बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
अपार धन की प्राप्ति हेतु कामिका एकादशी को कराएँ श्री लक्ष्मी-विष्णु जी का विष्णुसहस्त्रनाम-फ्री, रजिस्टर करें
Myjyotish

अपार धन की प्राप्ति हेतु कामिका एकादशी को कराएँ श्री लक्ष्मी-विष्णु जी का विष्णुसहस्त्रनाम-फ्री, रजिस्टर करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

हम जनता के कर्जदार, समय आ गया है ब्याज समेत कर्ज चुकाया जाए: केशव

तथागत बुद्ध की तपस्थली कौशाम्बी के कोसम इनाम में बृहस्पतिवार को सूबे के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने यमुना नदी पर बनाए जाने वाले पुल व जिले से प्रयागराज को जोड़ने वाली फोरलेन सड़क का शिलान्यास किया। डिप्टी सीएम ने कहा कि बसपा सरकार के कार्यकाल में कौशाम्बी को जिला तो बनाया गया लेकिन न तो खुद बसपा और न ही सपा सरकार ने तपस्थली को संवारने, संजोने की दिशा में कोई सार्थक प्रयास नहीं किया।

 उपमुख्यमंत्री ने कहा कि वह जिले के लिए न तो नेता है और न ही डिप्टी सीएम। भाजपा का एक कार्यकर्ता हूं और कौशाम्बी का बेटा। जिले की जनता ने एक सांसद व तीन विधायक जिताकर सदन भेजा है। इसके लिए हम जनता के कर्जदार हैं। अब समय आ गया है कि यह कर्ज ब्याज समेत वापस किया जाए। सदर विधायक ने कोसम इनाम में वृहद गोसंरक्षण केंद्र बनाए जाने की मांग की तो डिप्टी सीएम ने कार्यक्रम में मौजूद जनता से पूछा।

जनता ने वृहद गोसंरक्षण बनाने के लिए जवाब हां में आया तो डिप्टी सीएम ने डीएम को कार्ययोजना तैयार करने का निर्देश दिया। डिप्टी सीएम ने कहा कि जिले के विकास के लिए कई परियोजनाएं तैयार की गईं हैं। कौशाम्बी को विश्व के पर्यटन स्थलों में शामिल किया जाएगा। इससे रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। इस मौके पर सदर विधायक लाल बहादुर, चायल विधायक संजय गुप्ता, भाजपा जिलाध्यक्ष अनीता त्रिपाठी, पूर्व जिलाध्यक्ष उदयन सिंह, विकास उर्फ पिंटू द्विवेदी, अकबर सिंह, नीतू चौबे, गंगा शरण मिश्र समेत तमाम भाजपा कार्यकर्ता एवं ग्रामीण मौजूद रहे।
... और पढ़ें

पुलिस से सम्मानित मार्शल आर्ट का ट्रेनर निकला दुष्कर्म का आरोपी

जिले के विभिन्न स्कूलों में मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग देने वाला कथित दिव्यांग शिक्षक दुष्कर्म और अपहरण का आरोपी निकला। बृहस्पतिवार को छत्तीसगढ़ से आई पुलिस ने एसओजी की मदद से उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के यहां से छत्तीसगढ़ से भगाई गई नाबालिग लड़की बरामद हुई है। हालांकि किशोरी एक बच्चे की मां भी बन चुकी है। पुलिस सभी को अपने साथ ले गई है।

कोखराज कोतवाली के भदवां गांव का एक व्यक्ति दिव्यांग है। वह मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग देता है। वह कई साल से छत्तीसगढ़ में रह रहा था। इस दौरान उसने एक नाबालिग लड़की को प्रेमजाल में फंसाया और शादी का झांसा देकर अपने साथ कौशाम्बी भगा ले आया। किशोरी के लापता होने के बाद उसके घरवालों ने छत्तीसगढ़ में रिपोर्ट दर्ज कराई। इस दौरान आरोपी का मोबाइल स्विच ऑफ हो गया। काफी प्रयास के बाद भी पुलिस उसकी लोकेशन ट्रेस नहीं कर पा रही थी। इस बीच किशोरी ने एक बच्चे को जन्म दिया। पिछले दिनों किशोरी ने यह खुशखबरी अपनी बहन को फोन पर दी तो परिजनों को उसकी जानकारी हुई।

