बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
बुध का तुला राशि गोचर, जानें क्या होगा आपके जीवन पर प्रभाव
Myjyotish

बुध का तुला राशि गोचर, जानें क्या होगा आपके जीवन पर प्रभाव

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Digital Edition

मेरठ: शहीद स्मारक पर अंकित होगा इतिहा, 1857 की क्रांति को उकेर रहे देशभर के चित्रकार

1857 की क्रांतिकारी नगरी मेरठ में अब शहीद स्मारक पर इतिहास की कहानियों का चित्रण नजर आएगा। पांच गैलरी में दस सेक्शन को दिल्ली, जयपुर और कोलकाता के चित्रकारों द्वारा तैयार किया जा रहा है। 

इसमें झांसी की रानी, वीर कुंवर सिंह की रियासत, कालपी का दृश्य, नाना साहेब, तात्या टोपे जैसे शूरवीरों की गाथा उकेरी जा रही है। इस कार्य को अक्तूबर में ही खत्म किया जाना था लेकिन कोरोना के चलते देरी हो गई। इस पर एक करोड़ 72 लाख रुपये खर्च किए जा रहे हैं।

वहीं, सदर थाने का गदर और कोर्ट मार्शल विशेष रूप से दिखाई देगा, जिससे देशभर से लोग मेरठ आकर शहीद स्मारक में क्रांतिकारी वीरों को चित्रण के माध्यम से जान और देख सकें। शहीद स्मारक में अमर जवान ज्योति स्थल तैयार हो चुका है। इसके बाद से ही लोगों का आना-जाना शुरू हो गया है। वहीं, पर्यटन विभाग की ओर से भी एक ऑडिटोरियम का निर्माण करने के लिए खोदाई की जा रही है। 

यह भी पढ़ें:  
चर्चा: मौलाना कलीम की गिरफ्तारी के बाद सुर्खियों में आईं सना खान, बोल्डनेस को छोड़ अपनाया बुर्का, हैरान कर देंगी बदलाव की तस्वीरें
... और पढ़ें

जेब पर असर: पैसेंजर ट्रेनें सुपरफास्ट और एक्सप्रेस में बदलीं, बढ़ेगा किराया-घटेंगे स्टॉपेज

रेलवे ने यात्रियों को जोर का झटका दिया है। मेरठ से गुजरने वाली तीन पैसेंजर ट्रेनों को एक्सप्रेस और सुपरफास्ट में बदल दिया गया है। इन ट्रेनों से दिल्ली से वाया मेरठ, अंबाला, कालका, हरिद्वार काफी संख्या में लोग सफर करते हैं। अब यात्रियों को ट्रेनों का संचालन शुरू होने पर बढ़ा किराया और स्टॉपेज कम होते दिखाई देंगे। नई व्यवस्था में 20 से 50 रुपये तक किराया बढ़ जाएगा।

कोरोना काल से पैसेंजर ट्रेनों में भी एक्सप्रेस का टिकट लिया जा रहा है। न्यूनतम टिकट 30 रुपये का है। ट्रेनों के पूरी तरह से एक्सप्रेस और सुपरफास्ट में बदल जाने के बाद किराया बढ़ जाएगा। सुपरफास्ट के लिए प्रति टिकट 20 रुपये अतिरिक्त देने होंगे। अगर मेरठ से दौराला का टिकट दिल्ली-अंबाला पैसेंजर में लेंगे तो उसमें 30 रुपये के टिकट के साथ सुपरफास्ट का 20 रुपये अतिरिक्त लगेगा। इसका मतलब मेरठ से दौराला का टिकट 50 रुपये हो जाएगा। 
 
... और पढ़ें

मेरठ: छह साल के बच्चे के साथ कुकर्म, पुलिस ने दो बच्चों को हिरासत में लिया

मेरठ जिले के कंकरखेड़ा थाना इलाके के एक गांव में छह साल के बच्चे के साथ गांव के ही दो नाबालिग बच्चों ने कुकर्म किया। बच्चे ने घर जाकर मामले की जानकारी दी जिसके बाद देर रात पीड़ित कंकरखेड़ा थाना पहुंचे और घटना कि जानकारी दी।

