बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
22 जून को शुक्र का कर्क राशि में परिवर्तन, जानें सभी राशियों पर प्रभाव
Myjyotish

22 जून को शुक्र का कर्क राशि में परिवर्तन, जानें सभी राशियों पर प्रभाव

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

कॉर्बेट टाइगर रिजर्व: झिरना रेंज में पहली बार दिखा सफेद मोर, ट्रैप कैमरा से रखी जाएगी नजर

कॉर्बेट टाइगर रिजर्व की झिरना रेंज में मोरों के झुंड में वन कर्मियों को एक सफेद मोर दिखाई दिया। वहीं वनाधिकारी इसे अनुवांशिक परिवर्तन मान रहे है। कॉर्बेट प्रशासन ने वन कर्मियों को मोर की निगरानी करने के निर्देश दिए हैं।

झिरना रेंज के कोठी रौ के आसपास जंगल में गश्त कर रही वन कर्मियों की टीम को सफेद मोर दिखाई दिया। वन कर्मियों ने मौके पर लगे कैमरा ट्रैप की जांच की तो उसमें सफेद मोर की फोटो तो आई, लेकिन साफ नहीं थी।

इसकी जानकारी वनाधिकारियों को दी गई। वनाधिकारियों ने सफेद मोर यानी अल्बिनो मोर के बारे में जानकारी ली। सफेद मोर अन्य मोरों के झुंडों के साथ था। इसके अलावा अन्य कोई सफेद मोर मौके पर नहीं था।

सीटीआर निदेशक राहुल ने बताया कि कॉर्बेट में सफेद मोर नहीं मिलते हैं। यहां नीले, काले-पीले, हरे रंग के मोर हैं। सफेद मोर पहले कभी नहीं देखा गया और न ही कॉर्बेट के रिकॉर्ड में सफेद मोर का कोई जिक्र है।

निदेशक के अनुसार, अनुवांशिक परिवर्तन की वजह से मोर में बाकी रंग नहीं आते हैं। इस वजह से मोर सफेद रह जाता है, जो इसे दूसरे मोरों से खास बनाता है। उन्होंने बताया कि कॉर्बेट के कैमरा ट्रैप की फुटेज खंगाली जा रही हैं। ताकि मोर की गतिविधियों पर नजर रखी जा सके।
... और पढ़ें
कॉर्बेट पार्क में सफेद मोर कॉर्बेट पार्क में सफेद मोर

उत्तराखंड में कोरोना: 24 घंटे में 163 नए संक्रमित मिले, आठ की मौत, तीन हजार से कम हुए एक्टिव केस

उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में आठ कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत और 163 नए संक्रमित मिले हैं। जबकि 323 मरीज स्वस्थ हुए हैं। सक्रिय मामले भी तीन हजार से कम हो गई है। कुल संक्रमितों की संख्या 338807 हो गई है। 

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक सोमवार को 24725 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। जबकि देहरादून जिले में 60 मरीज मिले हैं। ऊधमसिंह नगर में 26, उत्तरकाशी में 13, अल्मोड़ा में 12, नैनीताल में 11, हरिद्वार व चमोली में नौ-नौ, टिहरी में छह, पौड़ी में पांच, पिथौरागढ़ व  बागेश्वर में चार-चार, चंपावत में रुद्रप्रयाग जिले में दो-दो संक्रमित मिले हैं। 

उत्तराखंड: आयुष डॉक्टरों के एलोपैथिक दवा लिखने की घोषणा से भड़का आईएमए, कहा- फैसले के खिलाफ जाएंगे कोर्ट 

आज टिहरी जिले में एक मरीज की मौत बैकलॉग की है। प्रदेश में अब तक 7044 मरीजों की मौत हो चुकी है। जबकि 323004 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। संक्रमितों की तुलना में ज्यादा स्वस्थ होने से सक्रिय मामले तीन हजार से कम होकर 2964 हो गए हैं। वर्तमान में प्रदेश की रिकवरी दर 95.34 प्रतिशत और संक्रमण दर 6.37 प्रतिशत दर्ज की गई है।

