लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttarakhand ›   Nainital ›   Haldwani News: Four women from Gorakhpur arrested for running chain snatching gang

Chain Snatching: गोरखपुर के एक ही परिवार की चार महिलाएं चला रही थीं चेन स्नेचिंग गैंग, गिरफ्तार

संवाद न्यूज एजेंसी, हल्द्वानी Published by: हल्द्वानी ब्यूरो Updated Fri, 07 Oct 2022 01:13 AM IST
सार

पिछले एक हफ्ते में शहर की दो महिलाओं को एक महिला गिरोह ने अपना शिकार बनाया और उनकी सोने की चेन पर हाथ साफ करके फरार हो गईं।

महिला गिरफ्तार
महिला गिरफ्तार - फोटो : प्रतीकात्मक तस्वीर
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

हल्द्वानी में बेहद शातिराना तरीके से ऑटो और ई-रिक्शा में बैठी महिला यात्रियों के गले से सोने की चेन चुराने वालीमहिला गिरोह यूपी के गोरखपुर जिले का निकला। गिरोह की चारों सदस्य एक ही परिवार की हैं और एक महिला तो वारदात के समय 12 साल की बेटी को भी इस्तेमाल करती थी। पुलिस ने चारों महिलाओं के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज उनका आपराधिक इतिहास खंगालना शुरू कर दिया है।



पिछले एक हफ्ते में शहर की दो महिलाओं को एक महिला गिरोह ने अपना शिकार बनाया और उनकी सोने की चेन पर हाथ साफ करके फरार हो गईं। इसमें चार महिलाओं को मुखानी पुलिस और एसओजी की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। घटनास्थल व उसके आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की छानबीन करने के बाद टीम ने यूपी के गोरखपुर जिले के गोला तहसील स्थित बडहलगंज थानाक्षेत्र के गांव बंजाराह की रहने वाली सरिता देवी, सुनीता देवी, अंतिमा देवी और मंजू देवी को कालाढूंगी रोड स्थित मॉल के पास से गिरफ्तार किया।


पुलिस ने बताया कि इनमें से एक महिला ने अपनी 12 साल की बेटी को भी गिरोह में शामिल कर रखा था। बेटी के जरिये ही महिला गैंग यात्रियों को चोट पहुंचाकर उनका ध्यान भटकाता था और उसके बाद जेवरात पर हाथ साफकर फरार हो जाता था। चारों महिलाएं एक ही गांव और एक ही परिवार की हैं। 

पुलिस के मुताबिक, महिला गैंग एक शहर में कई वारदातों को अंजाम देने के बाद वहां से रवाना हो जाती हैं। साथ ही गैंग के खिलाफ यूपी के शाहजहांपुर और रामपुर में भी केस दर्ज होने की बात सामने आ रही है। यूपी के अन्य जिलों में भी इनका आपराधिकइतिहास होने की आशंका पुलिस जता रही है। 

चारों महिलाओं को पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर जेल भेज दिया है वहीं 12 साल की बच्ची को सेल्टर होम भेज दिया गया है। मामले के खुलासे के लिए पुलिस ने क्षेत्र में लगे सरकारी व निजी सीसीटीवी खंगाले। इस दौरान मुखानी थानाध्यक्ष रमेश सिंह बोरा व एसओजी प्रभारी राजवीर सिंह नेगी अपनी टीमों के साथ मौजूद रहे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00