मामला कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र के एक गांव का है दोनों पक्ष मुस्लिम समाज से छह वर्षीय बच्चा पड़ोसी 12 और 14 वर्षीय नाबालिक बच्चों के साथ खेल रहा था। आरोप है कि छह वर्षीय बच्चे को बहला-फुसलाकर दोनों बच्चों ने उसके साथ कुकर्म किया। 

घटना के बाद बच्चे ने इसकी जानकारी अपने परिजनों को जाकर दी जिसके बाद परिजन दोनों बच्चों के घर पहुंचे वहां पर दोनों पक्षों में इस बात को लेकर कहासुनी हुई। दोनों पक्षों ने एक दूसरे के ऊपर आरोप प्रत्यारोप लगाए। जब बात नहीं बनी तो फिर देर रात पीड़ित अपने बच्चों को लेकर कंकरखेड़ा थाने पहुंचा और पुलिस को पूरे घटना की जानकारी दी।

पुलिस ने गांव में पहुंच कर दोनों बच्चों को हिरासत में ले लिया है और पूछताछ कर रही है। थाना प्रभारी तपेश्वर सागर का कहना है कि पीड़ित की शिकायत के आधार पर दो नाबालिग बच्चों को हिरासत में ले लिया है, उनसे पूछताछ की जा रही है जिस बच्चे के साथ घटना हुई है उसका मेडिकल परीक्षण कराया जा रहा है। मेडिकल परीक्षण के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

निशाने पर सरकार: आज महापंचायत, रोटी लेकर उमड़ेंगे कई जिलों के किसान, ये हैं मांगें

बीस दिनों में राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान में रविवार यानी आज फिर किसान महापंचायत होगी। इस बार हिंद मजदूर किसान समिति ने किसान महापंचायत बुलाई है। गठवाला खाप के बाबा चौधरी राजेंद्र सिंह ने महापंचायत को समर्थन दिया है। किसान मजदूर संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ठाकुर पूरण सिंह महापंचायत को संबोधित करेंगे। इस महापंचायत पर भी सभी की निगाहे लगी है। महापंचायत की तैयारियां पूरी कर ली गई है।

संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से भाकियू के तत्वावधान बीस दिन पहले पांच सितंबर को जीआईसी के मैदान में किसान महापंचायत की आयोजन किया गया था। जिसमें भाकियू अध्यक्ष नरेश टिकैत, प्रवक्ता राकेश टिकैत समेत संयुक्त मोर्चा के नेता शामिल हुए थे। इस महापंचायत के एक सप्ताह बाद ही हिंद मजदूर किसान समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजपाल सिंह और गठवाला खाप के बाबा चौधरी राजेंद्र सिंह मलिक ने जीआईसी के मैदान में ही 26 सितंबर को किसान महापंचायत करने का एलान किया था।

उनका कहना था कि पांच सितंबर की किसान महापंचायत में किसानों के गन्ना मूल्य, बकाया भुगतान समेत अन्य मुद्दे नहीं उठाए गए, इसलिए किसान महापंचायत का आयोजन कर किसानों की समस्याओं से राज्य सरकार को अवगत कराया जाएगा। समिति के पदाधिकारी और गठवाला खाप के बाबा चौधरी राजेंद्र सिंह रविवार को होने वाली किसान महापंचायत की तैयारी में लगे है। शनिवार को महापंचायत स्थल की तैयारियों का समिति के पदाधिकारियों ने जायजा लिया। 

समिति के प्रवक्ता अमित मोलाहेडी ने बताया कि किसानों की समस्याओं को लेकर महापंचायत की जा रही है। इसका राजनीति से कोई भी मतलब नहीं है। मुजफ्फरनगर और शामली के साथ ही बिजनौर व मेरठ से भारी संख्या में किसान इस महापंचायत में आएंगे। किसानों के मुद्दों पर चर्चा होगी और मांग उठाई जाएगी। महापंचायत में हिंद मजदूर किसान समिति के आधार और आध्यात्मिक किसान नेता चंद्रमोहन, गठवाला खाप के चौधरी बाबा राजेंद्र सिंह मलिक, किसान मजदूर संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूरण सिंह, त्यागी समाज के अध्यक्ष किसान नेता संजीव त्यागी आदि किसानों को संबोधित करेंगे।

