बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
अपार धन की प्राप्ति हेतु कामिका एकादशी को कराएँ श्री लक्ष्मी-विष्णु जी का विष्णुसहस्त्रनाम-फ्री, रजिस्टर करें
Myjyotish

अपार धन की प्राप्ति हेतु कामिका एकादशी को कराएँ श्री लक्ष्मी-विष्णु जी का विष्णुसहस्त्रनाम-फ्री, रजिस्टर करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

मेडिकल कॉलेज के नामकरण डॉ. सोनेलाल पटेल करने का चौरतफा विरोध

लोकार्पण से पहले जिला अस्पताल को उच्चीकृत कर बनाए गए मेडिकल कॉलेज के नामकरण को लेकर चौतरफा विरोध शुरू हो गया है। शासन की तरफ से मेडिकल कॉलेज का नाम डॉ. सोनेलाल पटेल के नाम पर रखने का लोग विरोध कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर लोगों ने इसके खिलाफ अभियान छेड़ दिया है।

उधर, पूर्व विधायक व भाजपा नेता बृजेश सौरभ ने शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस कर इसका विरोध किया। उन्होंने कहा कि जिले का गौरवशाली इतिहास रहा है। वह चाहे आजादी की लड़ाई हो या फिर राजनीति का क्षेत्र। कई ऐसे गौरवशाली लोग रहे हैं, जिन्होंने जिले के उत्थान में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है। उन नामों को खारिज करते हुए मेडिकल कालेज को डा. सोनेलाल पटेल का नाम दिया जाना गलत है। इससे लोगों में गहरी नाराजगी है। इसका पुरजोर विरोध किया जाएगा।

शनिवार को बाबागंज स्थित एक होटल में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान भाजपा नेता बृजेश सौरभ ने कहा कि पार्टी नेतृत्व द्वारा यह निर्णय किन परिस्थितियों में लिया गया है। इसके पीछे की क्या वजह है, यह मुझे नहीं पता। मगर इस निर्णय से लोग आहत हैं। उन्होंने कहा कि जिले में वर्तमान समय में भी ऐसे लोग हैं, जिनसे प्रतापगढ़ की पहचान है। उन्होंने राजाभैया, प्रमोद तिवारी व भाजपा के कैबिनेट मंत्री मोती सिंह का नाम लेते हुए कहा कि यदि मेडिकल कॉलेज का नाम इन तीनों व्यक्तित्वों के नाम पर भी कर दिया जाए तो मुझे कोई गुरेज नहीं।

मगर डॉ. सोनेलाल का नाम बर्दाश्त नहीं है। उन्होंने कहा कि सरदार बल्लभ भाई पटेल का गौरवमय इतिहास है। उनके नाम पर मेडिकल कॉलेज किया जाता तो यह सबको स्वीकार होता। उन्होंने कहा कि डॉ. सोनेलाल पटेल कोई चुनाव भी नहीं जीते। उन्होंने कहा कि सीएम योगी व प्रदेश अध्यक्ष से मांग की गई है कि डॉ. सोनेलाल पटेल के नाम को हटाया जाए। यदि ऐसा नहीं किया गया तो इस निर्णय खिलाफ आंदोलन शुरू किया जाएगा। उधर, सोशल मीडिया पर भी लोग इसके खिलाफ मुहिम चला रहे हैं।

बिजली विभाग के 28 कर्मचारियों का हुआ स्थानांतरण
विद्युत उपकेंदों पर तैनात 28 कर्मचारियों का स्थानांतरण कर दिया गया है। एक्सईएन चंद्रमा प्रसाद ने सभी को जिले के अलग-अलग उपकेंद्रों पर स्थानांतरित किया गया है। उन्होंने बताया कि कुल 28 तकनीशियन का स्थानांतरण किया गया है।
 
भाजपा कार्यालय में प्रेसवार्ता करते भाजयुमो जिलाध्यक्ष रवि गुप्ता। संवाद
भाजपा कार्यालय में प्रेसवार्ता करते भाजयुमो जिलाध्यक्ष रवि गुप्ता। संवाद- फोटो : PRATAPGARH
 
... और पढ़ें

आईसीएसई परिणामः हाईस्कूल में अर्चिता, इंटर में शाश्वत व आयुष्मान जिले के टॉपर

आईसीएसई बोर्ड का हाईस्कूल व इंटर परीक्षा परिणाम शनिवार की शाम घोषित कर दिया गया। परीक्षा में जिले के सभी छात्र-छात्राएं पास हुए हैं। आईसीएसई बोर्ड की हाईस्कूल की परीक्षा में नेशनल पब्लिक स्कूल की अर्चिता श्रीवास्तव ने जिले में पहला स्थान प्राप्त किया है। उन्हें 99.1 प्रतिशत अंक मिले हैं। इसी प्रकार इंटर की परीक्षा में प्रभात एकेडमी के शाश्वत मिश्रा व आयुष्मान त्रिपाठी ने जिले में पहला स्थान प्राप्त किया। दोनों को 91.8 प्रतिशत अंक मिले हैं। शनिवार को परीक्षा का परिणाम घोषित होने के बाद छात्र-छात्राओं की खुशी का ठिकाना न रहा। स्कूल में बच्चों को मिठाई खिलाकर जश्न मनाया गया।

