लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Kanpur ›   Case of kidnapping and killing a teenager in Kanpur, there was a conspiracy to kill a friend

Kidnapping murder case: दोस्त को मारने की थी साजिश, हत्थे चढ़ गया सौरभ, पिता-पुत्र ने मिलकर दी दर्दनाक मौत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कानपुर Published by: हिमांशु अवस्थी Updated Fri, 30 Sep 2022 06:53 AM IST
सार

गंगा कटरी क्षेत्र में किशोर की हत्या के मामले में नया खुलासा हुआ है। अरोपी पिता ने बताया कि वो मृतक के दोस्त राकेश को मारना चाहते थे, लेकिन सौरभ हाथ आ गया। उसने कहा कि राकेश अक्सर बेटी से बात करता था, पर बच निकला।
 

मृतक के रोते हुए परिजन
मृतक के रोते हुए परिजन - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

कानपुर में गंगा कटरी के रामपुर गांव से अपहृत किशोर की हत्या के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। आरोपी के मुताबिक वे लोग सौरभ के दोस्त राकेश को मारना चाहते थे। राकेश उनकी बेटी से अक्सर बात करता था। बेटी का पीछा करते-करते जब मौके पर पहुंचे, तो राकेश वहां से भाग निकला।


चूंकि मौके पर सौरभ भी बेटी से बात करते मिला था, इस वजह से उसे पकड़ ले गए और हत्या कर दी। एसीपी कर्नलगंज ने बताया कि आरोपी उदन व उसके बेटे को जानकारी हुई थी कि गांव के राकेश से उसकी बेटी से बातचीत होती है। इसलिए वे राकेश से खुन्नस रखते थे।

मंगलवार रात को राकेश ने ही किशोरी को फोन कर बुलाया था। तभी दोनों ने राकेश को मारने की साजिश रची थी। इसी के चलते लोहे की रॉड, डंडा व असलहा लेकर बेटी का पीछा करते हुए मौके पर पहुंचे थे। तीन और लड़कों को देख हमला कर दिया।

राकेश, सनी व कौशल भाग निकले, लेकिन सौरभ के रॉड फेंककर मार दी। इससे वह गिर गया और आरोपियों के हत्थे चढ़ गया। पिता-पुत्र ने बेहरमी से उसकी हत्या कर दी। उदन वारदात को अंजाम देने के बाद घर पर ही था। बेटा सोनू फरार है। जब पुलिस ने दबिश, तो उदन बाहर आया। कहा कि उस पर जो आरोप लगाए गए हैं, फर्जी हैं।

‘राकेश को ले आओ, सौरभ को ले जाओ’
मंगलवार रात को राकेश, सनी व कौशल ने पूरी घटना सौरभ के परिजनों से बताई थी। इसके बाद परिजन बुधवार सुबह उदन के घर पहुंचे थे। एसीपी के मुताबिक उदन ने कहा कि सौरभ उसके पास है। राकेश को उनके हवाले कर दो और सौरभ को ले जाओ।

हालांकि वे लोग सौरभ की हत्या कर चुके थे। दो-तीन घंटे तक इसी तरह की बातचीत होती रही। इसके बाद परिजनों ने पुलिस से शिकायत की। पुलिस ने बताया कि आरोपी करे थाने लाकर पूछताछ की गई, तो भी कई घंटे तक जुबान नहीं खोली। सख्ती के बाद उसने वारदात कबूली। अब पुलिस फरार सोनू की तलाश कर रही है।

बेटे को बचाने में जुटा आरोपी
पुलिस के मुताबिक वारदात में उदन, उसका बेटा सोनू व एक अन्य शख्स शामिल है। हालांकि उदन का कहना है कि सौरभ को उसने अकेले ही मारा है। हालांकि जिस तरह हत्या कर शव को ठिकाने लगाया गया, वह अकेले संभव नहीं है। चश्मदीदों ने भी उसके बेटे को देखा है।
विज्ञापन

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00