लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Mau News ›   Anti corruption team found Gram Panchayat red handed taking bribe of 20 thousand

रंगे हाथ पकड़ा गया ग्राम विकास अधिकारी: एंटी करप्शन की टीम ने 20 हजार की रिश्वत लेते पकड़ा, ऐसे बिछाया जाल

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मऊ Published by: किरन रौतेला Updated Wed, 30 Nov 2022 05:01 PM IST
सार

सीओ सिटी धनज्जय मिश्रा ने बताया कि रतनपुरा ब्लाक के इटौरा ग्राम विकास के प्रधान प्रतिनिधि अश्वनी कुमार सिंह ने ग्राम पंचायत में विकास कार्यो के तहत लाखों रुपये का कार्य कराया गया था। इसके भुगतान को लेकर गांव के ग्राम विकास अधिकारी अमरेश सिंह से कहा। इस भुगतान को लेकर ग्राम विकास अधिकारी द्वारा भुगतान कराने की एवज मेंकमीशन मांग कर रहा था।पीड़ित द्वारा काफी मिन्नतें करने पर भी वह नहीं माना।

एंटी करप्शन की टीम ने 20  हजार की रिश्वत लेते ग्राम पंचायत को रंगे हाथ पकड़ा
एंटी करप्शन की टीम ने 20 हजार की रिश्वत लेते ग्राम पंचायत को रंगे हाथ पकड़ा - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

मऊ जिले के एक ग्राम विकास अधिकारी को विकास कार्य के भुगतान को लेकर ग्राम प्रधान प्रतिनिधि से रिश्वत मांगना भारी पड़ गया। जहां शिकायत पर गोरखपुर से आई एंटी करप्शन की टीम ने जाल फैलाकर बुधवार को विकास भवन के पास से ग्राम विकास अधिकारी को बीस हजार रुपये का रिश्वत पकड़ा। टीम उसे अपने साथ शहर कोतवाली ले आई, जहां उसके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई को लेकर कवायद की जा रही है।


सीओ सिटी धनज्जय मिश्रा ने बताया कि रतनपुरा ब्लाक के इटौरा ग्राम पंचायत के प्रधान प्रतिनिधि अश्वनी कुमार सिंह ने ग्राम विकास में विकास कार्यो के तहत लाखों रुपये का कार्य कराया गया था। इसके भुगतान को लेकर गांव के ग्राम विकास अधिकारी अमरेश सिंह से कहा। इस भुगतान को लेकर ग्राम विकास अधिकारी द्वारा भुगतान कराने की एवज में कमीशन मांग कर रहा था। पीड़ित द्वारा काफी मिन्नतें करने पर भी वह नहीं माना। आखिरकार इससे परेशान पीड़ित अश्वनी कुमारि सिंह ने एंटी करप्शन टीम गोरखपुर का सहारा लिया।

जिस पर बुधवार को गोरखपुर से आए एंटी करप्शन के निरीक्षक संतोष कुमार दीक्षित के नेतृत्व में टीम ने ग्राम विकास अधिकारी को ट्रैप करने के लिए पहले ही घेराबंदी कर रखी थी। पीड़ित को पाउडर लगे नोट देकर भेज दिया। पूरे प्लान के मुताबिक टीम ने ग्राम विकास अधिकारी को विकास भवन के पास सुबह करीब साढ़े दस बजे बुलाया। जहां एंटी करप्शन टीम ने प्लान के तहत उसे घर पर रंगे हाथ पकड़ लिया और जब पानी में उसके हाथ डलवाए गए तो पानी का रंग बदल गया। जिसके बाद ग्राम विकास अधिकारी को एंटी करप्शन टीम हिरासत में लेकर शहर कोतवाली ले आई और लिखा पढ़ी करके अपने साथ ले जाने की तैयारी में जुटी है।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00