बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
अपार धन की प्राप्ति हेतु कामिका एकादशी को कराएँ श्री लक्ष्मी-विष्णु जी का विष्णुसहस्त्रनाम-फ्री, रजिस्टर करें
Myjyotish

अपार धन की प्राप्ति हेतु कामिका एकादशी को कराएँ श्री लक्ष्मी-विष्णु जी का विष्णुसहस्त्रनाम-फ्री, रजिस्टर करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

उत्तराखंड में कोरोना: 22 नए संक्रमित मिले, एक भी मरीज की मौत नहीं, 95 हजार से ज्यादा को लगी वैक्सीन

उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में 22 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। वहीं एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है। जबकि 45 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया। वहीं, सक्रिय मामलों की संख्या 609 पहुंच गई है। 

उत्तराखंड: कोविड कर्फ्यू को अभी जारी रख सकती है सरकार, लेकिन ऐसा करने वालों काे मिलेगी छूट

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, रविवार को 21238 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। वहीं पांच जिलों अल्मोड़ा, बागेश्वर, चमोली, टिहरी और ऊधमसिंह नगर में एक भी संक्रमित मरीज सामने नहीं आया है। वहीं, चंपावत और नैनीताल में एक-एक, देहरादून में पांच, हरिद्वार और पौड़ी में दो-दो, पिथौरागढ़ में तीन, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी में चार-चार संक्रमित मिले हैं। 

प्रदेश में अब तक कोरोना के कुल संक्रमितों की संख्या 342161 हो गई है। इनमें से 328153 लोग ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना के चलते अब तक कुल 7362 लोगों की जान जा चुकी है।  

ब्लैक फंगस का एक नया मरीज
प्रदेश में तीन दिन के बाद ब्लैक फंगस का एक नया मरीज मिला है। हेल्थ बुलेटिन के अनुसार देहरादून जिले में एक मरीज में ब्लैक फंगस की पुष्टि हुई है। मरीज को इलाज के लिए एम्स ऋषिकेश में भर्ती कराया गया है। जबकि छह मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया है। कुल मरीजों की संख्या 556 हो गई है। जिनमें से 236 मरीज स्वस्थ हो हुए हैं जबकि 124 मरीजों की मौत हो चुकी है।

95 हजार से अधिक लोगों को लगा टीका
केंद्र से नियमित रूप से कोविड वैक्सीन उपलब्ध होने से प्रदेश में टीकाकरण की रफ्तार बढ़ गई है। लंबे समय के बाद रविवार को प्रदेश में 95 हजार से अधिक लोगों को वैक्सीन की पहली या दूसरी डोज लगाई गई। राज्य प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ.कुलदीप मर्तोलिया ने बताया कि रविवार को केंद्र से 11 हजार कोवाक्सिन की डोज राज्य को मिली है। वहीं, पूरे प्रदेश में 520 केंद्रों पर 95874 लोगों को टीके लगाए गए। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार की ओर से राज्य को नियमित रूप से कोविशील्ड व कोवाक्सिन टीके उपलब्ध कराए जा रहे हैं। प्रदेश में अब तक 59 लाख से अधिक लोगों को कोविड टीके लगाए जा चुके हैं।
... और पढ़ें
कोरोना वायरस की जांच (प्रतीकात्मक तस्वीर) कोरोना वायरस की जांच (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कांवड़ यात्रा स्थगित: हरिद्वार से सात दिन में 15391 कांवड़िएं बॉर्डर से भेजे वापस, 54 पर मुकदमा दर्ज

हरिद्वार में कांवड़ यात्रा प्रतिबंधित होने के बाद बॉर्डर पर सख्ती जारी है। पिछले सात दिनों में सख्ती के चलते 15391 कांवड़ियों को पुलिस ने बॉर्डर से लौटाया है। वहीं अब तक 29 एफआईआर अलग-अलग थानों में दर्ज कर 52 लोगों को आरोपी बनाया है। 

कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के चलते कांवड़ यात्रा प्रतिबंधित है। कांवड़ियों को धर्मनगरी में आने से रोकने के लिए जिले में छह थाना क्षेत्रों के बॉर्डर वाले 10 स्थानों पर चेकिंग हो रही है। 24 जुलाई की मध्य रात्रि से जिले के बॉर्डर पर सख्ती बढ़ा दी गई थी। 25 जुलाई से एक अगस्त तक पुलिस ने इन बॉर्डरों से 15391 कांवडियों को वापस भेजा गया है।

उत्तराखंड: कोविड कर्फ्यू को अभी जारी रख सकती है सरकार, लेकिन ऐसा करने वालों काे मिलेगी छूट