प्रदेश में ब्लैक फंगस के छह नए मरीज, चार की मौत
प्रदेश में ब्लैक फंगस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। सोमवार को छह नए मरीजों में ब्लैक फंगस की पुष्टि हुई है। जबकि चार मरीजों ने इलाज के दौरान दम तोड़ा है। 
स्वास्थ्य विभाग के हेल्थ बुलेटिन के अनुसार देहरादून जिले में छह नए मरीज मिले हैं। जिसमें एम्स ऋषिकेश में तीन, हिमालयन हॉस्पिटल में दो, दून मेडिकल कॉलेज में एक मरीज मिला है। जबकि एम्स ऋषिकेश में दो व हिमालयन हाॅस्पिटल में दो मरीजों की मौत हुई है। प्रदेश में अब तक कुल मरीजों की संख्या 457 हो गई है। जबकि 81 मरीजों ने मौत हो चुकी है। 65 मरीज स्वस्थ हुए हैं।
... और पढ़ें

टीकाकरण का बना रिकॉर्ड: उत्तराखंड में 851 केंद्रों पर 1.13 लाख लोगों ने लगवाया कोरोना का टीका

उत्तराखंड में भी एक दिन में कोविड टीकाकरण में नया रिकॉर्ड बना है। सोमवार को प्रदेश भर में 851 केंद्रों पर 1.13 लाख लोगों ने वैक्सीन लगवाई है। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रदेश में कोविड टीकाकरण का महाभियान शुरू कर दिया गया। इस अभियान के तहत अगले चार दिनों तक प्रदेश में प्रतिदिन एक लाख से ज्यादा लोगों को कोविड वैक्सीन लगाई जाएगी।

राज्य प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ.कुलदीप मर्तोलिया ने बताया कि महाभियान के तहत प्रदेश भर में 851 केंद्रों पर टीकाकरण का कार्य किया जा रहा है।जिसमें 30 टीकाकरण केंद्र निजी अस्पतालों में संचालित हैं। प्रदेश में अब तक 18 से 44 आयु वर्ग में 7.9 लाख लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है। जबकि इस आयु वर्ग में 30 हजार से अधिक लोगों को दूसरी डोज लग चुकी है।

उत्तराखंड में कोरोना: 24 घंटे में 163 नए संक्रमित मिले, आठ की मौत, तीन हजार से कम हुए एक्टिव केस

केंद्र की ओर से प्रदेश को वैक्सीन की नियमित आपूर्ति करने से टीकाकरण की रफ्तार में तेजी आई है। 16 जनवरी 2021 को प्रदेश में कोविड टीकाकरण शुरू किया गया था। पहली बार एक दिन में वैक्सीन लगवाने वालों का आंकड़ा एक लाख से अधिक होने से नया रिकॉर्ड बना है।
... और पढ़ें

उत्तराखंड: गुरुकुल कांगड़ी में खुलेगा देश का पहला आयुर्वेद कैंसर संस्थान 

राजकीय गुरुकुल कांगड़ी आयुर्वेद कॉलेज में देश का पहला आयुर्वेद कैंसर संस्थान खोला जाएगा। अभी तक सरकारी क्षेत्र में देश में कहीं भी आयुर्वेद कैंसर संस्थान नहीं है। सरकार ने उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय से योग के डिप्लोमा व डिग्री कोर्स को मंजूरी देने के साथ ही आयुुर्वेद डॉक्टरों को इमरजेंसी में ऐलोपैथी दवाईयों का परामर्श देने व लिखने का अधिकार देने का निर्णय लिया है।

उत्तराखंड: आयुष डॉक्टरों के एलोपैथिक दवा लिखने की घोषणा से भड़का आईएमए, कहा- फैसले के खिलाफ जाएंगे कोर्ट 

