बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
बुध का तुला राशि गोचर, जानें क्या होगा आपके जीवन पर प्रभाव
Myjyotish

बुध का तुला राशि गोचर, जानें क्या होगा आपके जीवन पर प्रभाव

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Digital Edition

खेत पर पानी देने गए ग्रामीण की गोली मारकर हत्या

कासगंज। अमांपुर के ग्राम सुजरई में खेत पर पानी देने गए किसान की अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने तहरीर के आधार पर अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
सुजरई निवासी हरपाल (62) पुत्र खूबीराम रविवार को दोपहर में अपने धान के खेत में पानी लगाने के लिए गया था। देर सांय तक जब वह वापस लौटकर नहीं आया तो उसका पुत्र अवधेश खेत पर उनको बुलाने के लिए चला गया। जब वह दिखाई नहीं दिए तो उसने खेत पर उनकी तलाश की। वहीं कुछ दूरी पर ही वह लहुलुहान अवस्था में पड़े दिखाई दिए। उनकी कनपटी पर गोली का निशान दिखाई दिया। उसने मामले की जानकारी परिजनों का दी। सूचना पर परिजन मौके पर आ गए।
काफी संख्या में ग्रामीण भी एकत्रित हो गए। परिजन उनको आनन-फानन में अस्पताल ले गए, लेकिन रास्ते में उनकी मौत हो गई। चिकित्सकों ने उनको मृत घोषित कर दिया। उनकी मौत होते ही परिजन चीत्कार कर उठे। घटना की सूचना पर कोतवाली पुलिस अस्पताल पर पहुंच गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। परिजनों ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी। पुलिस ने तहरीर के आधार पर मामला दर्ज कर लिया। कोतवाली प्रभारी मृदुल कुमार सिंह ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
... और पढ़ें

कन्नौज का रहने वाला निकला लावारिस बालक

कासगंज। रेलवे स्टेशन पर एक दिन पूर्व लावारिस घूमते मिला बालक कन्नौज का रहने वाला निकला। चाइल्ड लाइन ने उसके परिजनों को खोज निकला। बाल कल्याण समिति ने बालक को परिजनों के सुपुर्द कर दिया है।
रेलवे स्टेशन पर 18 सितंबर को आरपीएफ को बालक लावारिस घूमते मिला था। बालक ने अपना नाम बृजकिशोर तिवारी (15) पुत्र सुरेश तिवारी बताया था, लेकिन उसने अपना सही पता नहीं बताया। वह अपने को फर्रुखाबाद का रहने वाला बता रहा था। आरपीएफ ने बालक को चाइल्ड लाइन के सुपुर्द कर दिया।
चाइल्ड लाइन ने बालक के परिजनों की तलाश शुरू कर दी। काफी प्रयास के बाद उसके परिजनों को चाइल्ड लाइन ने तलाश लिया। बालक ग्राम नतौली थाना तिरउआ जिला कन्नौज का रहने वाला निकला। बाल कल्याण समिति ने बालक को परिजनों के सुपुर्द कर दिया। डायरेक्टर ने टीम को को 500 रुपये का पुरस्कार दिया।
डायरेक्टर हरिओम वर्मा ने बताया कि पूछताछ में बालक के एक पखवाडे़ से अपने घर से लापता होने की जानकारी सामने आई। कन्नौज में एक चाय विक्रेता उससे ट्रेन में मूंगफली की बिक्री कराता था। इस संबंध में पूरी जांच कराई जा रही है। कोऑर्डिनेटर प्रमोद कुमार, सदस्य महेश कुमार, कमलेश कुमार, अनीता पाल का सहयोग रहा।
... और पढ़ें

कासगंज: खेत पर पानी देने गए ग्रामीण की गोली मारकर हत्या से सनसनी, छानबीन में जुटी पुलिस