घरवाले खोजबीन करते हुए जिले में आए लेकिन आरोपी के घर में बाहर से ताला बंद मिला। इस पर परिवार के लोगों ने छत्तीसगढ़ पुलिस से संपर्क किया। सूचना पर बुधवार को छत्तीसगढ़ पुलिस मौके पर पहुंची और एसपी राधेश्याम से मुलाकात कर गिरफ्तारी में मदद मांगी। एसपी के निर्देश पर एसओजी प्रभारी संजय गुप्ता आरोपी की गिरफ्तारी के लिए लगाए गए। बृहस्पतिवार को एसओजी के संयुक्त प्रयास से आरोपी गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने किशोरी को भी बरामद कर लिया है। पुलिस उसे अपने साथ छत्तीसगढ़ ले गई है। यह वही आरोपी ट्रेनर है जिसे पुलिस विभाग की तरफ से पिछले एक साल में चार बार सम्मानित किया जा चुका है।- छत्तीसगढ़ से एक साल पहले नाबालिग को किया था अगवा

एसओजी की मदद से छत्तीसगढ़ पुलिस ने की गिरफ्तारी
जिले के विभिन्न स्कूलों में मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग देने वाला कथित दिव्यांग शिक्षक दुष्कर्म और अपहरण का आरोपी निकला। बृहस्पतिवार को छत्तीसगढ़ से आई पुलिस ने एसओजी की मदद से उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के यहां से छत्तीसगढ़ से भगाई गई नाबालिग लड़की बरामद हुई है। हालांकि किशोरी एक बच्चे की मां भी बन चुकी है। पुलिस सभी को अपने साथ ले गई है।

कोखराज कोतवाली के भदवां गांव का एक व्यक्ति दिव्यांग है। वह मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग देता है। वह कई साल से छत्तीसगढ़ में रह रहा था। इस दौरान उसने एक नाबालिग लड़की को प्रेमजाल में फंसाया और शादी का झांसा देकर अपने साथ कौशाम्बी भगा ले आया। किशोरी के लापता होने के बाद उसके घरवालों ने छत्तीसगढ़ में रिपोर्ट दर्ज कराई। इस दौरान आरोपी का मोबाइल स्विच ऑफ हो गया। काफी प्रयास के बाद भी पुलिस उसकी लोकेशन ट्रेस नहीं कर पा रही थी। इस बीच किशोरी ने एक बच्चे को जन्म दिया।

पिछले दिनों किशोरी ने यह खुशखबरी अपनी बहन को फोन पर दी तो परिजनों को उसकी जानकारी हुई। घरवाले खोजबीन करते हुए जिले में आए लेकिन आरोपी के घर में बाहर से ताला बंद मिला। इस पर परिवार के लोगों ने छत्तीसगढ़ पुलिस से संपर्क किया। सूचना पर बुधवार को छत्तीसगढ़ पुलिस मौके पर पहुंची और एसपी राधेश्याम से मुलाकात कर गिरफ्तारी में मदद मांगी। एसपी के निर्देश पर एसओजी प्रभारी संजय गुप्ता आरोपी की गिरफ्तारी के लिए लगाए गए। बृहस्पतिवार को एसओजी के संयुक्त प्रयास से आरोपी गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने किशोरी को भी बरामद कर लिया है। पुलिस उसे अपने साथ छत्तीसगढ़ ले गई है। यह वही आरोपी ट्रेनर है जिसे पुलिस विभाग की तरफ से पिछले एक साल में चार बार सम्मानित किया जा चुका है।
... और पढ़ें

