ों से बेहतर, सबसे कम उम्र की बच्ची को टीका के बाद सिर्फ हरारत

कानपुर में स्वदेशी वैक्सीन कोवाक्सिन के पीडियाट्रिक ट्रायल में सबसे छोटे आयु वर्ग दो साल से छह साल के ग्रुप में वैक्सीन का रिस्पांस बेहतर रहा है। सबसे कम उम्र दो साल आठ महीने की वॉलेंटियर को बुधवार को वैक्सीन लगी थी, 24 घंटे के बाद भी कोई दिक्कत नहीं हुई, सिर्फ हरारत है।

उसके घरवालों ने पार्क में खेलती बच्ची की फोटो ट्रायल के चीफ इन्वेस्टीगेटर पूर्व डीजीएमई डॉ. वीएन त्रिपाठी को भेजी है। सबसे छोटे आयु वर्ग के पांच बच्चों को बुधवार को ट्रायल के तहत वैक्सीन लगाई गई थी। डॉ. त्रिपाठी ने बताया कि किसी को कोई दिक्कत नहीं हुई है।

अब एक सप्ताह इनका सेफ्टी प्रोफाइल चेक किया जाएगा। इसके बाद आईसीएमआर की अनुमति के बाद बच्चों को वैक्सीन लगाई जाएगी। कोवाक्सिन का पीडियाट्रिक ट्रायल आर्यनगर स्थित प्रखर अस्पताल में चल रहा है।

अस्पताल के सीनियर फिजिशियन और को-इन्वेस्टीगेटर डॉ. जेएस कुशवाहा ने बताया कि प्रत्येक बाल वॉलेंटियर की स्थिति पर निगाह रखने के लिए एक व्यक्ति को जिम्मेदारी दी गई है। अभी तक का रिस्पांस बेहतर है।  
... और पढ़ें

इटावा: हेड कांस्टेबल की पत्नी पर फेंका गया ज्वलनशील पदार्थ, थाने से दो सौ मीटर दूरी पर हुई घटना

इटावा शहर कोतवाली थाना से दो सौ मीटर दूर स्थित पक्की सराय कपड़ा बाजार में बृहस्पतिवार दोपहर हेड कांस्टेबल की पत्नी पर किसी शरारती तत्व ने ज्वलनशील पदार्थ फेंक दिया। इससे बाजार में हड़कंप मच गया। इसी कपड़ा बाजार में 10 दिन के पहले भी इस तरह की घटना हुई थी। सूचना पर एसपी सिटी प्रशांत कुमार प्रसाद मौके पहुंचे पर पीड़ित महिला से घटना की जानकारी ली।

इसके बाद उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा गया। फ्रैंड्स कालोनी थाना क्षेत्र के नई मंडी निवासी ममता यादव (45) न्यू बस अड्डा पंजाबी कालोनी में रहने वाली देवरानी नीलम के साथ दोपहर करीब दो बजे साड़ी खरीदने पक्की सराय बाजार में आई थीं। वह आगरा में एक अस्पताल में एएनएम हैं।

ममता के पति राघवेंद्र सिंह यादव कानपुर के किदवईनगर थाने में हेड कांस्टेबल हैं। ममता ने बताया कि वह लालपुरा निवासी राजीव जैन की दुकान पर साड़ी देख रही थीं। इस दौरान उन्हें कमर के पीछे जलन का अहसास हुआ। पहनी हुई साड़ी शरीर से चिपक गई थी। पॉयल भी पैर में चिपक गए थे।
... और पढ़ें

यूपी: एनएसजी कमांडो की निगरानी में रहेगी राष्ट्रपति की सुरक्षा, कमिश्नरी के 900 जवान तैनात

तेजाब (सांकेतिक तस्वीर)
टूंडला से होकर गुजरने वाले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं। राष्ट्रपति की सुरक्षा पूरी तरह से एनएसजी कमांडो के हाथों में रहेगी। बाहर से आरपीएफ के कुल 100 जवान टूंडला आ चुके हैं। 200 जीआरपी के जवानों को भी तैनात किया जाएगा। ये जवान टूंडला, फिरोजाबाद, शिकोहाबाद और इटावा के मध्य निगरानी करेंगे। राष्ट्रपति की स्पेशल ट्रेन के गुजरने के दौरान वाहन और जानवर रेल ट्रैक पर न पहुंच सकें, इसका भी ध्यान रखा गया है। इसके लिए रेलवे लाइन के आसपास रहने वाले ग्रामीणों से अपने पशुओं को घरों में बांधकर रखने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही हर एक किलोमीटर की दूरी पर गैंगमैन की टीम को भी लगाया गया है।