कासगंज जनपद में अमांपुर के ग्राम सुजरई में खेत पर पानी देने गए ग्रामीण की अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने तहरीर के आधार पर अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
घर वापस नहीं लौटा किसान
सुजरई निवासी हरपाल (62) पुत्र खूबीराम रविवार को दोपहर में अपने धान के खेत में पानी लगाने के लिए गया था। देर शाम तक जब वह वापस लौटकर नहीं आया तो उसका पुत्र अवधेश खेत पर उनको बुलाने के लिए चला गया। जब वह दिखाई नहीं दिया तो उसने खेत पर उनकी तलाश की। वहीं कुछ दूरी पर ही वह लहुलुहान अवस्था में पड़ा दिखाई दिया। उसकी कनपटी पर गोली का निशान दिखाई दिया। घटना की जानकारी परिजनों का दी गई।
अस्पताल ले गए परिजन
सूचना पर परिजन मौके पर आ गए। काफी संख्या में ग्रामीण भी एकत्रित हो गए। परिजन उसे अस्पताल ले गए, लेकिन रास्ते में उसकी मौत हो गई। अस्पताल में चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। परिजनों में चीत्कार मच गया। घटना की सूचना पर कोतवाली पुलिस अस्पताल पर पहुंची।
पुलिस ने मामला किया दर्ज
पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। परिजनों ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी है। पुलिस ने तहरीर के आधार पर मामला दर्ज कर लिया। कोतवाली प्रभारी मृदुल कुमार सिंह ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

ये भी पढ़ें:
सुशील हत्याकांड: सीसीटीवी फुटेज से मिले पुलिस को सुराग, दुकान के पास ही बैठे थे बदमाश
आगरा: खुद को आईएएस बताने वाले यात्री ने रोकी राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन, आरपीएफ कर्मियों को धमकाया, रिपोर्ट दर्ज
परेशानी: कच्चे माल की कीमतों में बढ़ोत्तरी से चूड़ी उद्योग पर महंगाई की मार, इन सामानों के अचानक बढ़े दाम
... और पढ़ें

अभिभावकों के खातों में भेजा जाएगा विद्यार्थी भत्ता, स्कूल ड्रेस, मीड-डे मिल से लेकर किताबों तक का खर्च शामिल

कासगंज। बेसिक शिक्षा विभाग के स्कूलों में विद्यार्थियों के लिए कक्षाएं संचालित हो रही है, लेकिन अभी तक ड्रेस उपलब्ध नहीं हो सकी है। ड्रेस को लेकर शासन से असमंजस की स्थिति बनी हुई थी। पहले निर्देश मिले कि अभिभावकों के खातों में धनराशि जाएगी फिर बाद में स्पष्ट हुआ कि धनराशि खातों में न भेजकर समूहों के माध्यम से ही ड्रेस का वितरण कराया जाएगा, लेकिन अब शासन ने स्पष्ट कर दिया है कि विद्यार्थी भत्ता अभिभावकों के बैंक खातों में भेजा जाएगा।
बेसिक शिक्षा विभाग के स्कूलों में विद्यार्थियों को नि:शुल्क ड्रेस, जूता-मोजा, पुस्तकें, पोषण के लिए मिड डे मिल भोजन मिलता है। सरकार की योजनाएं प्रभावी ढंग से स्कूलों में लागू की गई हैं। हर साल बेसिक शिक्षा विभाग के स्कूलों में ड्रेस का वितरण निजी संस्थाओं के माध्यम से कराया जाता था। जिससे कई बार ड्रेस वितरण को लेकर बेसिक शिक्षा विभाग के अफसरों पर सवाल उठते रहते थे।
ड्रेस विद्यार्थियों को मिल जाती थी, लेकिन भुगतान के लिए आपूर्तिकर्ता संस्थाएं परेशान रहती थीं, क्योंकि आपूर्ति के बाद किस्तों में विद्यालय के खाते में धनराशि भेजी जाती थी।। अब इस समस्या का समाधान हो गया है। अभिभावकों के खातों में ड्रेस की धनराशि पहुंचेगी। अध्यापक स्वयं जूते मोजे, ड्रेस खरीद सकेंगे। मानक भी शासन से तय किए जा रहे हैं।
दो साल से नहीं आई धनराशि
जिले के अधिकांश स्कूलों में दो साल से ड्रेस की पूरी धनराशि नहीं आई है। जिससे पूर्व में आपूर्तिकर्ता संस्थाओं को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।
इस बार शासन ने निर्णय लिया है कि ड्रेस की धनराशि सीधे अभिभावकों के खातों में भेजी जाएगी। इसको लेकर जिला स्तर पर अभिभावकों के खातों की फीडिंग करा दी गई है। शासन के निर्देश पर अग्रिम कार्रवाई होगी। खंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि खंड स्तर पर भी योजना का डाटा अपडेट रखें। - राजीव कुमार, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी।
... और पढ़ें

बुखार से बालक की मौत, 6 डेंगू पॉजिटिव मरीज मिले

कासगंज। बुखार से सहावर क्षेत्र में एक बालक की मौत हो गई। जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में 6 नए डेंगू मरीज चिह्नित किए गए। बुखार व डेेंगू से अब तक 46 लोगों की जान जा चुकी है। बुखार के प्रकोप से लोगों में दहशत का माहौल है।
सहावर के मोहल्ला काजी निवासी मोहम्मद सैफ (9) पुत्र बब्लू कुरैशी को तीन दिन पहले बुखार आया। बुखार के बाद परिजनों ने उसे निजी चिकित्सक को दिखाया। निजी चिकित्सक के यहां ही उसका इलाज चल रहा था। इलाज के बाद भी राहत नहीं मिल सकी। बुधवार को उसकी मौत हो गई। विभाग ने कलानी, विलौटी, भरगैन, मिलिक इलाही, मुदिया, बनियानी, राजेेपुर, नगला सेढू, सेवर, गनेशपुर, उस्मानपुर, फतेहपुर कला, खड़िया,बासपुरा, गदरपुरा, गोपालपुर, नगला कैया, सिरसौल, सिरावल, बहेड़िया, क्यामपुर ग्रामों में टीमों को भेजा। इन गांवों में जांच के दौरान 90 बुखार के मरीज मिले। जिससे बुखार से पीड़ित मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 825 हो गया। वहीं 90 मरीजों में डेंगू के लक्षण मिले। इनमें से 6 मरीज पॉजिटिव पाए गए।
स्वास्थ्य विभाग के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार टीमों को भेजा जा रहा है। टीमें मरीजों का इलाज करने के साथ ही दवा का छिड़काव भी कर रही है। इसके साथ ही जिन घरों में कूलर आदि में पानी भरा मिलता है उनको खाली करा दिया जाता है, जिससे मच्छर न पनप सकें। -डॉ. अनिल कुमार, सीएमओ।
... और पढ़ें

मासूम से दुष्कर्म करने का प्रयास, पड़ोसी है आरोपी, मुकदमा दर्ज

कासगंज। सहावर कस्बा के एक मोहल्ला में चार वर्षीय बालिका के साथ युवक ने दुष्कर्म करने का प्रयास किया। मामले में मां ने आरोपी युवक के खिलाफ दुष्कर्म के प्रयास एवं पॉक्सो एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है।
मोहल्ला में बालिका 17 सितंबर को अपने घर के बाहर खेल रही थी। तभी पड़ोस का ही एक युवक इकबाल बालिका को बहका कर अपने घर ले गया। जहां उसने बालिका के साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया। बालिका ने चीख पुकार शुरु कर दी। उसकी चीख पुकार की आवाज सुनकर आस-पास के लोगों को आता देख आरोपी मौके से भाग गया।
बालिका रोते अपने घर पहुंची। मां ने उसे रोने का कारण पूछा तो बालिका ने अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी। मां बच्ची को लेकर कोतवाली पहुंच गई। मां ने पुलिस को घटना के बारे में बताया। वहीं तहरीर आरोपी के युवक के खिलाफ थाने में दी। पुलिस ने मां की तहरीर पर आरोपी युवक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। कोतवाली प्रभारी राजकुमार सिंह ने बताया कि बालिका की मां की तहरीर के आधार रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। बालिका का चिकित्सा परीक्षण कराया जा रहा है। आरोपी की गिरफ्तार के लिए पुलिस दबिश दे रही है।
... और पढ़ें