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत और आयुष मंत्री डॉ.हरक सिंह रावत ने योगाभ्यास किया। इस दौरान आयुष मंत्री ने कहा कि सरकार ने आयुर्वेद चिकित्सालयों में तैनात आयुष डॉक्टरों को इमरजेंसी के समय ऐलोपैथी दवाईयों का परामर्श देने व लिखने का अधिकार देने का निर्णय लिया है। लंबे समय से इसकी मांग की जा रही थी। कई राज्यों में आयुर्वेद डॉक्टरों को ऐलोपैथी दवाईयां लिखने का अधिकार है, लेकिन उत्तराखंड में नहीं था।

आयुष मंत्री ने घोषणा की कि गुरुकुल कांगड़ी में देश का पहला आयुर्वेद कैंसर संस्थान खोला जाएगा। इसके साथ ही उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय में योग के डिप्लोमा व डिग्री कोर्स को मंजूरी दे दी गई है। योग व अन्य कार्यक्रमों के आयोजन के लिए विश्वविद्यालय में ऑडिटोरियम बनाया जाएगा। कोटद्वार के चरकडांडा में अंतरराष्ट्रीय आयुर्वेद शोध संस्थान के लिए आयुर्वेद विश्वविद्यालय की विकास निधि से 10 करोड़ की राशि दी जाएगी।
... और पढ़ें

उत्तराखंड: आयुष डॉक्टरों के एलोपैथिक दवा लिखने की घोषणा से भड़का आईएमए, कहा- फैसले के खिलाफ जाएंगे कोर्ट 

गुरुकुल कांगड़ी
आयुर्वेदिक डॉक्टरों को एलोपैथिक दवा लिखने के राज्य सरकार के फैसले पर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) उत्तराखंड ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने इसे सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवमानना बताते हुए कोर्ट जाने की चेतावनी दी है। एसोसिएशन ने कहा कि इस फैसले से मरीजों को भी नुकसान होगा। 

आईएमए उत्तराखंड के सचिव डा. अजय खन्ना ने कहा कि पहले भी इस तरह की बात चली थी। करीब एक महीने पहले उन्होंने इसे लेकर मुख्य सचिव को पत्र भी भेजा था। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट, नेशनल मेडिकल कमीशन समेत कई अन्य स्तरों से यह स्पष्ट आदेश है कि किसी भी मरीज पर मिक्सोपैथी (दो पैथियों को मिलाकर उपचार) का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता। स्पष्ट गाइडलाइन है कि आयुर्वेदिक डॉक्टर एलोपैथिक प्रैक्टिस नहीं कर सकता। हम शासनादेश होने का इंतजार कर रहे हैं। 

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस : कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने किया योगाभ्यास, तस्वीरें

उन्होंने कहा कि मिक्सोपैथी से मरीजों को भी नुकसान होगा। जिन आयुर्वेदिक डॉक्टरों ने कभी एलोपैथ की पढ़ाई नहीं की, वो दवा कैसे लिख सकते हैं। सरकार सिर्फ ये दिखाने के लिए कि हमने डॉक्टर उपलब्ध करा दिए हैं इस तरह के फैसले ले रही है। आयुर्वेदिक डॉक्टर को क्या पता कि एलोपैथ दवा कैसे दी जानी है। इमरजेंसी में एलोपैथ दवा देंगे तो मरीजों की जान पर बन आएगी। सरकार को मरीजों की जान से नहीं खेलना चाहिए।
... और पढ़ें

उत्तराखंड का पांचवां धामः राजनाथ सिंह करेंगे पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट सैन्य धाम का भूमि पूजन 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट उत्तराखंड में पांचवें धाम के रूप में सैन्य धाम बनाने के लिए जिला प्रशासन ने पुरुकुल में भूमि हस्तांतरित कर दी है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भूमि पूजन के लिए उत्तराखंड आएंगे।