प्रयागराज से कौशाम्बी तक बनेगी फोरलेन सड़क, योगी सरकार ने दी मंजूरी

उत्तर प्रदेश सरकार की कैबिनेट मंत्रिपरिषद ने लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के 2018 में एक ऐतिहासिक घोषणा को अमलीजामा देते हुए 808.94 करोड़ रुपए की फोर लेन प्रयागराज मुख्यालय रेलवे स्टेशन प्रयागराज एयरपोर्ट से होकर लगभग 42 किमी कौशांबी पर्यटन स्थल को 18 माह में जोड़ने की स्वीकृति प्रदान की।

कौशांबी पर्यटन स्थल बौद्ध एवं जैन धर्म लोगों का ऐतिहासिक व पौराणिक केंद्र है जहाँ लाखों पर्यटकों का आवागमन बनना रहता है सीधा और सुगम मार्ग न होने से पर्यटकों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। विगत दिनों मुख्यमंत्री ने विधानसभा शहर पश्चिमी में लगभग 284 करोड़ रुपए की जी.टी. रोड से एयरपोर्ट रोड निकट सूबेदार गंज रेलवे स्टेशन पर 4 लेन उपरिगामी सेतु एवं जी.टी. रोड जंक्शन पर चौफटका से कानपुर की तरफ 2 लेन फ्लाई ओवर की स्वीकृति प्रदान किया था।

प्रयागराज और कौशांबी वासियों को लगभग 808 करोड़ फोर लेन सड़क की एक और सौगात मिलने से प्रयागराज मुख्यालय,रेलवे स्टेशन,चौपटका, राजरूपपुर, कालिंदीपुरम,झलवा, पीपलगांव, ट्रिपल आईटी संस्थान, देवघाट झलवा,एयरपोर्ट होकर भगवतपुर से सीधा कौशांबी बौद्ध पर्यटन स्थल जुड़ने पर स्थानीय निवासियों के साथ लाखों संख्या में आने वाले पर्यटकों को  आवागमन में सुगमता हो जाएगी। फोर लेन लगभग 22 किमी शहर पश्चिमी क्षेत्र में गुजरेगा जिससे भगवतपुर विकास खण्ड और एयरपोर्ट से सीधा प्रयागराज मुख्यालय एवं कौशांबी पर्यटन स्थल जुड़ जाएगा।

फोर लेन सड़क से शहर पश्चिमी में नए होटलों एवं कौशल केंद्रों व अन्य विकास के साथ साथ व्यापार व्यापक स्तर पर बढ़ेंगे, एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन तक सुगमता होने पर पर्यटकों की संख्या बढ़ने से साथ रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।पर्यटन क्षेत्र में अपार रोजगार से युवाओं को लाभ मिलेगा। विधानसभा शहर पश्चिमी क्षेत्र में नए उद्योगों के स्थापित होने एवं व्यापार में गति मिलने से क्षेत्र में नई क्रांति आएगी। 18 माह में फोरलेन सड़क निर्माण होकर शहर पश्चिमी के साथ कौशांबी के युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे।

इस मौके पर उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता एवं शहर पश्चिमी विधायक व कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ एवं मंत्रीपरिषद तथा विभागीय मंत्री डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का आभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद ज्ञापित किया और कहा शहर पश्चिमी में विकास के नई ऊंचाइयों को मजबूती देने के लिए कृतसंकल्पित हूँ।मैंने शहर और ग्रामीण क्षेत्रों को जोड़कर विकास का नया आयाम देने का प्रयास किया है।
... और पढ़ें

