लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Meerut News ›   The crooks have looted one lakh rupees from a youth in Daurala of Meerut

UP: मेरठ में लूट की वारदात, बदमाशों ने युवक से लूटे सवा लाख रुपये, विरोध करने पर मारी गोली

अमर उजाला ब्यूरो, मेरठ Published by: कपिल kapil Updated Sat, 03 Dec 2022 09:07 PM IST
सार

Meerut Crime News : मेरठ में लूट की वारदात को अंजाम दिया गया। बदमाशों ने एक युवक से सवा लाख रुपये लूट लिए। वहीं विरोध करने पर युवक के पैर में गोली मार दी।

मेरठ पुलिस।
मेरठ पुलिस। - फोटो : amar ujala
विज्ञापन

विस्तार

मेरठ जनपद के दौराला में एक युवक से बदमाशों ने सवा लाख रुपये लूट लिए। बताया गया कि हाईवे स्थित एक अस्पताल के पास बदमाशों ने देवबंद के गांव लगपुरा निवासी युवक जाने आलम से लूट की वारदात को अंजाम दिया है। विरोध करने पर बदमाशों ने उसके पैर में गोली भी मार दी। लेकिन युवक ने पुलिस को कोई जानकारी नहीं दी और देवबंद स्थित सरकारी अस्पताल में पहुंच गया।



अस्पताल कर्मियों ने पुलिस को जानकारी दी तो मामला दौराला थाना क्षेत्र का निकला। जिस पर दौराला पुलिस ने युवक को दिनभर साथ लेकर हाईवे पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली। पुलिस मामले को संदिग्ध मानकर चल रही है। पुलिस का मानना है कि युवक के स्वयं गोली लगी है।


देवबंद के गांव लगपुरा निवासी जाने आलम पुत्र अहसान शुक्रवार को दिल्ली में अपने मामा महबूब के यहां गया था। जाने आलम ने बताया कि वह मामा से पांच लाख की नकदी लेकर लौट रहा था। टोल पार करने के बाद एक अस्पताल के सामने बदमाशों ने उसे रोक लिया और एक लाख 26 हजार की नकदी लूट ली। विरोध करने पर बदमाशों ने उसके पैर में गोली मार दी। पीड़ित बिना पुलिस को सूचना दिए देवबंद पहुंच गया। जबकि दौराला थाने के अलावा सकौती चौकी, खतौली थाना, मुजफ्फरनगर थाना भी बीच में था।

यह भी पढ़ें: याकूब पर शिकंजा: पुलिस ने बढ़ाई पूर्व मंत्री की मुश्किलें, बेटा जेल में ले रहा मौज, चौंका देंगे अंदर के राज

देवबंद सरकारी अस्पताल में जाने आलम भर्ती हुआ तो अस्पताल कर्मियों ने देवबंद पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना की जानकारी ली और घटना दौराला की बताई। शनिवार को जाने आलम दौराला पहुंचा और जानकारी दी। पुलिस ने जाने आलम को साथ लेकर टोल पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाली। साथ ही हाईवे पर मेरठ तक कैमरों की फुटेज को खंगाला गया।

यह भी पढ़ें: खतौली का दंगल: पूर्व मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने पढ़ा मुस्लिमों का मन, बोले-बिना भेदभाव विकास कर रही भाजपा

पुलिस का कहना है कि युवक बार-बार बयान बदलता रहा। बाकी पैसों के बारे में पूछा तो युवक ने बताया कि बाकी के पैसे उसने अपने भाई को दे दिए थे। थाना प्रभारी रमाकांत पचौरी का कहना है कि युवक झूठ बोल रहा है। सीसीटीवी कैमरों में भी ऐसा कुछ दिखाई नहीं दिया। कार चलाने के दौरान युवक के स्वयं पैर में गोली लगी होगी। जिस कारण उसने पुलिस को सूचना नहीं दी। मामले की जांच की जा रही है। बताया कि पीड़ित ने इस संबंध में कोई तहरीर नहीं दी है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00