बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

इस पुल पर एक साथ नहीं गुजर सकते हैं दो वाहन

Haldwani Bureau हल्द्वानी ब्यूरो
Updated Mon, 02 Aug 2021 12:48 AM IST
विज्ञापन
चल्थी का धनुष पुल। फोटो: संवाद न्यूज एजेंसी
चल्थी का धनुष पुल। फोटो: संवाद न्यूज एजेंसी - फोटो : CHAMPAWAT
ख़बर सुनें
चंपावत। यहां से 40 किलोमीटर दूर टनकपुर-पिथौरागढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित चल्थी पुल पहाड़ और मैदान की लाइफ लाइन है। कोई दूसरा पुल नहीं बनने से साढ़े पांच दशक बाद भी चल्थी का यह पुल आवाजाही का अकेला जरिया है। एनएच पर आमतौर पर रोजाना छोटे-बड़े 400 से ज्यादा वाहन गुजरते हैं, लेकिन इस पुल के संकरा होने से यहां एक समय में सिर्फ एक ही वाहन गुजरता है। इस वजह से यहां से गुजरने वाले वाहनों को परेशानी होती है।
विज्ञापन

लोनिवि के ईई एमसी पांडेय कहते हैं कि बगैर खंभों के सहारे खड़े इस पुल का पूरा वजन उसके ऊपरी (धनुष आकार वाले ढांचे पर) हिस्से पर है। राष्ट्रीय राजमार्ग की आवाजाही का सबसे महत्वपूर्ण पुल का विकल्प नहीं होने से 1956 में बना यह पुल 55 साल बाद भी आवाजाही के काम आ रहा है। आरसीसी स्ट्रक्चर पर आधारित 110 मीटर लंबे पुल की चौड़ाई महज दस फीट है। जिस कारण इस पुल से एक समय में एक ही वाहन गुजर सकता है। धौलीगंगा जल विद्युत परियोजना की तमाम भारी-भरकम मशीन और दूसरे उपकरण भी इस पुल से गुजरे। निर्माण के बाद भी इस पुल को कभी मरम्मत भी नहीं हुई।

वहीं चल्थी पुल पर डेढ़ दशक पहले स्वीकृत 144 मीटर लंबा पुल विवादों की भेंट चढ़ा। काम शुरू होने के बावजूद कार्यदायी संस्था और काम कराने वाले ठेकेदार के बीच विवाद होने से इस पुल को बाद में खारिज कर दिया गया था। (संवाद)
आईआईटी के अभियंता ने बनाया था डिजाइन
चंपावत। एनएच पर स्थित चल्थी में बना यह पुल बगैर किसी खंभों के सहारे खड़ा है। पुल का पूरा वजन उसके ऊपरी (धनुष आकार वाले ढांचे पर) हिस्से पर है। इस खूबसूरत पुल का डिजाइन एक आईआईटी स्नातक इंजीनियर ने बनाया था। लोहाघाट के एई पीएन मिश्रा ने इस डिजायन को बनाने के साथ इसका निर्माण कराया था।
एनएच पर बन रहा है नया पुल
चंपावत। यहां की जरूरत को देखते हुए अब बारहमासी सड़क पर पुल का निर्माण हो रहा है। लेकिन पुल तैयार होने में काफी समय लगेगा। एनएच खंड लोहाघाट के ईई एलडी मथेला का कहना है कि लधिया नदी पर बन रहा यह पुल इस साल के अंत तक पूरा हो जाएगा। इस पुल पर दो वाहन एक साथ गुजर सकेंगे।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us