लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Varanasi News ›   BHU convocation 11 promising will get chancellor and 80 will get gold medal

BHU convocation 2022: किसे मिलेगा चांसलर मेडल और किसे मिलेगा गोल्ड, पढ़िए पूरी लिस्ट

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, वाराणसी Published by: किरन रौतेला Updated Wed, 07 Dec 2022 11:30 AM IST
सार

बीएचयू का दीक्षांत समारोह दो साल बाद 10 दिसंबर को होगा। इसकी तैयारियां तेजी से चल रही हैं। इस बार तीन शैक्षिक सत्रों में उत्तीर्ण स्नातक, स्नातकोत्तर व शोध के 35,832 छात्र-छात्राओं को उपाधियां दी जाएंगी। यूनिवर्सिटी प्रशासन की तरफ से मंगलवार को मेडल पाने वाले छात्र-छात्राओं के नाम की सूची जारी कर दी गई है।

काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू)
काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

बीएचयू के 102वें दीक्षांत समारोह में तीन शैक्षिक सत्रों के 91 होनहारों को 113 पदक दिए जाएंगे। इनमें से 11 को चांसलर मेडल मिलेगा, जो सर्वश्रेष्ठ की श्रेणी में आता है। 80 होनहारों को गोल्ड मेडल दिए जाएंगे। मेडल की सूची में बेटियों का दबदबा है। 91 की सूची में 63 बेटियों ने जगह बनाई है। 28 लड़कों को मेडल मिलना है। 

बीएचयू का दीक्षांत समारोह दो साल बाद 10 दिसंबर को होगा। इसकी तैयारियां तेजी से चल रही हैं। इस बार तीन शैक्षिक सत्रों में उत्तीर्ण स्नातक, स्नातकोत्तर व शोध के 35,832 छात्र-छात्राओं को उपाधियां दी जाएंगी। यूनिवर्सिटी प्रशासन की तरफ से मंगलवार को मेडल पाने वाले छात्र-छात्राओं के नाम की सूची जारी कर दी गई है। 2022 में 12,050 छात्र-छात्राएं उत्तीर्ण हुई हैं। 2021 में 12,032 और 2020 में 11,750 छात्र-छात्राओं ने परीक्षा पास की थी। 

 
इन्हें मिलेगा चांसलर मेडल
वर्ष 2022 
बागीश ओझा, आचार्य सांख्ययोग फाइनल
दीपक कुमार उपाध्याय , आचार्य वेदांत फाइनल
अभिनायक मिश्रा,  आचार्य वेदांत फाइनल
दीप्ति कपूर,  शास्त्री फाइनल।
 वर्ष 2021
अपूर्वा, एमएससी बॉटनी
प्रशांत मिश्रा,  मॉस्टर आफ परफर्मिंग आर्ट फाइनल
मिथिलेश पांडेय, आचार्य वेद फाइनल
अजय कृष्ण तिवारी, आचार्य वेद 
भद्रा प्रिया के,  बैचलर आफ परफार्मिंग आर्टस।
वर्ष 2020
धीरज द्विवेदी, आचार्य ज्योतिष 93.8 प्रतिशत      
देवकी मिश्रा, शास्त्री फाइनल

 
कोट
 राष्ट्रीय शिक्षा नीति में भारतीय ज्ञान परंपरा को प्रमुखता दी गई, जो संस्कृत भाषा पर आधारित है। इससे संस्कृत के शोध छात्रों को नवाचार करने का प्रोत्साहन मिलेगा। दीक्षांत समारोह में सर्वाधिक चांसलर मेडल मिलने से निश्चित ही छात्रों का उत्साह बढ़ेगा।-प्रो. हरेराम त्रिपाठी, कुलपति, संस्कृत विश्वविद्यालय 

परीक्षा चाहे कोई भी हो, सभी छात्रों को बेहतर करने का प्रयास करना चाहिए। पढ़ाई के दौरान मिलने वाले मेडल व उपाधियां ही छात्र जीवन के बेशकीमती उपहार होते हैं। इससे छात्रों को आगे बढ़ते रहने की प्रेरणा मिलती रहती है।-प्रो. सुधीर कुमार जैन, कुलपति, बीएचयू 
---------