कौशाम्बी : किशोरी से गैंगरेप के तीनें आरोपी गिरफ्तार

पिपरी कोतवाली इलाके में शनिवार को शौच के लिए खेत गई किशोरी के साथ गैंगरेप के तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने 12 घंटे के अंदर वारदात के खुलासे का दावा किया। पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ रविवार को लिखापढ़ी कर उनका चलान कोर्ट भेजा गया। जहां से सभी को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया।

रविवार को पुलिस ऑफिस में एएसपी समर बहादुर व सीओ चायल श्यामकांत ने संयुक्त रूप से प्रेसवार्ता कर बताया गया कि पिपरी कोतवाली इलाके की एक किशोरी ने शनिवार शाम बताया कि वह गांव के बाहर शौच के लिए गई थी। इस दौरान रेही गांव के खुस्सू उर्फ सूरज यादव और बूंदा गांव के अमला और मिट्ठू ने उसे पकड़ लिया और सूनसान स्थान में ले जाकर दुष्कर्म किया। किशोरी ने बताया कि वह सभी आरोपितों को पहचानती है।

इस पर सक्रिय हुई पुलिस ने पुलिस ने किशोरी की मां से तहरीर लेकर आरोपियों की तलाश में छापेमारी करने लगी। रविवार को नामजद सभी आरोपी गांव के बाहर से पकड़े गए। पुलिस की पूछताछ में उन्होंने अपना जुर्म कुबूल किया। इस मामले में सभी का चलान किया गया है। अदालत ने सभी को जेल भेज दिया है।

नहाने के बाद कोतवाली पहुंची थी किशोरी
गैंगरेप की पीड़िता किशोरी के मुताबिक घटना के बाद वह सीधे घर पहुंची और नहाने के बाद उसने वारदात स्थल पर पहने अपने कपड़ों को धुल डाला। इसके बाद उसने अपनी मां से घटना के बारे में बताया। दरअसल किशोरी का पिता मुंबई में रहता है, इसलिए मां ने ही पुलिस को घटना की जानकारी दी। पुलिस विभाग से जुड़े सूत्रों की मानें तो कपड़े धुले जा चुके थे, इस वजह से उन्हें डीएनए जांच के लिए नहीं भेजा जा सका है।

पुलिस टीम की गई सम्मानित
एएसपी समर बहादुर ने बताया कि गैंगरेप का यह मामला पुलिस के लिए चुनौती भरा था। घटना की जानकारी मिलने के बाद सीओ चायल श्यामकांत के नेतृत्व में इंस्पेक्टर पिपरी राधेश्याम वर्मा, लोधौर चौकी प्रभारी मनोज तोमर, चायल चौकी के प्रभारी विजेंद्र सिंह, व आरक्षी अखिलेश्वर कुमार, योगेश कुमार, बृजेश कुमार, मनोज यादव, विंदा चरण, नवीन कुमार को लगाया गया था। पुलिस टीम के अथक प्रयास से घटना का जल्द ही खुलासा कर लिया गया। गिरफ्तारी में शामिल पुलिस टीम को पुरस्कृत किया जाएगा।
... और पढ़ें
arrest arrest

विद्युत उपकेंद्र सरायअकिल से जुड़े 150 गांवों की 18 घंटे गायब रही बिजली

शनिवार की रात हुई मूसलाधार बारिश के दौरान जगह-जगह फाल्ट होने के कारण विद्युत उपकेंद्र सरायअकिल से जुड़े तकरीबन डेढ़ सौ गांवों की बत्ती गुल हो गई। रविवार को प्राइवेट कर्मचारी दिनभर फाल्ट दुरुस्त करने के लिए पसीना बहाते रहे। करीब 18 घंटे बाद रात लगभग आठ बजे बिजली आपूर्ति सामान्य हो सकी। आरोप है कि विद्युत उपकेंद्र के जेई गायब रहते हैं और फोन भी नहीं रिसीव करते हैं। इससे ग्रामीणों में नाराजगी है।

