लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Kaushambi ›   Advocates locked in Manjhanpur tehsil and registry office in protest against increasing the circuit rate

kaushambi :  सर्किट रेट बढ़ाने के विरोध में अधिवक्ताओं ने मंझनपुर तहसील व रजिस्ट्री दफ्तर में जड़ा ताला

अमर उजाला नेटवर्क, कौशांबी Published by: विनोद सिंह Updated Thu, 29 Sep 2022 06:48 PM IST
सार

जिला प्रशासन ने करीब 20 दिन पहले जिले की जमीनों का सर्किल रेट बढ़ा दिया है। नए सर्किल रेट की सूची सार्वजनिक होते ही तहसीलों के अधिवक्ता विरोध में उतर आए। बढ़ा सर्किल रेट वापस लेने की मांग को लेकर 18 दिन से अधिवक्ता न्यायिक कार्य से विरत रहते हुए रोजाना धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं।

Kaushambi :  सर्किट रेट बढ़ोत्तरी के विरोध में प्रदर्शन करते अधिवक्ता।
Kaushambi : सर्किट रेट बढ़ोत्तरी के विरोध में प्रदर्शन करते अधिवक्ता। - फोटो : Kaushambi
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

जमीनों के सर्किल रेट में वृद्घि के विरोध में तहसीलों के वकील पखवाड़े भर से हड़ताल कर रहे हैं। बृहस्पतिवार को मंझनपुर तहसील के नाराज वकीलों ने तहसील के मुख्य गेट व उपनिबंधक कार्यालय में ताला जड़कर जोड़दार विरोध किया। इस दौरान वकीलों ने प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।




जिला प्रशासन ने करीब 20 दिन पहले जिले की जमीनों का सर्किल रेट बढ़ा दिया है। नए सर्किल रेट की सूची सार्वजनिक होते ही तहसीलों के अधिवक्ता विरोध में उतर आए। बढ़ा सर्किल रेट वापस लेने की मांग को लेकर 18 दिन से अधिवक्ता न्यायिक कार्य से विरत रहते हुए रोजाना धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। इसके बाद भी प्रशासन की ओर से कोई सकारात्मक कदम नहीं उठाया गया। इससे नाराज मंझनपुर तहसील के अधिवक्तों ने बृहस्पतिवार की सुबह 10 बजे संगठन अध्यक्ष एडवोकेट सुशील श्रीवास्तव की अगुवाई में तहसील के मुख्य गेट व उप निबंधक कार्यालय में तालाबंदी कर दी।



तकरीबन डेढ़ घंटे तक फरियादियों, वादकारियों को भीतर घुसने नहीं दिया गया। इस दौरान अधिवक्ता जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। 11.30 बजे तहसीलदार भूपेंद्र सिंह ने मौके पर पह़ुंचकर आंदोलित वकीलों से बात की। साथ ही वरिष्ठ अफसरों से वार्ता कर बीच का रास्ता निकालने का आश्वासन दिया। इसके बाद अधिवक्ताओं का गुस्सा शांत हुआ, तब जाकर तहसील का कामकाज सामान्य हो सका। इस मौके पर संजय मिश्रा, लखन लाल गर्ग, भानु मिश्रा, मानसिंह यादव, हरिशरण सिंह, बलराम तिवारी समेत तमाम अधिवक्ता मौजूद रहे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00