जिले में आईसीएसई बोर्ड के सिर्फ दो विद्यालय हैं। हाईस्कूल में नेशनल पब्लिक स्कूल की अर्चिता श्रीवास्तव 99.1 प्रतिशत अंक हासिल कर जिले की टॉपर बनी हैं। दूसरे स्थान पर रहीं इसी स्कूल की ऐश्वर्य सिंह को 97.7 प्रतिशत अंक मिले हैं। तीसरे स्थान पर इसी स्कूल की खुशी त्रिपाठी को 96.8 व प्रभात एकेडमी की मिली केसरवानी को 96.8 प्रतिशत अंक मिले हैं। नेशनल पब्लिक स्कूल के सिद्धार्थ कुमार को 89.5 प्रतिशत अंक मिले हैं। इसी प्रकार प्रभात एकेडमी के अक्षत सिंह को 96.16, हर्षवर्धन, खुशी कुमार व सुभांशु को 95.16, अंदी सोमवंशी व भार्गवी पांडेय को 94.5, वासुदेव त्रिपाठी को 94, आयुष्मान सिंह को 92 तथा आकृति श्रीवास्तव को 91.5 प्रतिशत अंक मिले हैं।

इसी प्रकार इंटर की परीक्षा में प्रभात एकेडमी के शाश्वत मिश्रा व आयुष्मान त्रिपाठी ने 91.8 प्रतिशत अंक पाकर जिले में पहला स्थान हासिल किया है। दूसरे स्थान पर रहे इसी स्कूल के देवेश सिंह व शिखर प्रताप सिंह को 91.2 प्रतिशत अंक मिले हैं। तीसरे स्थान पर इसी स्कूल के आदित्य शर्मा रहे। इन्हें 90.6 प्रतिशत अंक मिले हैं। इसी स्कूल की इंटर की बालिकाओं में फारेस्ट रेंजर फतेहबहादुर खान की बेटी सानिया को 90.4, प्रिया सावंत को 89.6, संस्कृति शुक्ला व शबनम बानो को 89.2, पूर्णिमा सिंह व खुशी सिंह को 88.4 तथा प्राची सिंह को 87.4 प्रतिशत अंक मिले हैं।
्रभात एकेडमी में आईसीएसई बोर्ड इंटर का परणिाम देख उत्साहित छात्र। संवाद
्रभात एकेडमी में आईसीएसई बोर्ड इंटर का परणिाम देख उत्साहित छात्र। संवाद- फोटो : PRATAPGARH
 
... और पढ़ें

फिर वैक्सीन का संकट, ठप हो गया क्लस्टर अभियान

जिले में फिर वैक्सीन की किल्लत हो गई है। इससे फिर क्लस्टर अभियान ठप हो गया है। शनिवार को अभियान पर रोक लगा दी गई। सिर्फ सीएचसी-पीएचसी में ही टीकाकरण किया गया। यहां भी वैक्सीन कम पड़ गई। सुखपालनगर, रानीगंज और कालाकांकर में टीकाकरण न होने पर लोग हंगामा करते रहे।

वैक्सीन मिलने पर स्वास्थ्य विभाग ने तीन दिनों तक लगातार क्लस्टर अभियान चलाया। दस हजार से अधिक लोगों को प्रतिदिन वैक्सीन दी गई। शनिवार को वैक्सीन की कमी को देखते हुए क्लस्टर अभियान नहीं चलाया गया। सिर्फ सीएचसी और पीएचसी को बूथ बनाकर टीकाकरण किया गया। महज 5310 लोगों को ही टीका लगाया गया। दोपहर बाद अधिकतर बूथों पर वैक्सीन खत्म हो गई। टीका लगवाने के लिए आने वाले लोगों को लौटाया जा रहा था। इससे नाराज लोगों ने सुखपालनगर, कालाकांकर और रानीगंज में जमकर हंगामा किया। अन्य सीएचसी और पीएचसी में भी टीका लगवाने के लिए पहुंचे लोगों की वैक्सीनेटरों से कहासुनी हुई। सहायक प्रतिरक्षाधिकारी ने बताया कि वैक्सीन की डिमांड भेजी गई है।

दूसरे दिन भी नहीं मिले एक भी संक्रमित
जिले में शनिवार को लगातार दूसरे दिन भी एक भी कोरोना संक्रमित मरीज नहीं मिले। इससे स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने राहत की सांस ली है। मौजूदा समय में जिले में पांच एक्टिव केस हैं। इनमें तीन लोग होम आइसोलेशन में हैं, जबकि दो लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।


कोरोना से बचने के लिए वैक्सीन जरूरी : राजकुमार
भारतीय जनता पार्टी कोहड़ौर मंडल के कार्यकर्ताओं ने कोरोना टीकाकरण के विशेष अभियान के अंतर्गत दूसरे दिन सीएचसी कोहड़ौर में कैंप आयोजित किया। मुख्य अतिथि सदर विधायक राजकुमार पाल ने टीकाकरण अभियान का फीता काटकर शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि कोरोना से बचने के लिए टीकाकरण जरूरी है। किसी के बहकावे में न आएं। वैक्सीन लगाकर ही कोरोना को हराया जा सकता है। इस मौके पर डॉ. भरत पाठक, वैक्सीन प्रभारी रत्नेश मिश्रा, सच्चिदानंद मिश्र, डीपी इंसान, पूनम इंसान, रवि, पंकज जायसवाल, प्रदीप आदि लोग मौजूद रहे।
... और पढ़ें

रामराज्य कहकर भाजपा ले आई रावणराज्यः सतीश मिश्रा

बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीश मिश्रा ने कहा कि रामराज लाने की बात कहकर सत्ता में आई भाजपा रावणराज ले आई। केंद्र व प्रदेश सरकार की विफल नीतियों केे चलते हर तरफ लोग परेशान हैं। महंगाई ने जीना दुश्वार कर दिया है। आने वाले विधानसभा चुनाव में जनता भाजपा को सबक सिखाएगी।