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सेंथिल अवूदई कृष्णराज एस के मुुताबिक श्यामपुर के चिडियापुर बॉर्डर से एक अगस्त की रात तक 581 कांवड़ियों के साथ ही 130 वाहनों को वापस भेजा गया। मंगलौर के नारसन बॉर्डर से 11139 कांवड़ियों व 1901 वाहनों को लौटाया गया है।

भगवानपुर के मंडावर बॉर्डर से 1398 कांवड़ियों 298 वाहनों को वापस किया। जबकि काली नदी बॉर्डर से 1436 कांवडियों व 141 वाहनों को लौटाया गया है। खानपुर के पुरकाजी से 216 कांवड़ियों व 54 वाहनों को बालावाली से 32 कांवड़ियों चार वाहनों और दल्लावाला से 50 कांवड़ियों व 11 वाहनों को लौटाया गया है। झबरेड़ा के गोकुलपुर बॉर्डर से 100 कांविड़यों को व बीरपुर से 34 कांवड़ियों और दो वाहनों को वापस भेजा। 
... और पढ़ें

उत्तराखंड: भनेरपाणी में भूस्खलन से कई घंटे बंद रहा बदरीनाथ हाईवे, वाहनों की लगी रही कतार

बदरीनाथ हाईवे रविवार दोपहर भनेरपाणी के पास मलबा आने से बंद हो गया था। जिससे दोनों ओर वाहनों की कतार लग गई। एनएच की जेसीबी मलबा हटाने में लगी रहीं, तब जाकर रात 8 बजकर 20 मिनट पर हाईवे आवाजाही के लिए खोला गया।

दूसरी ओर बदरीनाथ हाईवे रविवार को सुबह छिनका और क्षेत्रपाल में भी मलबा आने से बंद हो गया था। करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद हाईवे को खोला गया। 

चमोली जिले में करीब 13 भूस्खलन जोन सक्रिय
बदरीनाथ हाईवे पर चमोली जिले में करीब 13 भूस्खलन जोन सक्रिय हैं, जिस कारण अक्सर मलबा आने से हाईवे बंद हो जाता है। लामबगड़ के पास खचड़ा नाला, गोविंदघाट के पास टैया पुल, पागल नाला, सेलंग, गुलाबकोटी, हनुमान चट्टी के पास रडांग बैंड, भनेरपाणी, चाड़ातोक, क्षेत्रपाल, छिनका, चमोली चाड़ा, बाजपुर और कर्णप्रयाग के पास आए दिन मलबा आ जाता है। इसके अलावा अन्य जगह पर भी मलबा आने से हाईवे बंद हो जाता है। संपर्क मार्गों की स्थिति तो और भी बुरी है। इन दिनों जिले में करीब 24 संपर्क मार्ग बंद पड़े हैं। 
... और पढ़ें

उत्तराखंड: भाजपा सांसद धर्मेंद्र कश्यप समेत तीन के खिलाफ मुकदमा दर्ज, जागेश्वर धाम में अभद्रता का मामला

भगवान भोले के धाम जागेश्वर में शनिवार को मंदिर समिति के प्रबंधक भगवान भट्ट और पुजारियों से गालीगलौज और अभद्रता आंवला (बरेली) के भाजपा सांसद धर्मेंद्र कश्यप को भारी पड़ गई। भगवान भट्ट की तहरीर पर राजस्व पुलिस ने धर्मेंद्र कश्यप, उनके साथी मोहन राजपूत और सुशील अग्रवाल के खिलाफ मजिस्ट्रेट के आदेश का उल्लंघन करने पर धारा 188 और गालीगलौज, अभद्रता करने पर धारा 504 के तहत प्राथमिक दर्ज कर ली है। सांसद के अमर्यादित आचरण के विरोध में रविवार को कुमाऊं में कई जगहों पर लोगों ने प्रदर्शन किया।

प्रबंधक भगवान भट्ट ने राजस्व उप निरीक्षक कोटुली के यहां दी हुई तहरीर में लिखा है कि शनिवार 31 जुलाई को शाम 3:30 बजे सांसद धर्मेंद्र कश्यप अपने दो साथियों मोहन राजपूत, सुशील अग्रवाल और यूपी पुलिस के चार सुरक्षा कर्मियों के साथ मंदिर में पूजन के लिए आए। पूजा की व्यवस्था पं. गिरीश भट्ट ने करवाई। मंदिर प्रबंध समिति की एसओपी के अनुसार मंदिर में सुबह 6:30 बजे से शाम छह बजे तक दर्शन और सुबह सात से शाम साढ़े चार बजे तक पूजा के लिए समय नियत है। नियमानुसार शाम छह बजे मंदिर का मुख्य प्रवेश द्वार श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिया जाता है।