सड़क दुर्घटना में बाइक सवार चाचा-भतीजे की मौत, ग्राम अख्तऊ के समीप ट्रैक्टर की चपेट में आए

सिढ़पुरा। मोहनपुर रोड पर ग्राम अख्तऊ के समीप ट्रेक्टर ने बाइक सवार चाचा भतीजा को टक्कर मार दी। जिससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। उनकी मौत से परिजनों में कोहराम मच गया। बताया गया कि चचेरी बहिन की दवा लेकर चाचा के साथ सहावर से वापस आते समय सड़क हादसा हुआ। पटियाली विधायक एवं उपजिलाधिकारी ने मौके पर पहुंचकर हादसे की जानकारी ली।
सड़क हादसे में मौत का शिकार भतीजा यशवीर (27) पुत्र छविराम एवं चाचा हरपाल (48) पुत्र भोजराज निवासी नगला कछियान हुए। यशवीर की चचेरी बहन की तबियत खराब थी। जिसकी दवा लेने के लिए यशवीर अपने चाचा हरपाल के साथ दवा लेने सहावर बाइक से गया हुआ था। जब दोनों सहावर से दवा लेकर वापस आ रहे थे तो अख्तऊ के समीप ट्रेक्टर ने उनमें टक्कर मार दी। जिससे दोनों ही मौके पर ही मौत हो गई। हादसे पर राहगीर और ग्रामीण एकत्रित हो गए।
पुलिस को भी सड़क हादसे की जानकारी दी। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने सड़क हादसे की जानकारी उनके परिजनों को दी। परिजन भी मौके पर पहुंच गए। उनके शवों को देखकर परिजनों में कोहराम मच गया। उनका रो रो कर बुरा हाल था। पटियाली विधायक ममतेश शाक्य, उपजिलाधिकारी रवेंद्र कुमार एवं सीओ आरके तिवारी ने मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी की। पुलिस ने मृतकों के शवों का पचंनामा भरने की कार्रवाई कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
हर संभव दी जाएगी मृतकों के परिजनों को मदद
पटियाली विधायक ममतेश शाक्य ने कहा कि मृतकों के परिजनों को हर संभव मदद की जाएगी। उपजिलाधिकारी रवेंद्र कुमार ने कहा कि कृषक दुर्घटना बीमा के अंतर्गत मदद की जाएगी। वहीं अन्य किसी लाभकारी योजना में शामिल हैं तो उसका भी लाभ परिजनों को दिलाया जाएगा। जितना जल्दी हो सकेगा परिजनों को मदद दी जाएगी।
... और पढ़ें

कासगंज: बेटे ने उजाड़ दिया मां की मांग का सिंदूर, संपत्ति के लिए पिता की गोली मारकर हत्या

कासगंज सिढ़पुरा क्षेत्र में हुए सड़क हादसे की सूचना पर पहुंचे विधायक ममतेश शाक्य, एसडीएम रवेंद्?
कासगंज जनपद में तीन दिन पहले अमांपुर थाना क्षेत्र के गांव सुजरई में किसान की हत्या के मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। बेटा ही पिता का हत्याका आरोपी निकला। संपत्ति के विवाद में बेटे ने पिता की हत्या कर शव धान के खेत में फेंक दिया था। पुलिस ने हत्यारे बेटे को गिरफ्तार कर पूंछतांछ के बाद जेल भेज दिया है। घटना रविवार देर रात की है। गांव सुजरई निवासी बुजुर्ग हरपाल सिंह (62) पुत्र खूबीराम की हत्या रात में की गई। सोमवार सुबह उनका शव धान के खेत में मिला। पुलिस अधीक्षक रोहन प्रमोद बोत्रे ने इस मामले में खुलासे के लिए टीमें लगाई। पुलिस को सफलता मिल गई। एएसपी अनिल कुमार ने बताया कि सीओ सहावर के नेतृत्व में अमांपुर पुलिस की टीम खुलासे में लगी हुई थीं। जांच में पता चला कि मृतक हरपाल का अपने पुत्रों से संपत्ति संबंधी विवाद चला आ रहा था। 
... और पढ़ें

सुन्नगढ़ी क्षेत्र में चारा लेने गई महिला से दुष्कर्म

कासगंज। सुन्नगढ़ी क्षेत्र के एक गांव में चारा लेने गई महिला से गांव के ही युवक ने दुष्कर्म कर दिया। पीड़िता की तहरीर के आधार पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।
महिला सोमवार को गांव में ही चारा लेने के लिए गई हुई थी। इसी बीच गांव का ही युवक डालचंद्र वहां पहुंच गया। महिला को अकेला देखकर उसकी नीयत खराब हो गई। उसने महिला को दबोच लिया और उसे बाजारा के खेत में खींच कर ले गया। महिला ने युवक के चंगुल से अपने को बचने के लिए काफी प्रयास किया लेकिन वह सफल नहीं हो सकी। युवक ने महिला के साथ दुष्कर्म किया। महिला ने अपनी मदद के लिए चीख पुकार मचाई। उसकी चीख सुनकर राहगीर एकत्रित हो गए। राहगीरों को आता देख आरोपी मौके से फरार हो गया। महिला ने घर पहुंचकर युवक की हरकतों के बारे मे परिजनों को जानकरी दी।
दुष्कर्म की बात सामने आने पर परिजनों में आक्रोश फैल गया। परिजनों ने थाने पहुंचकर आरोपी युवक के बारे में पुलिस को जानकारी दी। पुलिस को आरोपी को नामजद करते हुए तहरीर दी गई। तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।
... और पढ़ें

तर्पण और जलदान कर पितरों का किया भावपूर्ण स्मरण

सोरों(कासगंज)। मोक्षस्थली मानी जाने वाली तीर्थनगरी मे पितृपक्ष पर पितरों को जलदान करने का सिलसिला दूसरे दिन प्रतिपदा के श्राद्ध पर भी बना रहा। बड़ी संख्या में राजस्थान, एमपी, गुजरात, महाराष्टृ के अलावा जनपद के श्रद्धालुु बडी संख्या में अपने पितरों का स्मरण कर जलदान व तर्पण करने हरि की पौड़ी घाट पर पहुुंचे।
प्रतिपदा का श्राद्ध होने के कारण इस तिथि को दिवंगत हुए प्रियजनों का श्रद्धालुओं ने भावपूर्ण स्मरण किया तथा अपने तीर्थपुरोहितों से उनके मोक्ष की कामना के लिए विधिविधानपूर्वक पूजन कराने के बाद तर्पण व जलदान किया। बड़ी संख्या में श्रद्धालुु वराह घाट व लक्ष्मणजी वाले घाट पर तर्पण करने पहुुंचे। सुुबह से तर्पण का शुरू हआ सिलसिला दोपहर बाद तक अनवरत चलता रहा। शास्त्रधर्म के अनुसार श्राद्ध का पितरों के साथ अटूट संबंध है बिना पितरों के श्राद्ध की कल्पना नहीं की जा सकती। श्राद्ध पितरों को आहार पहुंचाने का माध्यम मात्र है। दिवंगत व्यक्ति के लिए जो श्रद्धा युक्त होकर जो तर्पण, पिंड दान आदि किया जाता है उसे श्राद्ध कहा जाता हैं।
श्राद्ध के देवता हैं वसु रुद्र और आदित्य
पंडित हेमंत त्रिगुणायत ने बताया कि श्राद्ध करते वक्त संकल्प व्यक्त किया जाता है कि मेरे वो पितर जो प्रेतरूप हैं, तिलयुक्त जौ के पिंडों से तृप्त हों। साथ ही सृष्टि में हर वस्तु ब्रहमा से लेकर तिनके तक चर हो या अचर हो मेरे द्वारा दिये जल से तृप्त हों। वसु, रूद्र और आदित्य श्राद्ध के देवता माने गए हैं। पंडित ओमप्रकाश पंडा ने बताया कि हर व्यक्ति के तीन पूर्वज पिता, दादा और परदादा क्रम से वसु, रूद्र और आदित्य के समान माने जाते हैं। श्राद्ध के वक्त वे ही अन्य सभी पूर्वजों के प्रतिनिधि माने जाते हैं। वे श्राद्ध कराने वालों के शरीर में प्रवेश करके और ठीक ढंग से रीति रिवाजों के अनुसार कराए गए श्राद्ध कर्म से तृप्त होकर वे अपने वंशधर को सपरिवार सुख समृद्धि व स्वास्थ्य का आशीर्वाद देते हैं।
... और पढ़ें

जानलेवा बुखार ने ली दो और बच्चों की जान

कासगंज/गंजडंडवारा। जानलेवा बुखार का प्रकोप जनपद के नए क्षेत्रों में फैलता जा रहा है। मंगलवार को ढोलना के इटउआ एवं गंजडुंडवारा के उस्मानपुर में एक एक बच्चे की बुखार से मौत हो गई।इन मौतों के बाद से परिजनों में कोहराम मच गया।
ढोलना के ग्राम इटउआ निवासी माधव (6) पुत्र योगेंद्र को 5 दिन पहले बुखार आया। इसके बाद परिजनों ने उसे निजी चिकित्सक को दिखाया, लेकिन राहत नहीं मिली। चिकित्सकों ने उसे बाहर ले जाने की सलाह दी। परिजन उसे आगरा ले गए। जहां उसने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। उसकी मौत होते ही परिजन चीत्कर कर उठे। गंजडुंडवारा के उस्मानपुर निवासी किशन (13) को तीन दिन पहले बुखार आया। परिजन उसे एटा ले गए। हालत में सुधार न आने पर परिजन उसे बरेली ले गए। जब राहत नहीं मिली तो चिकित्सकों ने उसे बाहर ले जाने की सलाह दी। इसके बाद परिजन उसे लखनऊ ले गए। जहां उसने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। उसकी मौत होते ही परिजन चीत्कार कर उठे।
वहीं गंजडुंडवारा के नेथरा में मुसाइद, नशीर, परवेज, हसीना, इतवारी, श्यामलाल, पप्पू, शेरसिंह बुखार की चपेट में है। इनका इलाज बदायूं में चल रहा है। वहीं बढ़ारी वैस की रोली, गौरी,रानामऊ की वर्षा, करमपुरा का आदेश बुखार की चपेट में आ गए। परिजन इनका इलाज के लिए जिला अस्पताल ले गए। जहां इनका इलाज चल रहा है। जिला में बुखार के प्रकोप से मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। अब तक 45 लोगों की मौत हो चुकी है, लेकिन विभाग बुखार, डेंगू, मलेरिया के बढ़ते प्रकोप पर अंकुश लगाने में विफल सावित हो रहा है।
स्कूल में कर दिया अवकाश घोषित
पटियाली। गंजडुंडवारा के उस्मानपुर निवासी किशन पटियाली के संत केएम इंटर कॉलेज में कक्षा 4 का छात्र था। बुखार से उसकी मौत की सूचना मिलते ही प्रबंधक श्याम किशोर ने अवकाश घोषित कर दिया। विद्यालय के शिक्षक शिक्षिकाओं, छात्र छात्राओं ने दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्घांजलि दी। संवाद
... और पढ़ें