रानीगंज विधानसभा के रामनगर में बुधवार को आयोजित बसपा के प्रबुद्घ सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि बसपा के कद्दावर नेता सतीशचंद्र मिश्रा ने कहा कि प्रदेश का ब्राह्मण समाज जागृत हो गया है। आईटी करने वाले युवा बेरोजगार हैं। तिलक-तराजू भाजपा का नारा था। भगवान राम को विष्णु का स्वरूप मानने वाले ब्राह्मण सीधे ईश्वर से जुड़े हैं। बसपा सरकार में अपराधी सलाखों के पीछे रहते थे। गोली चलवाकर कानून का राज स्थापित नहीं किया जा सकता। आज पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्य वृद्घि ने हर वर्ग के लोगों की कमर तोड़ दी है।

प्रदेश के 13 प्रतिशत ब्राह्मण व 23 फीसदी दलित एकजुट होकर सरकार बनाने की तैयारी कर रहे हैं। भाजपा ने ब्राह्मणों के साथ छलावा किया है। प्रदेश सरकार ने संस्कृत विद्यालयों को बंद करा दिया है। आईटी सेंटर के नौजवान पांच हजार रुपये में नौकरी करने को मजबूर हैं। दो करोड़ लोगों को रोजगार देने के बजाय बेरोजगार कर दिया गया। अब युवा रोजगार के लिए भटक रहे हैं। प्रदेश में हर दो घंटे के भीतर दुष्कर्म की घटनाएं हो रही हैं। कानून व्यवस्था पूरी तरह से फेल है। कानून का राज केवल बसपा के शासनकाल में देखने को मिला था।
 
हाथरस की बेटी के साथ दरिंदगी की गई। विरोध प्रदर्शन को देखते हुए घबराई सरकार ने रात में उसके शव को जबरन जलवा दिया। प्रदेश में कई ब्राह्मणों की सामूहिक हत्याएं हुईं। पूर्व मंत्री व बसपा नेता नकुल दुबे ने कहा कि प्रदेश की जनता आज बसपा की ओर बड़ी उम्मीद से देख रही है। भाजपा सरकार में ब्राह्मणों की हत्याएं हुईं और उनका उत्पीड़न किया गया।

अन्याय के खिलाफ आवाज उठाने वालों को जेल भेजा जा रहा है। आयोजक पूर्व विधायक रामशिरोमणि शुक्ला ने सभी के प्रति आभार जताया। सम्मेलन में पूर्व विधायक संजय तिवारी, जिलाध्यक्ष लालचंद्र गौतम, डा. रामसमाज गौतम, रमेश मिश्रा, विजय मिश्र बॉबी, अरुण द्विवेदी, नरेंद्र त्रिपाठी, कमलेश विश्वकर्मा आदि मौजूद रहे।
 

बिकरूकांड और खुशी दूबे की भी हुई चर्चा

कानपुर के बिकरूकांड को भी बसपा नेताओं ने उठाया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की कथनी व करनी में अंतर है। दो दिन पहले शादी कर ससुराल पहुंची खुशी दूबे घर की दहलीज से बाहर भी नहीं निकली होगी, मगर पुलिस ने उसे जेल भेज दिया। महिलाओं के हित की बात करने वाली भाजपा खुशी को जेल भेजने के बाद चुप्पी साधे हुए है।
ानीगंज के रामनगर में बसपा द्वारा आयोजित प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में बोलते राष्ट्रीय महासचिव सतीश
रानीगंज के रामनगर में बसपा द्वारा आयोजित प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में बोलते राष्ट्रीय महासचिव सतीश - फोटो : PRATAPGARH
 
... और पढ़ें
रानीगंज के रामनगर में बसपा द्वारा आयोजित प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में जुटी भीड़। संवाद रानीगंज के रामनगर में बसपा द्वारा आयोजित प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में जुटी भीड़। संवाद

अब फिर गांव-गांव खोजे जाएंगे दूसरे प्रांतों से आने वाले, स्वास्थ्य कर्मचारी करेंगे सर्वे

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से मची तबाही के बाद संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए सरकार के साथ ही प्रशासन भी तैयारियों में जुटा है। एक अगस्त से संभावित तीसरी लहर को देखते हुए अब गांव-गांव परदेसियों को खोजने की रणनीति बनाई जा रही है। स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी गांव-गांव पहुंचकर ऐसे परदेसियों की तलाश करेंगे और उनकी आरटीपीसीआर जांच कराएंगे।

कोरोना संक्रमण काल में भयावह स्थिति का मुख्य कारण गैर प्रांतों से परदेसियों का लौटना और जांच न हो पाना माना जा रहा था। ऐसे में एक अगस्त से संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर शासन के साथ ही स्थानीय प्रशासन भी मुस्तैदी से जुट गया है। इस लहर में बच्चों को प्रभावित होने की आशंका को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग की ओर से ऑक्सीजन प्लांट, आईसीयू वार्ड आदि की व्यवस्था को अंतिम रूप दिया जा रहा है।

जिले में दूसरे प्रदेशों या देशों से आने वाले लोगों की तलाश करने की तैयारी है। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. अरविंद श्रीवास्तव ने बताया कि ग्राम स्तर पर तैनात एएनएम और आशा कार्यकर्ताओं को लगाया गया है। गांव में पहुंचने वाले प्रवासियों की तत्काल सूचना एकत्र करने की तैयारी चल रही है। ऐसे लोगों की आरटीपीसीआर जांच कराने की अनिवार्यता की गई है। प्रवासियों की सूचना न देने पर दोषी स्वास्थ्य कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई होगी।