चक्र में होगा सुरक्षा घेरा, कमिश्नरी के 900 जवान तैनात
राष्ट्रपति के आगमन के मद्देनजर पुलिस कमिश्नरी से 900 पुलिस कर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। राष्ट्रपति की सुरक्षा की दृष्टि से तीन मुख्य प्वाइंट्स निर्धारित किए गए हैं, जिसमें सर्किट हाउस, रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट शामिल हैं। इन तीनों ही स्थानों पर चार चक्र में सुरक्षा घेरा तैयार किया जाएगा।

वहीं, 25 जून को रेलवे स्टेशन का कैंट साइड एरिया आम जनता के लिए बंद रहेगा, जबकि घंटाघर साइड आवागमन सामान्य दिनों की तरह ही चालू रहेगा। पुलिस कमिश्नर असीम अरुण ने बताया कि सर्किट हाउस के आउटर हिस्से पर सीआरपीएफ का घेरा रहेगा। सीआरपीएफ की दो कंपनी कानपुर आ चुकी हैं और उनकी ड्यूटी भी निर्धारित कर दी गई है। सर्किट हाउस में ही इंटीग्रेटेड कमांड पोस्ट बनाया जाएगा, जहां से सभी फोर्स के लिए सूचनाओं का अदान प्रदान किया जा सकेगा। पुलिस कमिश्नर ने बताया कि एयरपोर्ट पर पहले से ही सीआरपीएफ सुरक्षा बल का घेरा है। एयरपोर्ट पर चार चक्रों में पुलिस समेत अन्य फोर्सों की ड्यूटी लगाई जाएगी।
... और पढ़ें

कानपुर: शाम को आएंगे राष्ट्रपति तो सेंट्रल पर दिखेगी चकाचौंध, की गई ये व्यवस्था

कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 25 जून को शाम सात बजे आएंगे। शाम को कानपुर सेंट्रल के स्टेशन परिसर पर रोशनी की समुचित व्यवस्था की जा रही है। ट्रेन के स्टेशन परिसर में घुसने से पहले ही रोशनी ट्रेन में बैठे लोगों को दिखने लगे और प्लेटफार्म एक पर जब राष्ट्रपति उतरें तो उन्हें स्टेशन जगमगाता दिखे, इसका इंतजाम इंजीनियर करा रहे हैं।

150 नए पंखे, 500 लाइटें लगा दी गईं
कानपुर सेंट्रल स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक पर 150 नए पंखे शेड पर लगा दिए गए हैं। इसके अलावा दीवार पर लगने वाले फर्राटा फैन यानी बड़े एयर सर्कुलेटर 20 लगा दिए गए हैं। इसके अलावा प्लेटफार्म पर 500 एलईडी लाइटें लगवाई गई हैं।

कैंट साइड पर स्टेशन की ब्रिटिशकालीन बिल्डिंग पर एलईडी वाले नए साइन बोर्ड लगवाए गए हैं। इनकी लाइटें काफी समय से खराब थीं, जिससे हिंदी, उर्दू और अंग्रेजी में लिखा कानपुर सेंट्रल रात के वक्त नहीं दिखता था। अब राष्ट्रपति की नजर उस इमारत पर न चली जाए, जिससे फजीहत हो।

लिहाजा इंजीनियरिंग विभाग ने नए साइन बोर्ड ही लगवा दिए हैं। कैंट साइड पर रोशनी की ज्यादा व्यवस्था होगी, क्योंकि एक नंबर प्लेटफार्म से निकलकर वह सर्किट हाउस जाएंगे। इसके अलावा इलेक्ट्रिकल विभाग रूरा और झींझक के प्लेटफार्म पर लाइटें बढ़वा चुका है। 
... और पढ़ें

कन्नौज: गंगा में स्नान कर रहे दो युवक डूबे, तलाश जारी

उन्नाव दुष्कर्म कांड: भाजपा ने 17 घंटे में काटा अरुण सिंह का टिकट, पूर्व एमएलसी की पत्नी शकुन सिंह बनी प्रत्याशी प्रत्याशी

उन्नाव जिला पंचायत चुनाव में सजायाफ्ता पूर्व विधायक कुलदीप सेंगर की पत्नी को सदस्य पद का टिकट देने में हुई फजीहत से भी भाजपा ने सबक नहीं लिया और अब अध्यक्ष के लिए कुलदीप सेंगर के ही खास एवं दुष्कर्म व हत्या के मामले में चर्चित रहे अरुण सिंह को प्रत्याशी बना दिया।

जिसपर दुष्कर्म पीड़िता द्वारा एक वीडियो में उठाए गए सवाल के बाद भाजपा को अरुण सिंह का टिकट निरस्त करना पड़ा। अब पूर्व एमएलसी स्व. अजीत सिंह की पत्नी शकुन सिंह को प्रत्याशी बनाया है।  भाजपा में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के प्रत्याशी के लिए खींचतान चल रही थी।

बुधवार की देर रात भाजपा जिलाध्यक्ष राजकिशोर रावत ने नवाबगंज के पूर्व ब्लाक प्रमुख अरुण सिंह को प्रत्याशी घोषित कर दिया था। इसपर दुष्कर्म पीड़िता ने बृहस्पतिवार की सुबह भाजपा की नीयत और फैसले पर सवाल उठाए तो मामला सुर्खियों में आ गया। दुष्कर्म पीड़िता ने इस बारे में राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री को पत्र भी भेजा।

सोशल मीडिया पर वीडियो भी शेयर किया। फजीहत हुई तो भाजपा ने एक बार फिर यू टर्न लिया और शाम चार बजे भाजपा जिलाध्यक्ष राजकिशोर रावत ने पत्र जारी कर अरुण सिंह का टिकट निरस्त करते हुए श्रीमती शकुन सिंह को प्रत्याशी बनाए जाने की जानकारी दी।
... और पढ़ें

यूपी: राष्ट्रपति को पसंद भाभी के हाथ की कढ़ी व रसियाउर, देवर के लिए तैयार करती थीं पसंदीदा व्यंजन

कानपुर देहात के झींझक में ओमनगर निवासी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के बड़े भाई प्यारेलाल कोविंद और भाभी गंगाजली उनसे मुलाकात के लिए उत्साहित हैं। राष्ट्रपति को भाभी के हाथ की कढ़ी और रसियाउर बहुत पसंद है।

बताया कि कोविंद बेहद सरल स्वभाव के हैं। बिहार का राज्यपाल बनने के बाद भी झींझक में घर आकर परिवार का हालचाल लेते रहे। ऊंचे ओहदे पर पहुंचने के बाद भी क्षेत्रीय लोगों को नहीं भूले हैं। बताया कि 1991 में घाटमपुर संसदीय क्षेत्र से चुनाव हारने के बाद रामनाथ कोविंद उदास हो गए थे।

तब उन्होंने हौसलाअफजाई करते हुए राजनीति में बने रहने की बात कही थी। प्यारेलाल ने बताया कि वह परिवार के साथ शपथ ग्रहण समारोह में राष्ट्रपति भवन पहुंचे, तो छोटे भाई को राष्ट्रपति की शपथ लेते देख आंखों से आंसू छलक आए थे।

भाभी गंगाजली बताती हैं कि देवर रामनाथ कोविंद को कढ़ी व रसियाउर (गन्ने के रस में पका चावल) बहुत पसंद है। अक्सर वह यही खाते थे। फिलहाल उनकी सेहत ठीक नहीं है। अबकी बार घर नहीं आ पा रहे हैं। घर आते तो कढ़ी बनाकर खिलाती।
... और पढ़ें

कानपुर : तुलसी हॉस्पिटल के सीएमडी समेत तीन के खिलाफ एफआईआर दर्ज, मरीज से वसूले 19 लाख रुपये

कानपुर में कोरोना काल में उगाही, इलाज में लापरवाही से महिला की मौत के मामले में तुलसी अस्पताल के सीएमडी समेत तीन के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। किदवई नगर एच-ब्लॉक निवासी अतुल देव ने पुलिस को बताया कि सांस लेने में तकलीफ होने पर मां गीता गुप्ता (63) को तुलसी हॉस्पिटल में डॉ. आंचल कपूर को दिखाया था।

डॉक्टर ने उन्हें भर्ती कर लिया था। दो दिन बाद आईसीयू में शिफ्ट कर दिया। 23 अप्रैल की शाम डॉ. आंचल ने रेमडेसिविर इंजेक्शन तत्काल लगाने की बता कर हॉस्पिटल के सीएमडी शेखर गुप्ता से संपर्क करने की सलाह दी। आरोप है कि शेखर गुप्ता ने 55 हजार रुपये प्रति इंजेक्शन की दर से छह इंजेक्शन 3,30,000 रुपये के बेचे।

इंजेक्शन के रुपये नगद अस्पताल के डॉ. पुष्पेंद्र गुप्ता को देने को कहा। रुपये दे दिए गए। 16 मई को इलाज में लापरवाही से मां की मौत हो गई। पीड़ित के अनुसार अस्पताल में मां के भर्ती होने के दौरान करीब 19 लाख रुपये खर्च वसूला गया। और पैसे मंगाने के लिए प्रबंधन ने गालीगलौज व धमकी दी। पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने सीएमडी, डॉ. आंचल कपूर व डॉ. पुष्पेंद्र गुप्ता के खिलाफ गंभीर धाराओं में एफआईआर दर्ज कर ली है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us