हमें कर्तव्यों के प्रति वचनबद्धता को सिखाती हैं रामायण

पटियाली। तहसील रोड पर बने रामलीला मंच पर श्री आर्दश रामलीला सोसायटी के द्वारा श्रीराम लीला का आयोजन शुरु किया गया है। मुख्य अतिथि ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि व समाजसेवी नरेंद्र सिह चौहान, व्यापार मंडल के जिला उपाध्यक्ष चौधरी अरुण कुमार सर्राफ ने फीता काटकर व भगवान श्रीगणेश की पूजा-अर्चना कर श्रीरामलीला का शुभारंभ किया। भक्तों ने श्रीराम के जयकारे लगाए।
मुख्य अतिथि नरेंद्र ने कहा कि श्रीराम लीला केवल कथा नहीं हैं, अपितु जीवन का सार है। श्रीराम लीला हमें कर्तव्यों के प्रति वचन बद्धता को सिखाती है। भगवान श्रीराम का अपने भाइयों के प्रति स्नेह और माता सीता का चौदह वर्षो तक वनवास काटना यह सिखाता कि हम सबको मुसीबत के समय में भी एक दूसरे का साथ नही छोड़ना चाहिए।
कार्यक्रम अध्यक्ष वीरेंद्र कुमार गुप्ता सभासद ने कार्यक्रम में आए हुए सभी गणमान्य लोगों का आभार व्यक्त किया। इस दौरान सोसायटी के अध्यक्ष अनुराग पांडे, उपाध्यक्ष मनीष कुमार, सचिव नवनीत पांडे, कोषाध्यक्ष अजय राठौर, गौरव मिश्रा, बृजेश गुप्ता, डॉ. अमित कुमार मिश्रा, डॉ. अजय गुप्ता, गौरव मिश्रा, कुलदीप पांडेय, राम कुमार श्रोत्री, राजीव गुप्ता, सोनू, राहुल गुप्ता, बॉबी शर्मा, प्रवीण चंद पांडेय, रामजी श्रोत्रीय, सौरभ पांडेय, जगमोहन, कलेक्टर, अमर सिंह आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

पितृ पक्ष 2021: इस वर्ष 16 नहीं 17 दिनों तक होगा श्राद्ध कर्म, जानें तर्पण के लिए खास तिथियां

श्राद्ध पक्ष भाद्रपद शुक्ल पूर्णिमा से आश्विन कृष्ण अमावस्या तक 16 दिनों तक चलता है। हालंकि इस वर्ष 16 श्राद्ध 17 दिनों के हैं। सोमवार से पितृ पूर्णिमा से श्राद्ध पक्ष शुरू हो गए, जो 6 अक्टूबर को सर्व पितृ अमावस्या तक रहेंगे। ये सोलह दिन पितरों के ऋण चुकाने के दिन हैं। पितृ पक्ष में परिजनों की मृत्यु तिथि पर श्राद्ध व तर्पण करने से उनकी तृप्ति होती है। ज्योतिषाचार्य रामचंद्र शर्मा ने बताया कि इस वर्ष 26 सितंबर को कोई श्राद्ध कर्म नहीं होगा। 

धर्मशास्त्रीय मतानुसार श्राद्ध का समय अपरान्ह काल है। इस समय पितृ द्वार पर आते हैं। वायु पूराण के अनुसार इन सोलह दिनों में जो खाद्य पदार्थ आदि दिया जाता है वह अमृत रूप होकर पितरों को प्राप्त होता है। श्राद्ध में श्रद्धा, शुद्धता व पवित्रता जरूरी है।

पितरों का आलय है पितृ पक्ष 
ज्योतिषाचार्य ने बताया कि पितृ पक्ष में पितर पितृलोक से मनुष्य लोक में आशा लेकर आते हैं। यह देखते हैं कि उनके परिजन उनकी तिथि पर श्राद्ध कर्म करते हैं या नहीं। ऐसा वे अमावस्या तक देखते हैं। जो पितरों की तिथि अथवा अमावस्या पर श्राद्ध कर्म करते है वे उन्हें आशीर्वाद प्रदान कर चले जाते है। यह पक्ष पितरों का आलय कहलाता है। यह समय उनका सामूहिक पर्व भी माना जाता है। 
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X