शनिवार देर रात मूसलाधार बारिश शुरू होने के साथ ही सरायअकिल और कटरा विद्युत उपकेंद्र से जुड़े म्योहर गाड़रियन का पुरवा, लक्ष्मणपुर, म्योहरिया, बैरागीपुर सांडवा, टिकरी समेत तकरीबन डेढ़ सौ गांवों की बिजली गुल हो गई। रात किसी तरह गुजारने के बाद रविवार सुबह लोगों ने विद्युत उपकेंद्र के अवर अभियंता को फोन करना शुरू किया।

म्योहर गांव के श्रीनाथ, रामदीन, अशोक आदि का आरोप है कि जेई फोन ही नहीं रिसीव कर रहे थे। उपकेंद्र पहुंचने पर भी उनका अता-पता नहीं चला। उपकेंद्र पर मौजूद प्राइवेट विद्युतकर्मियों ने बताया कि बारिश में जर्जर तारें जगह-जगह टूटकर गिर गई हैं। इसके कारण सप्लाई बाधित हुई। प्राइवेट कर्मी दिनभर फाल्ट दुरुस्त करने के लिए पसीना बहाते रहे। रात तकरीबन आठ बजे विद्युत सप्लाई बहाल होने पर ग्रामीणों ने राहत महसूस किया।
... और पढ़ें

ज्यादा खाद लेने पर अब देनी होगी खतौनी

खाद की कालाबाजारी रोकने के लिए इस बार सहकारिता विभाग ने पहल की है। अगर किसी किसान को एक से दो बोरी यूरिया या डीएपी की जरूरत है तो वह समितियों में अपना आधार कार्ड दिखाकर प्राप्त कर सकता है। इससे ज्यादा उर्वरक लेने के लिए खेत की खतौनी के साथ आधार कार्ड भी लाना होगा।

पिछले साल गेहूं की फसल के दौरान जिले में खासतौर पर यूरिया का संकट खड़ा हो गया था। जबकि आंकड़ों में जिस हिसाब से गेहूं की खेती कराई गई थी उससे कहीं ज्यादा सहकारी समितियों से उर्वरक का वितरण कराया जा चुका था। बाद में विभाग ने फिर से यूरिया की रैक मंगवाई। इस बार उर्वरक संकट से निपटने के लिए सहकारी विभाग ने पहले से ही कमर कस ली है।

एआर कोऑपरेटिव अजीत कुमार का कहना है कि जिले के किसानों को धान की फसल में किसी तरह से उर्वरक की दिक्कत नहीं होने पाएगी। समितियों के जिम्मेदारों को निर्देश दिया गया है कि अगर कोई किसान एक से दो बोरी खाद मांगता है तो उससे आधार कार्ड जरूर लें। अगर कोई खुद को बड़ा काश्तकार बताते हुए ज्यादा उर्वरक की मांगता करता है तो आधार कार्ड के साथ उस किसान को अपने खेतों की खतौनी भी देनी होगी।
... और पढ़ें

14 हजार बेरोजगारों में सिर्फ 45 युवकों को मिली नौकरी

जिले का सेवायोजन दफ्तर युवाओं को रोजगार मुहैया कराने में नाकाम साबित हो रहा है। वित्तीय वर्ष के चार माह में सिर्फ एक ऑनलाइन मेले का ही आयोजन किया जा सका है। इसमें 45 बेरोजगारों को रोजगार मिल सका। जबकि जनपद में पंजीकृत बेरोजगारों की संख्या करीब 14 हजार है। कोरोना काल में शिक्षित बेरोजगारों की फौज रोजगार की तलाश में भटक रही है।

वैश्विक महामारी कोरोना के कारण महानगरों को जाने वाली ट्रेनों की संख्या पहले के मुकाबले कम हो गई है। रिजर्वेशन पाने के लिए लोगों को लंबे समय इंतजार करना पड़ रहा है। संक्रमण के चलते घर लौट चुके कामगारों को रोजगार तलाशने में परेशानी हो रही है। उन्हें अंदेशा है कि जहां वे काम करते थे वहां दोबारा जाने पर काम नहीं मिला तो फिर किन साधनों से दूसरे महानगरों में रोजगार तलाशने जाएंगे।