बीएचयू का सुपरस्पेशियलिटी ब्लॉक
बीएचयू का सुपरस्पेशियलिटी ब्लॉक - फोटो : फाइल
इन्हें गोल्ड मेडल
2022 (31 में 22 बेटियां)

बागीश ओझा आचार्य सांख्ययोग , दीपक कुमार उपाध्याय आचार्य वेदांत, अभिनायक मिश्रा आचार्य वेदांत, दीप्ति कपूर शास्त्री फाइनल, इशान घोष  बैचलर आफ परफार्मिंग आर्टस वोकल, अभिषेक मिश्रा, हर्षिता मिश्रा बीएससी आनर्स केमिस्ट्री, अंजली सिंह एमएससी बॉटनी, हिमांशी सिंह एमएससी एग्रो, भव्या बीएससी कृषि, विदित ओबरॉय एमएससी हेल्थ स्टैटिक्स, रवि कुमार बीएससी नर्सिंग, प्रियंका सिंह बीफार्मा आयुर्वेद, कंचन राय एमफार्मा आयुर्वेद, अहाना चंद्रा बीडीएस, बप्पादित्य भट्टाचार्य एमडीएस, उन्नति निगम एमए स्टैटिक्स, दीक्षा प्रिया बीवॉक मेडिकल लैबौट्री, नंदिनी भट्टाचार्य एमए साइकोलॉजी, अंजलि अग्रवाल बीए आनर्स साइकोलॉजी, तान्या चंद्रायन बीकॉम आनर्स, तनिष्क श्रीवास्तव एमकॉम, पूजा कुमारी एमबीए एग्री बिजनेस, अदिति तिवारी बीएड, विभूलिना मिश्रा एमएड, आकांक्षा अवस्थी बीए एलएलबी आनर्स , आदिति शर्मा एलएलएम, प्रगति एलएलएम, आकांक्षा पांडेय एमएससी इन्वायरन्मेंटी साइंस, विभू कपिल बीएफए अप्लायड आर्ट्स, अंतरा चक्रवर्ती एमएफए टेक्सटाइल डिजाइन।

2021 (31 में 24 बेटियां)
अपूर्वा एमएससी बॉटनी, प्रशांत मिश्रा मास्टर ऑफ परफार्मिंग आर्ट्स, मिथिलेश पांडेय आचार्य वेद, अजय कृषण तिवारी आचार्य वेद, भ्रद्रा प्रिया के  बैचलर आफ परफार्मिंग आर्ट्स, अमन कुमार पाठक  शास्त्री फाइनल, आकांक्षा कुमारी               बीएससी आनर्स जियोलॉजी, पनीरु वेनेला एमएससी कृषि, प्रज्जवल राय बीएससी कृषि, कृतिका श्रीवास्तव एमएससी हेल्थ स्टैटिक्स, सुरभि भगत, बीएससी नर्सिंग, आकांक्षा जायसवाल बीएएमएस फाइनल, कोमल शर्मा एमफार्मा आयुर्वेद, त्रुप्ति जैन बीडीएस, रिया गर्ग एमडीएस फाइनल, बद्री विशाल पांडेय एमए संस्कृत, अन्नया सिंह बीए आनर्स स्टैटिक्स, इशु गुलाटी एमए साइकोलॉजी, गिनी कुमारी बीए आनर्स इकोनामिक्स, जासरा आफताब बीकॉम आनर्स, प्रज्ञा जायसवाल एमकॉम, स्वाती पांडेय एमबीए एग्री बिजनेस, दिशा वेटल बीएड, दीपिका गुप्ता बीएड, हिमालय पुत्र भट्टाचार्य एमएड, निहारिका मित्तल बीए एलएलबी, आशी सोनिक एलएलएम, चांदनी कुमारी एलएलएम, मेघोमाला घोषाल एमएससी पर्यावरण विज्ञान, गौरव केशरवानी बीएफए टेक्सटाइल डिजाइन, वैशाली वर्मा एमएफए टेक्सटाइल डिजाइन।