इसकी जानकारी बार-बार देने के बाद भी 6:30 बजे तक सांसद कश्यप और उनके साथी मंदिर परिसर में जमे रहे। जब सांसद और उनके साथ आए मोहन राजपूत से मंदिर परिसर से बाहर जाने का अनुरोध किया तो मोहन ने बहस शुरू कर दी और साथ खड़े सांसद कश्यप गाली देने लगे। सांसद ने पुजारियों और स्थानीय जनता के लिए भी अपशब्दों का प्रयोग किया। सांसद और उनके साथियों के अभद्र व्यवहार से हर श्रद्धालु आहत है। कोटुली के राजस्व उप निरीक्षक गोपाल सिंह बिष्ट ने बताया कि जांच कर तीनों आरोपियों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

हरिद्वार: गंगाजल लेकर जा रहे पंजाब के चार लोगों पर मुकदमा, पुलिस ने शिवालय में कराया अभिषेक

कोर्ट
हरिद्वार से गंगाजल लेकर पंजाब के संगरूर जा रहे चार लोगों के खिलाफ पुलिस ने आपदा अधिनियम में मुकदमा दर्ज किया है। उनके पास से मिले गंगाजल से शिवालय में अभिषेक कराया गया और पंजाब जाने वाली बस में बैठा दिया गया। 

कांवड़ यात्रा स्थगित: हरिद्वार से सात दिन में 15391 कांवड़िएं बॉर्डर से भेजे वापस, 54 पर मुकदमा दर्ज

बहादराबाद थाना प्रभारी संजीव थपलियाल के मुुताबिक शनिवार की रात पुलिस गश्त कर रही थी। गश्त के रात 12 बजे जब वह नेशनल हाईवे पर ख्याति ढ़ाबे के पास पहुंचे तो कुछ युवक आते हुए दिखाई दिए। पुलिस ने रात में आने का कारण पूछा तो वह कोई जवाब नहीं दे पाए। जिसके बाद पुलिस ने उनके बैग की तलाशी ली तो उसमें गंगाजल मिला।

हरिद्वार: कांवड़ यात्रा पर प्रतिबंध के बाद भी पहुंच रहे कांवड़िए, पुलिस ने बॉर्डर से वापस भेजे 800 वाहन

पूछताछ के दौरान उन्होंने बताया कि वह बस से हरिद्वार आए थे और यहां से वापस गंगाजल लेकर पंजाब के संगरूर जा रहे हैं। पुलिस ने इसके बाद गंगाजल से शिवालय में अभिषेक कराया और चमकौर सिंह, गुरुपाल सिंह, गुरुप्रीत सिंह व बब्लू सिंह के खिलाफ आपदा अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज करने के बाद उन्हें पंजाब जाने वाली बस में बैठाकर भेजा दिया गया। 
... और पढ़ें

कोरोनावायरस: देश में पिछले हफ्ते की तुलना में 94 फीसदी बढ़े संक्रमित मामले, उत्तराखंड को भी सतर्क रहने की जरूरत

उत्तराखंड में भले ही लगभग एक माह से प्रतिदिन 100 से कम कोरोना संक्रमित मामले मिले रहे हैं, लेकिन देश में पिछले सप्ताह की तुलना में संक्रमित 94 प्रतिशत बढ़े हैं। वहीं, 10 राज्यों में संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। ऐसे में उत्तराखंड को अधिक सतर्क रहने की जरूरत है। सरकार व स्वास्थ्य विभाग को टेस्टिंग, टीकाकरण और माइक्रो कंटेनमेंट जोन पर ध्यान देने की आवश्यकता है। 

उत्तराखंड में कोरोना: 22 नए संक्रमित मिले, एक भी मरीज की मौत नहीं, 609 पहुंचे एक्टिव केस

सोशल डेवलपमेंट फॉर कम्युनिटी फाउंडेशन के संस्थापक अनूप नौटियाल ने कहा है कि 10 राज्यों केरल, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, उड़ीसा, असम, मिजोरम, मेघालय, आंध्र प्रदेश और मणिपुर में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। केंद्र सरकार ने इन राज्यों को जरूरी सावधानियां बरतने के लिए भी कहा है। इसके अलावा देश के 46 जिलों में इन दिनों संक्रमण दर 10 प्रतिशत से ज्यादा और 53 जिलों में 5 से 10 प्रतिशत के बीच है।

नौटियाल का कहना है कि उत्तराखंड में बेशक कोरोना संक्रमण की फिलहाल स्थिति ऐसी नहीं है, लेकिन संक्रमण को रोकने के लिए अभी राज्य को और जरूरी कदम उठाने चाहिए। उत्तराखंड में हाल के दिनों में आए संक्रमित मामलों के आंकड़ों को विश्लेषण करने संक्रमित मामले बढ़ने के संकेत मिले हैं। 
... और पढ़ें

उत्तराखंड: हिंदू-मुस्लिम के मुद्दे पर भिड़े भाजपा-कांग्रेस के दो दिग्गज, फेसबुक पर चल रहा वार-पलटवार

Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन