लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttarakhand ›   Udham Singh Nagar ›   Crime.

नौकरी दिलाने के नाम पर 10 युवाओं से 63.30 लाख रुपये

Haldwani Bureau हल्द्वानी ब्यूरो
Updated Thu, 06 Oct 2022 11:36 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
खटीमा। ज्वाइनिंग लेटर जारी कर समाज कल्याण विभाग में कनिष्ठ सहायक के पद पर नौकरी लगाने के एवज में 35 लाख रुपये की रकम लेने के वायरल वीडियो का मामला सुर्खियों में है। आरोपी ने दो लोगों से 10 युवाओं की नौकरी लगाने के नाम पर कुल 63 लाख 30 हजार रुपये ठगे हैं। मामले में दोनों पीड़ितों ने कोतवाली पुलिस को अलग-अलग तहरीर सौंपकर कार्रवाई की मांग करते हुए रकम वापस दिलाने की गुहार लगाई है। मोटी रकम लेकर नौकरी लगाने का झांसा देने वालों के तार ग्राम खेतलसंडा मुस्ताजर, ग्राम नौसर (खटीमा), हल्द्वानी और बाजपुर तक जुड़े हैं।

पहले मामले में कोतवाली पुलिस को सौंपी तहरीर में खेतलसंडा मुस्ताजर निवासी रमेश चंद ने बताया कि नौसर निवासी एक व्यक्ति का उनके घर आना-जाना था। उक्त व्यक्ति ने उन्हें विश्वास में लेकर उनके बेरोजगार बच्चों को सरकारी नौकरी दिलाने की बात कही। इस पर रमेश ने अपने रिश्तेदार दीपक बोहरा की नौकरी लगाने के लिए 2 जनवरी 2022 को एडवांस में दो लाख रुपये दिए। इसके बाद उक्त व्यक्ति ने कुछ दिनों बाद ज्वाइनिंग लेटर दिया।

नौकरी लगने की कार्यवाही होती देख रमेश चंद को उक्त व्यक्ति पर विश्वास हो गया। इसके बाद उन्होंने दीपक के अलावा अन्य दो रिश्तेदारों प्रकाश चंद और राहुल चंद की नौकरी लगाने के लिए अलग से कुल 28 लाख 30 हजार रुपये दे दिए। रमेश चंद ने कहा कि उन्हें ठगी का एहसास तब हुआ जब बच्चे ज्वाइनिंग स्थलों पर जाकर खाली हाथ लौट आए। बताया कि जब उन्होंने आरोपी से रुपये लौटाने को कहा तो उसने तीन चेक दिए जो बैंक से डिस ऑनर हो गए।
इसी तरह खेतलसंडा मुस्ताजर निवासी मनोज रावत ने भी पुलिस को तहरीर सौंपकर उक्त व्यक्ति पर 35 लाख रुपये ठगने का आरोप लगाया है। मनोज ने बताया कि उनके सात रिश्तेदारों बुद्धि सिंह रावत, भारती नेगी, शोभा रावत, ममता चौहान, नीलम, शुभम रावत और दीपक सिंह रावत की नौकरी लगाने के नाम पर उक्त व्यक्ति ने उनसे 35 लाख रुपये लिए। इनमें से कई बेरोजगारों को एक अन्य व्यक्ति ज्वाइनिंग कराने के नाम सरकारी कार्यालयों में भी लेकर गया। दिनभर कार्यालय के बाहर इंतजार में बैठाने के बाद यह कहकर लौटा दिया गया कि नेट प्रॉब्लम बताकर लौटा दिया गया और गायब हो गया है। जब उन्होंने 12 सितंबर 2022 को उक्त व्यक्ति से रुपये मांगे तो उसने अभद्रता की और कहा कि अपनी रकम भूल जा वरना सुपारी देकर मरवा दूंगा। पीड़ित ने ठगी करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है।
सरकारी नौकरी की एवज में मोटी रकम लेकर ठगी करने के मामले की तहरीर के जांच पड़ताल चल रही है। जांच के बाद मुकदमा दर्ज किया जाएगा। अशोक कुमार, प्रभारी कोतवाल खटीमा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00