IIT BHU
IIT BHU - फोटो : IIT BHU Cultural Festival Kashiyatra varanasi
2020 (29 में 17 बेटियां)
धीरज द्विवेदी आचार्य ज्योतिष 93.8 प्रतिशत, देवकी मिश्रा शास्त्री फाइनल व श्रेया मिश्रा बैचलर आफ परफार्मिंग आर्ट, अलंकृता राय  मास्टर आफ परफार्मिंग आर्ट, सोहम घोष  बीएससी आनर्स केमिस्ट्री, शीना तनेजा एमसीए अप्लीकेशन फाइनल, जेडए मिचेल एमएससी कृषि, मिट्ी व जल सरंक्षण,  साक्षी कुमारी बीएससी कृषि फाइनल , अनिकेत कुमार सिंह एमएससी हेल्थ स्टैटिक्स, आनंद शाही  एमबीबीएस फाइनल, कंचन राय बीफार्मा, विजयश्री सत्यपाठी एमडी/एमएस आयुर्वेद,वरुण गुप्ता बीडीएस फाइनल, हिमानी पेन्युली  एमडीएस फाइनल, अभिषेक शुक्ला एमए संस्कृत  विपिन मिश्रा बीए आनर्स कला, सुरेंद्र गुप्ता  एमए इतिहास, नंदिनी भट्टाचार्य,  बीए ऑनर्स मनोविज्ञान, तृप्ति मंध्यान बीकॉम  आनर्स,  जागृति गुप्ता एमकॉम फाइनल, श्रेया भोटिका एमबीए, श्रद्धा यादव बीएड, हर्षिता राय, बीएड, गरिमा टंडन एमएड, इशा राय बीए एलएलबी, प्रत्युष पांडेय एलएलम एक वर्षीय, आयुष अग्निहोत्री एमएससी पर्यावरण विज्ञान, निखिल कुमार राय  बीएफए अप्लायड आर्ट्स व अंकिता एमएफए।
 
मेधावियों की बात-
असिस्टेंट प्रोफेसर बनने का है सपना

चांसलर मेडल पाना जीवन की बड़ी उपलब्धि है। आगे चलकर असिस्टेंट प्रोफेसर बनने का सपना है, इसके लिए शोध कार्य कर रहा हूं। स्नातक में 88 प्रतिशत अंक मिले थे। विभाग स्तर से पदक भी मिला था। इसके बाद ही और बेहतर प्रदर्शन का फैसला किया था। -धीरज द्विवेदी, आचार्य ज्योतिष, संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय

शास्त्रीय संगीत का प्रचार-प्रसार जीवन का मकसद
शास्त्रीय संगीत का प्रचार- प्रसार करना जीवन का मकसद है। उसे पूरा करने के लिए केरल से अध्ययन करने काशी चली आई। बांसुरी वादन में अध्ययन कर रही हूं। चांसलर मेडल मिलने की खबर पाकर बहुत खुश हूं। केरल में लोगों को शास्त्रीय संगीत सिखाऊंगी।-भद्रा प्रिया के, बीपीए, संगीत एवं मंच कला संकाय
 

दूसरी बार चांसलर मेडल मिलना गौरव की बात 
वर्ष 2018 में स्नातक में चांसलर मेडल मिला था। इसके बाद से ही स्नातकोत्तर की तैयारी शुरू कर दी थी। इस बार भी चांसलर मेडल मिल रहा है। यह गौरव की बात है। फिलहाल, अलग-अलग जगहों पर आयोजित कार्यक्रमों की प्रस्तुति चलती रहती है, लेकिन आगे चलकर असिस्टेंट प्रोफेसर बनना है। -प्रशांत मिश्रा, एमपीए, संगीत एवं मंचकला संकाय

शास्त्रीय की पढ़ाई उड़ीसा से करने काशी चली आई। डॉक्टर बनने का इरादा था, लेकिन बारहवीं कक्षा के बाद संस्कृत से लगाव हो गया। पिता का सपना था कि प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हो जाऊं, जो पूरा हो गया। मेडल मिलने से उत्साहित हूं। - देवकी मिश्रा, शास्त्रीय संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय

एक नजर में
कुल पदक    91
चांसलर पदक  11
गोल्ड मेडल     11
बीएचयू मेडल    79 
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00