यह भी पढ़ें: 
यूपी: बिजली को लगा चोरी का ‘करंट’, विभाग को 2100 करोड़ का घाटा, पढ़िए अमर उजाला की खास रिपोर्ट
... और पढ़ें
सात सितंबर को हुई किसान महापंचायत का फाइल फोटो। सात सितंबर को हुई किसान महापंचायत का फाइल फोटो।

बड़ा खुलासा: प्रेमिका के भाई को देने को लिए जावेद ने मंगाया था पिस्तौल, एटीएस की जांच में खुलेंगे बड़े राज

मुजफ्फरनगर से खरीदकर वाया बिजनौर से कश्मीर तक असलहा की खेप पहुंचाई जाती रही या सिर्फ एक पिस्टल ही गया, एटीएस की जांच का यही अहम बिंदु है। लेकिन, जिस पिस्टल के साथ जावेद पकड़ा गया, वह उसने प्रेमिका के भाई को देने के लिए मंगाया था। पकड़े जाने से तीन दिन पहले ही शमीम ने पहुंचाया था।  

दो दिनों तक एटीएस ने जिले में रहने के बाद पकड़े गए शमीम सलमानी और बेटे परवेज को ग्राम प्रधान की सुपुर्दगी में दे दिया था। हालांकि इनके कहीं आने-जाने पर रोक है। थाने में बताकर जाना होगा। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, अभी इस मसले की फाइल बंद नहीं हुई है। एटीएस मुजफ्फरनगर के उस व्यक्ति को भी तलाश रही है, जिससे शमीम ने पिस्तौल खरीदा। अगर वह नहीं भी मिला तो शमीम के खिलाफ फिर भी केस दर्ज हो सकता है। 

यह भी पढ़ें: 
आखिर खुली पोल: अब नितिन पंत ने खोले मौलाना के खौफनाक राज, बोला- लड़कियों को फंसा धर्म परिवर्तन का बनाते थे दबाव

बता दें कि 19 सितंबर को शमीम का बड़ा बेटा जावेद कश्मीर में पिस्तौल के साथ पकड़ा गया था। 16 सितंबर को ही शमीम ने उसे पिस्तौल पहुंचाया था। जावेद के पकड़े जाने पर शमीम अपना बैग भी कश्मीर में ही छोड़ आया था। सूत्रों के अनुसार जावेद ने कश्मीर पुलिस को बताया था कि यह पिस्तौल प्रेमिका के भाई को देना था। पकड़ लिए जाने के तीन दिन बाद ही आर्मी इंटेलिजेंस और यूपी एटीएस ने डहरी में दबिश देकर जावेद के पिता और भाई को उठा लिया था।  

यह भी पढ़ें: निशाने पर मौलाना के करीबी: सुरक्षा एजेंसियों ने पश्चिमी यूपी के जिलों में डाला डेरा, मुजफ्फरनगर से हाफिज को उठाया

दस लोगों पर खुफिया नजर
बताया जा रहा है कि शमीम ने किरतपुर के आठ और गांव के ही दो लोगों के नाम जांच एजेंसी को बताए थे, जोकि उनके परिचित हैं और कश्मीर में ही रहते हैं। जिसके चलते उन दस लोगों पर भी खुफिया नजर बनी हुई है। एटीएस फिर से जिले में आ सकती है।
... और पढ़ें

धर्मांतरण मामला: एटीएस की पूछताछ में नितिन पंत ने खोले मौलाना कलीम सिद्दीकी से जुड़े अहम राज, जल्द होगी ये बड़ी कार्रवाई

जबरन धर्म परिवर्तन कराकर अली हसन बनाए गए पंकज पंत से लखनऊ में एटीएस ने पूछताछ की। नितिन पंत मौलाना कलीम से संबंधित कई अहम जानकारियां एटीएस को दी हैं। 