ऐसे युवाओं की मदद के लिए बना सेवायोजन विभाग जिले में नाकाम साबित हो रहा है। विभागीय पोर्टल पर फिलहाल जिले के 14362 शिक्षित बेरोजगारों ने पंजीकरण करा रखा है। इन युवाओं को रोजगार मुहैया कराने के लिए लगभग हर महीने मेले का आयोजन करने का प्रावधान है, लेकिन जिले में वित्तीय वर्ष के चार माह में सिर्फ एक ऑनलाइन रोजगार मेले का ही आयोजन किया जा सका है। विभागीय आंकड़ों के मुताबिक इस मेले के जरिए 45 युवाओं को विभिन्न कंपनियों में नियुक्ति दिलाई गई है। समय-समय पर रोजगार मेले का आयोजन नहीं किए जाने से जिले के युवा मायूस हैं।

वहीं जिला सेवा योजन अधिकारी गौतम घोष का कहना है कि कोरोना के चलते सिर्फ एक रोजगार मेला ही लगवाया जा सका है। जल्द ही इसी माह दूसरा मेला लगवाया जाएगा। इसमें ज्यादा से ज्यादा युवाओं को रोजगार दिलाने का प्रयास किया जाएगा।
... और पढ़ें

बम्हरौली से मंझनपुर तक बिछेगी गैस पाइप लाइन

सस्ती, सुरक्षित और प्रदूषण मुक्त गैस के लिए अब बम्हरौली से मंझनपुर तक स्टील गैस पाइप लाइन बिछाई जाएगी। 42 किमी लंबी लंबी पाइप लाइन बिछाने की शुरुआत इंडियन ऑयल-अडानी गैस ग्रुप की ओर से बम्हरौली से की गई। इसी के साथ अंडरग्राउंड पीएनजी पाइप लाइन बिछाने का काम शुरू हो गया। प्रयागराज से लेकर कौशाम्बी तक के एक लाख से अधिक की आबादी इस परियोजना से लाभान्वित होगी। जल्द ही शहर के अन्य इलाके भी पीएनजी से जुड़ जाएंगे।

इंडियन ऑयल अडानी गैस की ओर से 25 करोड़ रुपयेे की लागत से नई पीएनजी पाइप लाइन बिछाने का काम शुरू कर दिया गया हैै। यह पाइप लाइन बम्हरौली, बेगम बाजार, भगवतपुर, सूबेदारगंज,सल्लाहपुर, तिवारी तालाब से होकर गुजरेगी। इसके आगे पूरामुफ्ती, मूरतगंज, भरवारी से मंझनपुर तक इसे ले जाया जाएगा। इस परियोजना को लेकर अफसर उत्साहित हैं।
... और पढ़ें

एसपी बोले, जज पर हमला नहीं हुआ, दुर्घटनाग्रस्त हुई थी कार

कोखराज कोतवाली के चाकवन के पास एक दिन पहले फतेहपुर में नियुक्त अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश (एडीजे) मो. अहमद खान की गाड़ी को टक्कर मारे जाने की घटना को एसपी ने महज एक हादसा बताया है। मामले की जांच पड़ताल के बाद यह बात खुद जिले के एसपी ने कही। उनका कहना है कि घटना की जांच में पाया गया कि ओवरटेक करने के चक्कर में इनोवा सवार ने एडीजे की कार में टक्कर मारी थी। 

