बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

नेपाल में बाढ़: मलबा हटने के बाद काठमांडू मार्ग खुला, अन्य मार्ग अवरुद्ध, अलर्ट जारी

अमर उजाला नेटवर्क, महराजगंज। Published by: गोरखपुर ब्यूरो Updated Sun, 29 Aug 2021 04:01 PM IST

सार

अभी भी रूपनदेही, नवलपरासी और कपिलवस्तु के दर्जनों गांव जलमग्न हैं। नेपाल मौसम विभाग ने दो दिनों के लिए भारी वर्षा की चेतावनी देते हुए अलर्ट जारी किया है।
नेपाल में बाढ़।
नेपाल में बाढ़। - फोटो : अमर उजाला।
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

नेपाल में हुई भारी बारिश के बाद सड़क पर पानी कम हो गया है। शनिवार को राष्ट्रीय राजमार्ग से मलबा हटाते हुए सुरक्षा कर्मियों ने भैरहवां से काठमांडू आवागमन शुरू कर दिया, लेकिन भैरहवां से पोखरा मार्ग बंद है। अभी भी रूपनदेही, नवलपरासी और कपिलवस्तु के दर्जनों गांव जलमग्न हैं। नेपाल मौसम विभाग ने दो दिनों के लिए भारी वर्षा की चेतावनी देते हुए अलर्ट जारी किया है।
विज्ञापन


नारायणघाट मुगलिन सड़क खंड दोनों दिशाओं में परिचालन में आ गया है। नारायण घाट यातायात पुलिस के अनुसार शुक्रवार की रात 17 किलो मीटर सड़क पानी में बह जाने के बाद जो सड़क एक तरफ चल रही थी, वह अब दोनों तरफ चल रही है। लगातार बारिश के कारण सड़क के बह जाने के बाद एकतरफा वाहनों को सड़क से डायवर्ट करने से करीब 10 किलोमीटर तक जाम लग गया। ट्रैफिक जाम कम करने के लिए वाहनों को निकाला जा रहा है। ईस्ट-वेस्ट हाईवे पर नवलपरासी के दौने में भूस्खलन और बरदाघाट में नदी कटने से बंद सड़क को एकतरफा खोल दिया गया है। सड़क बनाने के बाद अब वाहन एकतरफा चल रहे हैं। नवलपरासी (पश्चिम) बरदाघाट नगर पालिका-10 लंदन ब्रिज (पूर्व-पश्चिम) राजमार्ग और बासा, भुटाहा और सुनवाल नगर पालिका-12 बडेरा के डायवर्जन के कारण सड़क जाम है।


लुंबिनी यातायात पुलिस कार्यालय बुटवल के पुलिस उपाधीक्षक दिलीनारायण पांडे ने बताया कि रुपनदेही देवदहा नगर पालिका-9 में घोड़ाहा नदी पर अवरोध है। भैरहवा डाक मार्ग भी आज सुबह से अवरुद्ध है। नवलपरासी के महुरी खोला में पुल के ओवरफ्लो होने से सड़क जाम है। लुंबिनी में विभिन्न राजमार्ग अभी तक नहीं खोले गए हैं। लुंबिनी को पूर्व-पश्चिम राजमार्ग सहित विभिन्न प्रमुख मांगों से अवरुद्ध कर दिया गया था। दिन भर पानी बंद रहने पर शनिवार शाम से सड़कें फिर से खोल दी जाएंगी। मंगलपुर में पानी कम हो गया है। जिले के तराई भाग में दर्जनों गांव जलमग्न है। राहत बचाव कार्य जारी है।

लुंबिनी विवि का छात्रावास व आवास डूबा

रूपनदेही जिले के खड़ेया स्थित लुंबिनी बौद्ध विश्वविद्यालय का छात्रावास और शिक्षक आवास शुक्रवार की लगातार बारिश से जलमग्न हो गया है। हाउसिंग एरिया में 30 शिक्षक, छात्र व अन्य फंसे हुए हैं। दानव नदी में आई तेज बाढ़ से खडै़या गांव सहित रिहायशी इलाका जलमग्न हो गया है। बौद्ध विश्वविद्यालय की कार्यवाहक परीक्षा नियंत्रक इंद्र काफले ने बताया कि दानव नदी में सुबह सात बजे के बाद आई बाढ़ से गांव जलमग्न हो गया। उन्होंने कहा कि अभी नदी और बस्ती का पानी ऊपर है, कोई बाहर नहीं निकल सकता है।

तराई क्षेत्र में बाढ़ से हुआ अधिक नुकसान
लुंबिनी प्रांत के तराई क्षेत्र में बाढ़ से अधिक नुकसान हुआ है। पश्चिम नवलपरासी का मुख्यालय दुवान में है। रूपनदेही के देवदहा में एक पुल के गिरने से पूर्व-पश्चिम राजमार्ग अवरुद्ध हो गया है। कपिलवस्तु के दक्षिणी भाग में अधिकांश खेत और छोटे घर जलमग्न हो गए हैं।

करनाली और महाकाली नदियों में बहाव तेज
बाढ़ पूर्वानुमान विभाग के मुताबिक शुक्रवार सुबह कोशी, नारायणी, करनाली और महाकाली नदियों में बहाव तेज हो गया है. बागमती के पधेराडोवन हाइड्रोमेट्री सेंटर में जलस्तर खतरनाक स्तर पर पहुंच गया है और बढ़ रहा है। नारायणी और उसकी सहायक नदियों में बहाब काफी बढ़ सकता है और कुछ मामलों में अलर्ट स्तर को पार किया जा सकता है। करनाली, महाकाली और उनकी सहायक नदियों में बढ़ा हुआ प्रवाह और कुछ मामलों में अलर्ट स्तर के करीब; कोशी और उसकी सहायक नदियों के सामान्य रूप से बढ़ने और अलर्ट स्तर से नीचे रहने की संभावना है। लुंबिनी क्षेत्र के नवलपरासी, पल्पा, रूपनदेही, कपिलबस्तु, गुलमी, अर्घखांची, प्युथन, डांग, बांके, छोटी नदियों के प्रवाह में वृद्धि होने की संभावना है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00