कोतवाली मंडी क्षेत्र में पांवधोई स्थित श्री बालाजी घाट में पर रह रहे उत्तराखंड के नैनीताल निवासी नितिन पंत ने बताया था कि 2010 में वह नौकरी की तलाश में राजस्थान के मेवात गया था, जहां पर नौकरी का झांसा देकर दूसरे वर्ग के कुछ लोग उसे एक धार्मिक स्थल में ले गए थे। वहां पर हथियारों के बल पर उसका जबरन धर्म परिवर्तन कराया था और उसका नाम अली हसन रख दिया था। इसके बाद उसे मुजफ्फरनगर के फूलत स्थित एक मदरसे में रखा गया, जहां पर मौलाना कलीम सिद्दीकी से उसकी कई बार मुलाकात हुई थी। आरोप लगाया कि मौलाना कलीम उस पर लड़कियों को फंसाने और युवकों का धर्मांतरण करने का दबाव बनाता था। इसके बदले उसे रुपये, मकान और शादी कराने का लालच दिया जाता था।
... और पढ़ें

यूपी: मंत्री महेंद्रनाथ पांडे ने विपक्ष पर साधा निशाना, टिकैत के ताऊ और चाचा जान वाले बयान पर कही ये खास बात

केंद्रीय मंत्री महेंद्र नाथ पांडेय ने प्रेस वार्ता में कहा कि विधानसभा चुनाव में भाजपा अपार बहुमत से सरकार बनाएगी। 2022 में 2017 के आंकड़ों को भी पीछे छोड़ देंगे। हमारी सरकार खास लोगों को संरक्षण देने वाली नहीं है।

राकेश टिकैत द्वारा बोले गए ताऊ और चाचा जान जैसे शब्दों पर उन्होंने कहा कि हमारी सरकार कर्म में विश्वास रखती है। टिकैत अपने बयान दे रहे हैं। हमारी सरकार सिर्फ किसानों की भलाई के लिए कार्य कर रही है। कृषि कानून पूरी तरह किसानों के हित में हैं। उन्होंने कहा कि धर्मांतरण जैसे मुद्दे को सपा या अन्य पार्टी उठाती हैं। भाजपा तो सदा से विकास के साथ चलती है। 

यह भी पढ़ें: 
यूपी: बिजली को लगा चोरी का ‘करंट’, विभाग को 2100 करोड़ का घाटा, पढ़िए अमर उजाला की खास रिपोर्ट

उन्होंने कहा कि यूपी में डबल इंजन की सरकार है। आगे मोदी हैं और उनके पीछे योगी। विश्व पटल में मेरठ की अलग पहचान है। रैपिड रेल, एक्सप्रेसवे से मेरठ के उद्योगों को नई दिशा मिलेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार आने से पूर्व पश्चिम उत्तर प्रदेश में उद्यमियों का शोषण होता था। अब ऐसा नहीं है।

यह भी पढ़ें: चौंकाने वाला सच: दो दशक में अकूत संपत्ति का मालिक बन बैठा मौलाना कलीम सिद्दीकी, पढ़ें शुरू से आखिरी तक की कहानी

उन्होंने कहा कि देश हमेशा मोदी युग को याद करेगा। जनता ने गुजरात के सीएम को पीएम बनाया। आज 62 प्रतिशत युवा मेक इन इंडिया पर कार्य कर रहा है। उद्यमियों को साफ सुथरी सरकार मिल गई है। योगी सरकार ने दंगा रोकने के लिए बड़ा निर्णय लिया है, जो दंगा करेगा उससे पांच गुना जुर्माना वसूला जाएगा।
... और पढ़ें

बागपत में एक्सपर्ट कॉन्क्लेव: भाजपा सांसद सत्यपाल सिंह बोले- योगी सरकार में कम हुई गुडागर्दी