पहली व दूसरी लहर में घर लौटे थे 2.85 लाख परदेसी
कोरोना संक्रमण काल में रोजी-रोटी के सिलसिले में दिल्ली, मुंबई, गुजरात समेत अन्य प्रांतों में रहने वाले प्रवासी मजदूर बड़ी संख्या में अपने घर लौटे थे। पहली व दूसरी लहर को मिलाकर कुल 2.85 लाख परदेसी घर लौटे थे। इन लोगों के आने के बाद संक्रमण का खतरा बढ़ता चला गया। जिले में सबसे अधिक बाहर से आने वाले लोगों के चलते लोग संक्रमित हुए थे। गैर प्रांतों से आने वाले एक हजार से अधिक प्रवासी मजदूर संक्रमित निकले थे।

प्राइवेट अस्पतालों में भी ऑक्सीजन प्लांट लगाने की तैयारी
कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर को देखते हुए प्राइवेट अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने का निर्देश शासन ने दिया है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से बीस प्राइवेट अस्पतालों को चिह्नित करते हुए संचालकों को ऑक्सीजन प्लांट लगाने का निर्देश दिया गया है।
... और पढ़ें

धान की फसलों पर संकट, अब तक सिर्फ 50 प्रतिशत ही हो सकी है रोपाई

बारिश न होने से धान की फसल पर संकट खड़ा हो गया है। जुलाई माह बीतने को है, मगर खेतों में धूल उड़ रही है। बारिश न होने से धान की रोपाई अब तक सिर्फ 50 प्रतिशत ही हो पाई है। आंकड़ों के अनुसार, जिले में रोपाई के लिए निर्धारित 98 हजार हेक्टेयर लक्ष्य के सापेक्ष महज 51 हजार हेक्टेयर में ही रोपाई हो सकी है। बारिश के इंतजार में बैठे किसानों की नर्सरी भी अब प्रभावित होने लगी है।

जिले में धान की खेती प्रमुख रूप से होती है। इस बार धान की फसल का दायरा भी बढ़ा है। करीब 98 हजार हेक्टेयर में धान की रोपाई का लक्ष्य है। मई व जून के महीने में समुद्री तूफान की वजह से अच्छी बारिश हुई। इस दौरान किसानों ने धान की नर्सरी तैयार कर ली, मगर रोपाई के समय बारिश नहीं हो रही है। आसमान में सिर्फ बादलों की उमड़-घुमड़ बनी हुई है। बारिश नहीं होने से अब तक जिले में सिर्फ 50 प्रतिशत ही रोपाई हो पाई है। किसानों को बारिश का इंतजार है।

धान की नर्सरी तैयार है। खेतों की जुताई भी हो गई है, लेकिन बारिश न होने से खेतों से धूल उड़ रही है। अगैती रोपाई करने वाले किसान भी परेशान हैं। बारिश के अभाव में उनकी फसल सूख रही है। रानीगंज क्षेत्र के थरिया गांव के किसान मानिकचंद्र मिश्र, पट्टी क्षेत्र के शेखपुर अठगंवा के राजेंद्र यादव, कल्लू रजत, शिवगढ़ ब्लाक के छानापार बृजेश यादव, गोपाल के संजय यादव का कहना है कि धान की नर्सरी तैयार हुए पखवारे भर से अधिक हो गया है, मगर खेत में पानी नहीं है। जुताई किए गए खेतों से धूल उड़ रही है। यही हाल रहा तो इस बार रोपाई नहीं हो पाएगी। जिला कृषि अधिकारी डॉ. अश्वनी सिंह ने बताया कि बारिश न होने से रोपाई पिछड़ रही है। रोपी गई फसल पर भी सिंचाई के अभाव में संकट खड़ा हो गया है। इससे पैदावार पर भी असर पड़ेगा।

नहर में टेल तक नहीं पहुंच रहा पानी
नसीरपुर रजबहा में टेल तक पानी नहीं पहुंचने से 50 से अधिक गांवों के किसानों की फसलों की सिंचाई नहीं हो पा रही है। बारिश न होने से धान की फसल सूख रही है। दरअसल, नहर की सफाई में जमकर खेल हुआ है। नसीरपुर रजबहा से हरिपालमऊ, भोजेमऊ, मधवापुर, बघेवरा, छानापार, नहरपुर, धनऊपुर, पांडेयतारा सहित सैकड़ों गांव जुड़े हैं। दिलीप पांडेय, राकेश पांडेय, ललित पांडेय, नागेंद्र सिंह, दिनेश सिंह, केशव प्रसाद शुक्ला आदि किसानों का कहना है कि यदि टेल तक पानी नहीं पहुंचा तो सिंचाई के अभाव में फसल बर्बाद हो जाएगी।
... और पढ़ें

देश संविधान से चलेगा, तानाशाही से नहीं: सांसद संजय सिंह

देश संविधान से चलेगा, तानाशाही से नहीं। देश को सही दिशा में लेकर जाने के लिए हमें संविधान का पालन करना होगा। प्रदेश की योगी व केंद्र की मोदी सरकार इससे अलग राह पर चल रही हैं। भाजपा तानाशाही से देश चलाना चाहती है। 2022 के विधानसभा चुनाव में जनता इसका जवाब देगी। आगामी विधान सभा चुनाव में भाजपा की नैया डूबने वाली है। यह बातें रविवार को आम आदमी पार्टी कार्यालय पर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस के दौरान आम आदमी पार्टी राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहीं।