फतेहपुर जिले में नियुक्त अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश मो. अहमद खान बृहस्पतिवार को प्रयागराज गए थे। शाम को वह अपनी कार से गनर समेत फतेहपुर लौट रहे थे। चाकवन के समीप उनकी कार में तेज रफ्तार इनोवा ने टक्कर मार दी, जिसमें वह गनर समेत जख्मी हो गए। इसके बाद उनकी ओर से पुलिस को दी गई तहरीर में आरोप लगाया गया कि हत्या के उद्देश्य से उनकी कार में टक्कर मारी गई।

यह भी बताया कि बरेली जिले में तैनाती के दौरान भी उन्हें जान से मारने की धमकी मिल चुकी है। तहरीर मिलने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मचा तो अफसर जांच में जुट गए। कौशाम्बी के एसपी राधेश्याम का कहना है कि घटना सिर्फ एक हादसा थी। अन्य किसी तरह की बात सामने नहीं आई है। इसके बाद खुद टक्कर मारने वाली इनोवा के चालक ने अपनी गलती मानी और उन्हें अपनी गाड़ी में लेकर फतेहपुर पहुंचाने गया।
... और पढ़ें

कौशांबी में बागवानी की रखवाली कर रहे किसान की गोली मारकर हत्या, महिला गंभीर रूप से घायल

कौशाम्बीः शराब के नशे में धुत युवक ने बेटे को गला घोटकर मार डाला

कोखराज कोतवाली के कशिया गांव में बृहस्पतिवार दोपहर एक नशेड़ी ने अपने 13 वर्षीय बेटे की गला घोटकर हत्या कर दी। वारदात के बाद आरोपी पिता बदहवाश शव के पास बैठा रहा। सूचना पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

कशिया गांव का शंभूलाल दोना पत्तल बनाकर परिवार का भरण-पोषण करता है। शंभूलाल कशिया पेट्रोल पंप के समीप अपनी पत्नी व आठ बच्चों के साथ रहता है। शंभू को शराब पीने की लत है। इसी वजह से अक्सर घर में पत्नी से विवाद होता रहता है। बृहस्पतिवार दोपहर भी शंभू शराब पीकर घर पहुंचा और पत्नी से विवाद करने लगा। उसने पत्नी को पीटना शुरू कर दिया। मां को पिटता देख शंभू का 13 वर्षीय बेटा पंचू बीचबचाव के लिए पहुंचा। इस पर शंभू ने उसका गला दबा दिया। घटना में पंचू की मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद शंभू बदहवाश हालत में वहीं पर ही बैठा रहा।

परिवार के लोग पंचू के शव के पास रोते रहे लेकिन शंभू के आंख से आंसू तक नहीं टपके। मोहल्ले वालों की सूचना पर कोखराज पुलिस भी आ गई। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। हत्यारोपी शंभू को गिरफ्तार कर लिया गया है। सीओ सिराथू योगेंद्र कृष्ण नारायण सिंह का कहना है कि शंभू नशेड़ी प्रवृत्ति का है। वह अपनी पत्नी से विवाद कर रहा था। बेटा बीचबचाव के लिए पहुंचा तो उसने उसे मार डाला। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।
... और पढ़ें

सावन के पहले सोमवार के मौके पर श्रद्धालुओं ने गंगा में लगाई डुबकी

सावन के पहले सोमवार को जिले के शिव मंदिरों में श्रद्धालुओं ने पूजा-अर्चना के साथ जलाभिषेक किया। मंदिरों में घंटा-घड़ियाल के साथ हर-हर, बम-बम के जयकारे दिनभर गूंजते रहे। इसके अलावा गंगा के घाटों पर श्रद्धालुओं ने डुबकी लगाई। तमाम भक्तों ने घरों में रुद्राभिषेक भी कराया। सावन का महीना भगवान भोलेनाथ का सबसे प्रिय महीना है। इस महीने भगवान भोलेनाथ की पूजा करने वाले की मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती है। सावन के महीने में सोमवार का विशेष महत्व होता है।