मेरठ पहुंचे केंद्रीय राज्यमंत्री महेंद्रनाथ पांडे।
उत्तर प्रदेश के बागपत में अमृत महोत्सव कार्यक्रम व वाणिज्य सप्ताह अंतर्गत कलक्ट्रेट लोकमंच पर उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए एक्सपर्ट कॉन्क्लेव का आयोजन किया गया। इसमें जिले के उद्यमियों ने स्टॉल लगाकर निर्यात किए जाने वाली वस्तुओं के बारे में जानकारी दी। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि डॉ. सत्यपाल सिंह व जिलाधिकारी राजकमल यादव ने किया। इस दौरान भाजपा सांसद सत्यपाल सिंह ने विपक्ष पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मुझे उद्योगपति कहते थे कि आपके यहां गुंडागर्दी होती है। इसलिए हम नहीं आते। सांसद ने कहा अब देखो शहर में गुंडागर्दी बहुत कम हो रही है, इसलिए उद्योगपति आ रहे हैं।

कलक्ट्रेट में आयोजित एक्सपर्ट कॉन्क्लेव में सांसद डॉ. सत्यपाल सिंह व डीएम राजकमल यादव ने कहा कि वाणिज्य से जुड़े उद्योगों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से कलक्ट्रेट में गोष्ठी एवं प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। उन्होंने कहा कि जिले में उद्योग बढ़ने से व्यापार को बढ़ावा मिलेगा। 

यह भी पढ़ें: 
चौंकाने वाला सच: दो दशक में अकूत संपत्ति का मालिक बन बैठा मौलाना कलीम सिद्दीकी, पढ़ें शुरू से आखिरी तक की कहानी

वहीं, युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। व्यापार बढ़ने से जिले का नाम देश व विदेश में रोशन होगा। मेले में बागपत, बड़ौत व खेकड़ा के उद्यमियों ने शिरकत करके उत्पादों के स्टॉल लगाए। यहां जीएम डीआईसी अर्चना तिवारी, खादी ग्रामोद्योग अधिकारी संदीप कुमार, कलक्ट्रेट प्रभारी रामनयन सिंह व अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: यूपी: बिजली को लगा चोरी का ‘करंट’, विभाग को 2100 करोड़ का घाटा, पढ़िए अमर उजाला की खास रिपोर्ट
... और पढ़ें

दुस्साहस: मेरठ कॉलेज के पास छात्रा को दिनदहाड़े बाइक पर खींचने का प्रयास, आरोपी पकड़कर पुलिस को सौंपा

मेरठ के लालकुर्ती थाना क्षेत्र में शनिवार दोपहर तब हड़कंप मच गया, जब एक बाइक सवार ने कोचिंग से घर जा रही छात्रा को जबरन बाइक पर खींचने का प्रयास किया। छात्रा के शोर मचाने पर लोग जुड़ गए और आरोपी को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

जानकारी के अनुसार, इंचोली थाना क्षेत्र की रहने वाली एक छात्रा मेरठ कॉलेज में पढ़ती है। वह कॉलेज के बाद कोचिंग भी करती है। शनिवार दोपहर वह कोचिंग से घर जा रही थी।

इसी दौरान सिविल लाइन क्षेत्र में एक बाइक सवार ने उसे रोक लिया और जबरन हाथ पकड़कर बाइक पर खींचने का प्रयास किया। यह देख छात्रा ने शोर मचा दिया। इससे मौके पर अफरा तफरी मच गई और आसपास के लोग मौके पर दौड़े।

यह भी पढ़ें: 
बड़ा खुलासा: धर्मांतरण से पहले गैर मुस्लिमों को ये किताब देते थे मौलाना कलीम, सबूत जुटाने में जुटी सुरक्षा एजेंसियां
 
लोगों को अपनी ओर आता देख बाइक सवार ने भागने का प्रयास किया लेकिन मौके पर मौजूद लोगों ने दौड़कर बाइक सवार को पकड़ लिया। पुलिस युवक को थाने लेकर आ गई। साथ ही छात्रा के परिजनों को भी सूचित कर दिया। कुछ ही देर में दोनों पक्षों के लोग थाने आ गए। पुलिस फिलहाल मामले में जांच कर रही है। बताया जाता है कि युवक व छात्रा  एक ही गांव का है। पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है। 
... और पढ़ें

बिजनौर रचित हत्याकांड: आरोपी आसिफ पर एनएसए की कार्रवाई, पांच आरोपियों पर पहले लग चुका गैंगस्टर