उन्होंने प्रदेश सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि योगी सरकार में सिर्फ मुकदमेबाजी हो रही है। लोगों की संपत्ति जब्त कर ली जा रही है। अब यह ज्यादा दिनों तक नहीं चलेगा। जनता इसका जवाब देगी। भाजपा सरकार में मूलभूत सुविधाएं हाशिए पर हैं। दावे और वादे हवा-हवाई हैं। बाद में राज्यसभा सांसद संजय ने रानीगंज स्थित कार्यालय पर पहुंचकर कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों से मुलाकात की।

प्रदेश उपाध्यक्ष व सदस्यता अभियान के प्रभारी डॉ. अनुराग मिश्र से सदस्यता अभियान की जानकारी ली। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष दिनेश उपाध्याय, शिवसागर मिश्र, संजीव उपाध्यय, विद्यासागर मिश्र, रामविलास, अर्जुन पासी, विनोद कुमार, राजकुमार, प्रवीण यादव, सत्यप्रकाश आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

पांचवें दिन भी हड़ताल पर रहे एंबुलेंस के कर्मचारी, परेशान हुए मरीज

रानीगंज में आयोजित कार्यक्रम में बोलते आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह। संवाद
अपनी मांगों को लेकर सोमवार को पांचवें दिन भी कर्मचारियों ने एंबुलेंस का संचालन ठप रखा। इससे मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ा। मजबूरी में निजी वाहन से अस्पताल जाना पड़ा। प्रताप बहादुर चिकित्सालय से रेफर मरीजों को प्रयागराज ले जाने के लिए तीमारदारों को परेशान होना पड़ा।

आधुनिक एंबुलेंस का संचालन अब तक जेवीके संस्था कर रही थी। अब फर्म बदलकर किसी और को इसकी जिम्मेदारी दे दी गई है। नई संस्था पुराने कर्मचारियों को हटाकर नए रख रही है। एंबुलेेेंस चालकों का आरोप है कि काम करने की इच्छा जताने वाले कर्मचारियों से ट्रेनिंग के नाम पर बीस-बीस हजार रुपये वसूले जा रहे हैं। जीवनदायनी एंबुलेंस संघ के जिलाध्यक्ष मधुकर सिंह की अध्यक्षता में 108,102 और एलएस एंबुलेंस के चालक और ईएमटी सोमवार सुबह एंबुलेंस लेकर हवाई अड्डा पृथ्वीगंज पहुंच गए। यहां एंबुलेंस खड़ी करने के बाद प्रदर्शन करने लगे।

दिनभर एंबुलेंस का संचालन ठप रहा। इससे मरीजों को परेशान होना पड़ा। जिलाध्यक्ष मधुकर सिंह ने कहा कि कर्मचारियों का मानदेय बढ़ाने को कौन कहे, लगातार घटाया जा रहा है। बाद में उन्होंने मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन सीएमओ को सौंपा। इस दौरान कर्मचारियों का मानदेय बढ़ाए जाने के साथ संविदा कर्मचारी का दर्ज दिलाए जाने की मांग की।

कोरोना काल में किए गए कार्य के लिए 25 प्रतिशत अतिरिक्त मानदेय दिलाए जाने की मांग की। इस मौके पर शमशेर यादव, मुस्ताक अहमद, राजबहादुर यादव, नीरज, गौरव दूबे, कृष्णचंद्र चादव, बृजेश कुमार, रामदयाल गुप्ता, दिनेश यादव, रवि सिंह, अमित कुमार समेत 108, 102 और एलएस एंबुलेंस के कर्मचारी मौजूद रहे।

प्रसव पीड़िताओं को नहीं मिली एंबुलेंस, ई-रिक्शा से लेकर पहुंचे अस्पताल
कोहड़ौर इलाके में एंबुलेंस की सुविधा न मिलने से प्रसव पीड़िताओं को परेशान होना पड़ा। परिजन प्राइवेट वाहनों से प्रसव पीड़िताओं को लेकर अस्पताल आ रहे थे। कोहड़ौर के लोहारन का पुरवा निवासी रीता वर्मा गर्भवती थी। सोमवार को उसे प्रसव पीड़ा शुरू हो गई। परिजन 102 एंबुलेंस को फोन मिलाते रह गए, मगर एंबुलेंस नहीं आई। इस पर ई-रिक्शा से प्रसव पीड़िता को लेकर कोहड़ौर सीएचसी पहुुंचे।

चालकों की हड़ताल की सूचना मुख्यालय पर दी गई है। उनके हड़ताल पर जाने से कार्य प्रभावित हुआ है। मरीजों को परेशान होना पड़ा है। प्रयास है कि कर्मचारियों को समझाबुझाकर काम लिया जाए। कुछ ऐसे लोग हैं जो अन्य कर्मचारियों को भड़काने में लगे हैं। उनके खिलाफ लिखापढ़ी की जा रही है। सचिनराज श्रीवास्तव, प्रोग्राम मैनेजर, 108 एंबुलेंस
पृथ्वीगंज हवाई अड्डे पर मांगों को लेकर एम्बुलेंस के साथ धरने पर बैठे चालक। संवाद
पृथ्वीगंज हवाई अड्डे पर मांगों को लेकर एम्बुलेंस के साथ धरने पर बैठे चालक। संवाद- फोटो : PRATAPGARH
 