25 जुलाई से सावन का महीना शुरू हो गया है। 26 जुलाई को सावन का पहला सोमवार था। इस दिन सुबह से ही भक्तों का शिवालयों में तांता लगा रहा। सुबह से लेकर शाम तक बोल बम के जयघोष से शिव मंदिर गूंजते रहे। हालांकि वैश्विक महामारी कोरोना के चलते प्रशासन ने शिवालयों में भक्तों को इकट्ठा नहीं होने दिया। लोगों ने दो गज की दूरी के साथ सुबह से लेकर शाम तक पूजा अर्चना की। वहीं तमाम श्रद्धालुओं ने घरों में रुद्राभिषेक कर भगवान शिव की पूजा की।

भगवान शिव का भक्तों ने जल, दूध, दही, शुद्ध, घी, शहद, चीनी, गंगाजल तथा गन्ने के रस आदि से स्नान कराकर विशेष पूजन किया। मंझनपुर के बड़ा शिवाला, करारी कृष्णा नगर, सोनारन टोला के शिव मंदिर, कड़ा धाम के कालेश्वर मंदिर, तिल्हापुर गांव स्थित ब्रह्मचारी मंदिर आदि मंदिरों में दिनभर भक्तों को पूजा पाठ करते देखा गया। इससे पहले सुबह गंगा के संदीपन, कड़ा के कुबरीघाट, कालेश्वर घाट आदि घाटों पर पहुंचकर श्रद्धालुओं ने गंगा में डुबकी लगाई। वहीं बहुत सारे शिव भक्तों ने सोमवार को व्रत भी रखा।

महाकालेश्वर मंदिर में भक्तों ने किया जलाभिषेक
इलाके के कड़ा सहित अन्य शिवालयों में सावन के पहले सोमवार को भक्तों ने पूजा की। मंदिरों में सुबह से ही हर हर महादेव के जयकारे लगते रहे। भगवान शिव को भक्तों ने फूल, बेलपत्र, भांग, धतूरा, चावल आदि से शृंगार किया। कड़ा के कालेश्वर घाट में गंगा स्नान करने के बाद महाकालेश्वर मंदिर में भक्तों ने गंगा जल से अभिषेक किया।

मुझमें कोई छल नहीं, तेरा कोई कल नहीं
म्योहर के नाग नागेश्वर धाम मंदिर भी सोमवार को जयकारे से गूंजता रहा। मंदिर परिसर में केशव देवी पब्लिक स्कूल के प्रबंधक शिव सागर सिंह परिवार के साथ धूप, दीप, फल-फूल, माला आदि के साथ भगवान शिव की पूजा की। इसके बाद परिसर में प्रसाद भी वितरित किया गया। पूजा के दौरान सभी के उन्नति, स्वास्थ्य एवं कल्याण सहित कोरोना महामारी से मुक्ति के लिए प्रार्थना की गई।
... और पढ़ें

दो दिन से लापता बच्चे का तालाब में मिला शव

दो दिन पहले संदिग्ध हालत में लापता एक बच्चे का तालाब में शव मिला। इससे परिजनों की रो-रोकर हालत खराब हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पश्चिमशरीरा कोतवाली के चांदराई गांव का रहने वाला भीम अपनी पत्नी सुशीला व बेटे कृष्ण कुमार (5) के साथ परिवार से अलग रहता था। भीम फेरी करता है।

शनिवार को वह काम से घर लौटा तो पत्नी ने उसे कृष्ण के लापता होने की जानकारी दी। भीम ने गांव व रिश्तेदारी में खोजबीन की, लेकिन वह कहीं नहीं मिला। भीम ने बेटे के अपहरण की तहरीर दी। रविवार को पुलिस ने जांच के बाद मामला दर्ज कर लिया। सोमवार को कृष्ण का गांव के तालाब में शव मिला। इस बाबत प्रभारी थानाध्यक्ष मुनेश गौतम ने बताया बच्चे का शव गांव के तालाब में मिला है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण स्पष्ट होने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। संवाद
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us