बिजनौर के हल्दौर में रचित हत्याकांड में शामिल रहे आसिफ पर रासुका की कार्रवाई की गई है। मुख्य आरोपियों में शामिल रहे चार अन्य पर भी एनएसए लगेगी। हालांकि पुलिस अभी इनकी जमानत अर्जी दाखिल होने का इंतजार कर रही है। इस मर्डर केस में पहले ही पांच पर गैंगस्टर भी लग चुकी थी।

ये था मामला
फरवरी में थाना कोतवाली शहर क्षेत्र के गांव सिहोरा गिरधर निवासी रचित (27 वर्ष) पुत्र धर्मेंद्र सिंह की कस्बा झालू में सरेआम बाजार में गोलियां बरसाकर हत्या कर दी थी। रचित हत्याकांड से जिले का माहौल खराब होते-होते बचा था। पुलिस ने मौके से ही शारिक, शादाब, शहवार और शहजाद को गिरफ्तार कर लिया था। हत्याकांड में शामिल मुख्य पांचवा आरोपी आसिफ फरार हो गया था। जिसे बाद में पकड़कर जेल भेजा गया। 

यह भी पढ़ें: 
यूपी: बिजली को लगा चोरी का ‘करंट’, विभाग को 2100 करोड़ का घाटा, पढ़िए अमर उजाला की खास रिपोर्ट

इस हत्याकांड में मोहम्मद नाजिम, जॉनी, रितिक, मतीन, समीर शेख, वाजिद भी शामिल पाए गए थे। कुल 11 आरोपियों को जेल भेज गया। मामले में मुख्य पांच आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई भी हुई। अब जेल में बंद आसिफ पुत्र हसनैन आब्दी उर्फ नईम निवासी मोहल्ला सादात कस्बा झालू के खिलाफ एनएसए की कार्रवाई की गई है। बता दें कि आसिफ की जमानत अर्जी कोर्ट में दाखिल होते ही हल्दौर पुलिस ने एनएसए की कार्रवाई की है।

यह भी पढ़ें: चौंकाने वाला सच: दो दशक में अकूत संपत्ति का मालिक बन बैठा मौलाना कलीम सिद्दीकी, पढ़ें शुरू से आखिरी तक की कहानी

रचित हत्याकांड के मुख्य आरोपियों में शामिल रहे आसिफ पर एनएसए की कार्रवाई की गई है। आसिफ समेत पांच आरोपियों पर गैंगस्टर की कार्रवाई पहले ही की जा चुकी है। - कुलदीप गुप्ता, सीओ सिटी
... और पढ़ें

रोहिणी कोर्ट में गैंगवार : मेरठ से दिल्ली तक थी राहुल की दहशत, पुलिस की वर्दी में आता था मेरठ

दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में ढेर हुआ राहुल उर्फ नितिन शातिर अपराधी था। लोगों के बीच उसकी दहशत थी। छोटी-छोटी बातों पर वह गोली मार देता था। टिल्लू गैंग से जुड़कर वह दिल्ली में सुपारी लेकर हत्या, लूट और रंगदारी की वारदात अंजाम दे रहा था। पंचायत चुनाव के दौरान वह गांव में आया था।

साढ़े छह लाख के इनामी गैंगस्टर जितेंद्र मान उर्फ गोगी को रोहिणी कोर्ट में मारने वाला शातिर अपराधी राहुल उर्फ नितिन उर्फ केके खरखौदा क्षेत्र के फफूंडा गांव का रहने वाला था। उसके खिलाफ खरखौदा, परीक्षितगढ़ व अन्य कई थानों में गंभीर धाराओं में मुकदमे दर्ज हैं। मेरठ में लूट और डकैती समेत अपराध की कई वारदातों में शामिल रहा, लेकिन पुलिस उसका सुराग नहीं लगा सकी।

यह  भी पढ़ें: 
यूपी: बिजली को लगा चोरी का ‘करंट’, विभाग को 2100 करोड़ का घाटा, पढ़िए अमर उजाला की खास रिपोर्ट
... और पढ़ें

बिजनौर: पति से तंग आकर महिला ने तीन बच्चों संग किया आत्महत्या का प्रयास, ऐसे बची सभी की जान