... और पढ़ें

मेडिकल कॉलेज के नाम को लेकर छिड़ी रार, गरमाई सियासत

स्वशासी मेडिकल कॉलेज के नाम को लेकर जिले में रार छिड़ गई है। अपना दल के संस्थापक डॉ. सोनेलाल पटेल के नाम पर कॉलेज का नाम रखने के विरोध में सोमवार को बेल्हा नागरिक स्वाभिमान संघर्ष मोर्चा के बैनर तले लोगों ने विरोध मार्च निकाला। एलान किया कि नाम बदलने तक संघर्ष जारी रहेगा। 30 जुलाई तक अभियान चलेगा। इस दौरान भूख हड़ताल व आमरण अनशन की रणनीति बनाई जाएगी।

जिला अस्पताल को उच्चीकृत कर मेडिकल कॉलेज बनाने के बाद इसके नामकरण को लेकर सियासत तेज हो गई है। शासन ने कॉलेज का नाम अपना दल के संस्थापक डॉ. सोनेलाल पटेल के नाम पर रखा है।

अब लोग इसके विरोध में उतर आए हैं। सोशल मीडिया से शुरू हुआ विरोध सोमवार को सड़क तक पहुंच गया। सोमवार को बेल्हा नागरिक स्वाभिमान संघर्ष मोर्चा की ओर से लोग हाथों में तख्तियां लेकर शहीद उद्यान पहुंचे। जिस पर लिखा था कि बेल्हा की विभूतियों का अपमान नहीं सहेंगे।

जातिवादी मानसिकता का फैसला नहीं चलेगा और बेल्हा की माटी के सम्मान में, हम सब मैदान में। दर्जनों लोगों ने नारेबाजी करते हुए लौह पुरुष सरदार पटेल की प्रतिमा के पास पहुंचकर माल्यार्पण किया। इसके बाद जुलूस निकालकर चौक घंटाघर पहुंचे। इस दौरान पुलिस भी जुलूस के आगे पीछे भागती रही। विरोध प्रदर्शन में शामिल लोगों का कहना था कि मेडिकल कॉलेज का नाम बदलने तक संघर्ष जारी रहेगा। किसी भी कीमत पर मेडिकल कॉलेज का नाम डॉ. सोनेलाल के नाम से स्वीकार्य नहीं है।

इस मौके पर अभिषेक तिवारी, अच्युतानंद पांडेय, प्रदीप शुक्ला, वीके श्रीवास्तव, आसिफ अली, संदीप शुक्ला, रमाशंकर तिवारी, नीरज मिश्रा, गुड्डू पठान, जावेद अहमद, अभिषेक दुबे, आचार्य आलोक मिश्र, विवेक, मनीष दुबे, कुलदीप सिंह, आलोक तिवारी, कमलेश, धर्मराज सिंह आदि लोग मौजूद रहे। विरोध मार्च का समापन करते हुए प्रसपा के जिलाध्यक्ष अबरार जहानियां ने कहा कि डॉ. सोनेलाल पटेल के नाम पर कॉलेज के नाम पर स्वीकार्य नहीं है।

बेल्हा का सम्मान बचाने के लिए जारी रहेगा संघर्ष, आज हस्ताक्षर अभियान
बेल्हा नागरिक स्वाभिमान मोर्चा की ओर से मेडिकल कॉलेज का नाम बदलने को लेकर मंगलवार को सुबह दस बजे से अंबेडकर चौराहा, कलेक्ट्रेट, चौक घंटाघर और भंगवाचुंगी पर हस्ताक्षर अभियान चलेगा। इसके अलावा 28 जुलाई को अंबेडकर चौराहे से कलेक्ट्रेट तक मानव श्रृंखला बनाकर विरोध जताया जाएगा। 29 जुलाई को सरदार पटेल चौराहा से चौक घंटाघर तक कैंडल मार्च निकाला जाएगा। 30 जुलाई को नाम परिवर्तन के विरोध में काला दिवस मनाया जाएगा। शाम को प्रस्तावित बैठक के बाद अनिश्चितकालीन धरना व भूख हड़ताल की घोषणा की जाएगी।

अधिवक्ताओं ने सौंपा ज्ञापन
जूनियर बार एसोसिएशन पुरातन के पूर्व महामंत्री दिनेश पांडेय ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर मेडिकल कॉलेज का नाम धर्म सम्राट स्वामी करपात्रीजी के नाम करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि विश्व के कल्याण के लिए धर्म की जय हो, अधर्म का नाश हो का नारा देने वाले महापुरुष के नाम पर कॉलेज का नाम रखा जाना चाहिए। इस मौके पर विनोद चंद्र त्रिपाठी, अनिल कुमार, प्रेमचंद्र सरोज, संतोष, सर्वेश, दारा सिंह, प्रेमचंद्र, बृजेश शर्मा समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

पूर्व विधायक व अद एस नेता आशीष पटेल आमने-सामने
स्वशासी मेडिकल कॉलेज के नामकरण लेकर भाजपा नेता और पूर्व विधायक बृजेश मिश्र सौरभ व अद एस नेता व विधान परिषद सदस्य आशीष पटेल के बीच सोशल मीडिया पर जंग छिड़ी हुई है। सोशल मीडिया पर दोनों एक-दूसरे पर हमला बोल रहे हैं। इस बीच पूर्व विधायक ने प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन देकर मेडिकल कॉलेज का नाम बदलने की मांग की। वहीं सदर विधायक राजकुमार पाल ने भाजपा नेता व पूर्व विधायक की मांग को गलत ठहराया है। मेडिकल कॉलेज का नाम अद संस्थापक डॉ. सोनेलाल पटेल के नाम पर रखने के बाद जिले की राजनीति में एक बार फिर उबाल है। सत्ता दल के नेता भी मेडिकल कॉलेज के नाम को लेकर मुखर विरोध कर रहे हैं।

भाजपा नेता व पूर्व विधायक बृजेश सौरभ ने तो साफ-साफ कहा कि मेडिकल कॉलेज का नाम डॉ. सोनेलाल पटेल के नाम पर स्वीकार्य नहीं है। सोशल मीडिया पर वह इसे लेकर लगातार पोस्ट कर रहे हैं। पूर्व विधायक के बयान पर अद एस के कार्यकारी अध्यक्ष आशीष पटेल ने फेसबुक पर जवाब देते हुए लिखा कि मेडिकल कॉलेज का नाम बदलने की मांग करने वाले पूर्व विधायक सामंतवादी सोच का परिचय दे रहे हैं। प्रतापगढ़ ही नहीं पूरे प्रदेश के कमेरा समाज को हक दिलाने के लिए डॉ. सोनेलाल पटेल जीवन पर्यंत संघर्ष करते रहे।

इस पर पूर्व विधायक बृजेश सौरभ ने फिर पलटवार किया। उन्होंने लिखा कि जिले की माटी में कम कर्मयोगी नहीं रहे। देश को आजादी दिलाने से लेकर शिक्षा व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने वालों की कमी नहीं है। मेडिकल कॉलेज का नाम चाहे सरदार पटेल के नाम रख दिया जाए, मगर डॉ. सोनेलाल पटेल के नाम से मंजूर नहीं है।

वहीं दूसरी ओर अपना दल एस के सदर विधायक राजकुमार पाल ने कहा कि मेडिकल कॉलेज का नाम डॉ. सोनेलाल पटेल के नाम से होना किसानों व मजलूूूमों का सम्मान है। पूर्व विधायक बृजेश सौरभ द्वारा खुलकर विरोध करना दुर्भाग्यपूर्ण है। उनकी गलतबयानी से दोनों दलों के विचारों में मतभेद की संभावना तेज होगी। अद एस के राष्ट्रीय महासचिव राजेंद्र प्रसाद पाल ने कहा कि विरोधी दल नाम को लेकर विरोध करें तो कोई बात नहीं। भाजपा नेता अपने ही प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के निर्णय को गलत ठहराने का प्रयास कर रहे हैं। बाबा साहब आंबेडकर के नाम का कोई विरोध नहीं करता।

अद जिलाध्यक्ष बृजेश पटेल ने कहा कि पूर्व विधायक अपना दल व भाजपा गठबंधन धर्म का मजाक उड़ा रहे हैं। सस्ती लोकप्रियता हासिल करने के लिए भाजपा नेता गलत बयानबाजी कर रहे हैं। भाजपा नेतृत्व ऐसे नेता के खिलाफ कार्रवाई करे।
पीडब्ल्यूडी डाक बंगले में आयोजित प्रेसवार्ता में बोलते सदर विधायक राजकुमार पाल। संवाद
पीडब्ल्यूडी डाक बंगले में आयोजित प्रेसवार्ता में बोलते सदर विधायक राजकुमार पाल। संवाद- फोटो : PRATAPGARH
 
... और पढ़ें

दोनों पक्षों में तनाव देख हरिहरगंज बाजार में पुलिस कर रही कैम्प

थाना क्षेत्र के हरिहरगंज बाजार में फायरिंग में घायल भाजपा कार्यकर्ता मोनू तिवारी की हालत अब खतरे से बाहर है। प्रयागराज स्थित अस्पताल में डॉक्टरों ने ऑपरेशन कर शरीर में फंसी बुलेट बाहर निकाली। गोली लगने से घायल उनके साथी जयप्रकाश चौरसिया का भी उपचार चल रहा है। सोमवार को घटना के दूसरे दिन भी पीड़ित पक्ष ने पुलिस को तहरीर नहीं दी।

वहीं घटना को लेकर दो वर्गों के बीच तनाव को देखते हुए हरिहरगंज बाजार में क्षेत्राधिकारी डॉ. अतुल अंजान त्रिपाठी ने पुलिस बल तैनात कर दिया है। क्षेत्राधिकारी ने बताया कि आरोपियों की तलाश में पुलिस दबिश दे रही है।

पुरानी रंजिश में युवक को मारी गोली
पुरानी रंजिश में कुछ लोगों ने युवक को गोली मार दी। इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
थाना क्षेत्र के सरायरतऊ निवासी सलमान (26) अपने साथी महरूफ के साथ सोमवार को गंभीरपुर गांव में गया था। पचरास गांव के कुछ युवकों से उसकी रंजिश चल रही है।

वहां विरोधियों ने सलमान को देखते ही दौड़ा लिया। पचरास टंकी के पास उसे गोली मार दी। जिससे सलमान की नाक उड़ गई। पुलिस उसे सीएचसी ले गई, जहां हालत गंभीर देख डॉक्टरों ने मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। क्षेत्राधिकारी अतुल अंजान त्रिपाठी ने बताया कि दो पक्षों में मारपीट हुई है। गोली मारने का आरोप गलत है।
... और पढ़ें

टाइनी शाखा संचालक के बेटे से लूट का प्रयास, बदमाशों ने झोंका फायर

बैंक से रुपये लेकर टाइनी शाखा जा रहे संचालक के बेटे के साथ बाइक सवार नकाबपोश तीन बदमाशों ने लूटपाट का प्रयास किया। बाइक न रोकने पर उस पर फायर झोंक दिया। हालांकि वह बाल-बाल बच गया। कोहड़ौर थाना क्षेत्र के मदाफरपुर बाजार में अतरसंड निवासी मोहम्मद असलम एसबीआई ग्राहक सेवा केंद्र का संचालन करते हैं। सोमवार दोपहर उनका बेटा मोहम्मद इब्राहिम चिलबिला मुख्य शाखा से दो लाख रुपये निकालकर बाइक से मदाफरपुर जा रहा था। अतरसंड नहर पार करने के बाद कुछ दूरी पर नकाबपोश तीन बाइक सवार बदमाशों ने उसे रोकने का प्रयास किया।