बिजनौर के स्योहारा में घरेलू कलह से तंग आकर एक महिला ने तीन बच्चों के साथ ट्रेन के आगे आकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। हालांकि लोगों की सतर्कता से महिला और बच्चों को सकुशल बचा लिया गया।

ये है मामला
गांव सदाफल निवासी तस्लीम की पत्नी तस्लीमा का घर में किसी बात को लेकर पति से शनिवार को विवाद हो गया। उस समय तो परिजनों और पड़ोसियों ने दोनों को समझा बुझाकर शांत कर दिया। लेकिन दोपहर बाद पति की प्रताड़ना से तंग तस्लीमा घर से बिना बताए अपने तीनों बच्चों को लेकर नूरपुर मार्ग स्थित रेलवे फाटक के करीब अप दिशा की ओर से आने वाली ट्रेन की लाइनों के बीच खड़ी हो गई। इसी दौरान तेज रफ्तार रन थ्रू ट्रेन आने की आवाज सुनकर क्रॉसिंग पर खड़े लोगों ने शोर मचाया। कुछ युवकों ने भागकर महिला को लाइन से खींच लिया। 

यह भी पढ़ें: 
खौफनाक: पहले नॉनवेज खिलाया, फिर बियर पिलाई... दंपती के मर्डर का हुआ सनसनीखेज खुलासा, तस्वीरें

इसके बाद जीआरपी के सिपाही भी मौके पर पहुंच गए। जीआरपी के सिपाहियों व लोगों ने परिजनों और उसके पति को बुलाकर पति को जमकर फटकार लगाई। पति के भविष्य में पत्नी को तंग न करने के आश्वासन पर पत्नी को साथ भेज दिया। थानाध्यक्ष आशीष कुमार तोमर का कहना है कि मामला उनके संज्ञान में नहीं है।

यह भी पढ़ें: मौलाना के खौफनाक राज: पूर्व बॉलीवुड अभिनेत्री सना खान का निकला ये कनेक्शन, जांच में और भी खुले बड़े राज
... और पढ़ें

यूपी: गैंगस्टर अनीश ने थाने में किया सरेंडर, हाथ उठाकर बोला, अब नहीं करूंगा कोई अपराध

सहारनपुर जनपद के नागल थाना क्षेत्र स्थित गांव उमाही के रहने वाले अनीश ने शनिवार को थाने पर पहुंचकर सरेंडर किया। अनीश गैंगस्टर सहित अन्य आपराधिक मामलों का आरोपी है। उसने हाथ उठाकर कहा कि अब मैं कोई अपराध नहीं करूंगा, पुलिस से मुझे डर लगता है।

बता दें कि शनिवार को थाने के टॉप टेन अपराधी ने थाने में समर्पण कर भविष्य में अपराध न करने की कसम खाई है। पुलिस ने अपराधी को न्यायालय में पेश किया। सीओ देवबंद रजनीश उपाध्याय ने बताया कि थाना क्षेत्र के गांव उमाही कलां निवासी अनीश पुत्र असगर पर जनकपुरी, थाना मंडी एवं नागल के 13 मुकदमे दर्ज हैं। हाल में एनडीपीएस के मुकदमे में वांछित चल रहा था। 

यह भी पढ़ें: 
यूपी: बिजली को लगा चोरी का ‘करंट’, विभाग को 2100 करोड़ का घाटा, पढ़िए अमर उजाला की खास रिपोर्ट

वहीं पुलिस उसके घर पर गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही थी। पुलिस की ताबड़तोड़ दबिश से घबराकर शनिवार को अनीश ने खुद ही थाने पहुंचकर आत्मसमर्पण कर दिया। साथ ही उसने भविष्य में अपराध न करने की कसम भी खाई है। सीओ ने बताया कि आरोपी को कोर्ट में पेश किया।

यह भी पढ़ें: चौंकाने वाला सच: दो दशक में अकूत संपत्ति का मालिक बन बैठा मौलाना कलीम सिद्दीकी, पढ़ें शुरू से आखिरी तक की कहानी
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X