उनकी मंशा समझते ही इब्राहिम ने बाइक की रफ्तार बढ़ा दी। यह देख बदमाशों ने उस पर फायर झोंक दिया। हालांकि गोली उसे नहीं लगी। फायरिंग की आवाज सुनकर आसपास के लोगों ने बदमाशों के ऊपर ईंट-पत्थर फेंकना शुरू कर दिया। खुद को घिरते देख बदमाश कोहड़ौर की ओर भाग निकले। मौके पर पहुंची पुलिस घटना की छानबीन करने लगी।

बता दें कि पिछले साल कंधई के साल्हीपुर में बदमाशों ने असलम को लूटने का प्रयास किया था। इसके पहले 2016 में भी असलम को कटारी के पास गोली मारकर लूटने की कोशिश की जा चुकी है। सीओ सिटी अभय पांडेय ने बताया कि बदमाशों को खोजने के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं।

गल्ला व्यापारी को चाकू मारने में पांच के खिलाफ मुकदमा
गल्ला व्यापारी के ऊपर चाकू से प्रहार करने के मामले में पुलिस ने पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। कोहड़ौर थाना क्षेत्र के नई बाजार रामापुर में ट्रक हटाने को लेकर गत दिनों हुए विवाद के दौरान पड़ोसी ने शिवशंकर गुप्ता को चाकू मार दिया था। पीड़ित के भाई करुणा शंकर की तहरीर पर पुलिस ने अरुण कुमार, मनोज कुमार, मनीष कुमार, रवी कुमार व शनि कुमार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।

कार का शीशा तोड़कर डेढ़ लाख रुपये उड़ाए
बेखौफ बदमाशों ने खड़ी कार का शीशा तोड़कर डेढ़ लाख रुपये उड़ा दिए। जानकारी के बाद कार मालिक ने पुलिस को सूचना दी। काफी खोजबीन के बाद भी बदमाशों को सुराग नहीं लगा। मानिकपुर के लाला बाजार निवासी अनिल सिंह सोमवार को अपनी कार पीडब्ल्यूडी चौराहे के पास खड़ी कर काम निपटाने गए थे। इस दौरान टप्पेबाजों ने कार का शीशा तोड़कर डेढ़ लाख रुपयों से भरा बैग उड़ा दिया। लौटने पर अनिल को जानकारी हुई। पुलिस भी छानबीन के बाद लौट गई।
... और पढ़ें

परिजनों ने लगाया लापरवाही का आरोप, काटा हंगामा

सीएमओ की नाक के नीचे अवैध रूप से संचालित नर्सिंगहोम में जच्चा-बच्चा की मौत हो गई। इससे नाराज परिजनों ने लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। खबर मिलने पर पुलिस पहुंची और किसी तरह उन्हें शांत कराया। नगर कोतवाली के चांदपुर निवासी रूपा (24) गर्भवती थी।

तीन दिन पहले प्रसव पीड़ा होने पर परिजन उसे मेडिकल कॉलेज की महिला विंग में ले गए। यहां बुखार होने के कारण चिकित्सकों ने भर्ती करने से इनकार कर दिया। आरोप है कि साथ में रही आशा के साथ कुछ दलाल उसे मेडिकल कॉलेज से सटे एक नर्सिंगहोम में लेकर पहुंचे। यहां उसका प्रसव कराया गया। इसके कुछ देर बाद ही नवजात की मौत हो गई।

बाद में प्रसूता ने भी दम तोड़ दिया। इसे लेकर परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया। डिप्टी सीएमओ एसके सिंह ने बताया कि कि मैं जांच के लिए गया था। मृतक के परिजनों ने किसी प्रकार की शिकायत नहीं की है।
... और पढ़ें

प्रतापगढ़ : चुनावी रंजिश में भाजपा नेता समेत दो लोगों को मारी गोली

रानीगंज इलाके में रविवार को चुनावी रंजिश में चाय पी रहे भाजपा कार्यकर्ता समेत दो लोगों को प्रधान पक्ष के लोगों ने गोली मार दी। बाजार में करीब दस राउंड फायरिंग होने से भगदड़ मच गई। आनन-फानन में घायलों को मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। वहां दोनों की हालत गंभीर देख डाक्टरों ने एसआरएन रेफर कर दिया। उधर, घटना के बाद एक आरोपी को पुलिस ने हिरासत में लिया है। 

रानीगंज थाना क्षेत्र के संडौरा निवासी अमित कुमार तिवारी उर्फ मोनू तिवारी (26) भाजपा कार्यकर्ता हैं। उन्होंने इस बार पंचायत चुनाव में प्रधान पद के लिए गांव के जयप्रकाश चौरसिया (25) को मैदान में उतारा था। जयप्रकाश को चुनाव में हार मिली थी। रविवार दोपहर करीब दो बजे मोनू तिवारी और जयप्रकाश हरिहरगंज बाजार स्थित राकेश सोनी की दुकान पर चाय पीने के लिए बैठे थे। तभी थाहीपुर की ओर से चार बाइक से आठ लोग वहां पहुंचे। बाइक से उतरते ही राकेश सोनी की दुकान पर चाय पीने बैठे मोनू व जयप्रकाश पर फायरिंग शुरू कर दी।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us