सोमवार को अपने आवास स्थित कैंप कार्यालय में सैन्य धाम के निर्माण के लिए गठित उच्च स्तरीय कमेटी की बैठक में सीएम ये निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इसकी पूरे देश में अलग पहचान होगी। उत्तराखंड के अनेक सैनिक युद्ध में शहीद हुए हैं। शहीदों के आंगन की मिट्टी को सैन्य धाम में लाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने इसका निर्माण कार्य जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सैन्य धाम के साथ ही पुरुकुल क्षेत्र में संस्कृति ग्राम के लिए भी कार्ययोजना बनाई जाए। सीएम ने कहा कि सैनिक कल्याण निदेशालय में एक सैन्य धाम सेल भी बनाया जाएगा।

सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने बताया कि सैन्य धाम के लिए सैनिक कल्याण विभाग को 50 बीघा भूमि हस्तांतरित हो चुकी है। इस पर जल्द ही निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा। इससे पहले शहीद सम्मान यात्रा निकालने जा रहे हैं। जिसमें प्रदेश के प्रत्येक शहीद सैनिक के घर के आंगन की मिट्टी को निर्माण स्थल पर स्मारक के निर्माण में प्रयोग किया जाएगा। उन्होंने कहा कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सैन्य धाम में भूमि पूजन करेंगे।

उन्होंने इसके लिए उत्तराखंड आने का आश्वासन दिया है। सैनिक कल्याण मंत्री ने कहा कि सैन्य धाम में एक भव्य स्मारक के साथ म्यूजियम, बहादुरी पदक गैलरी, महत्वपूर्ण लड़ाइयों का विवरण एवं सेना से जुड़े अन्य कई साजो सामान को भी प्रदर्शित किए जाने की योजना है। उन्होंने कहा कि सैन्य धाम का निर्माण दो चरणों में किया जाएगा। पहले चरण में परिसर में स्थापित किए जाने वाले सैन्य उपकरणों को स्थापित करने के लिए बेस तैयार किया जाना है। इसके साथ ही समस्त निर्माण कार्यों के लिए सीमांकन एवं चारदीवारी का काम किया जाएगा। 

 बैठक में मुख्य सचिव ओम प्रकाश, अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी, प्रमुख सचिव एल फैनई, सचिव सुशील कुमार, जिलाधिकारी आशीष श्रीवास्तव, एमडी पेयजल निगम उदयराज, एमडी उपनल ब्रिगेडियर पीपीएस पाहवा, निदेशक सैनिक कल्याण ब्रिगेडियर केबी चंद आदि मौजूद रहे। 
... और पढ़ें

उत्तराखंड: खड़ा हो सकता है संवैधानिक संकट, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने की राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

कुंभ में कोविड जांच फर्जीवाड़ा: मैक्स कॉरपोरेट के बाद अब लाल चंदानी लैब भी पहुंची हाईकोर्ट

महाकुंभ कोविड जांच फर्जीवाड़ा मामले में अब आरोपी लाल चंदानी लैब ने भी हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। इसमें लैब की ओर से मुकदमा निरस्त कर गिरफ्तारी पर रोक लगाने की मांग की गई है।

मामले के अनुसार लाल चंदानी लैब निदेशक मंडल की ओर से हाईकोर्ट में दायर याचिका में कहा गया है कि उनकी लैब आईसीएमआर से मान्यता प्राप्त है। मैक्स की ओर से लैब को जो काम दिया गया उसे उन्होंने जिम्मेदारी से पूरा किया है।

लैब में करीब 12 हजार जांचें की गईं, जिनमें किसी भी प्रकार का कोई फर्जीवाड़ा नहीं हुआ है। लैब के अनुसार उसका अनुबंध सरकार से नहीं है बल्कि मैक्स कॉरपोरेट से है। महाकुंभ के दौरान उनकी ओर से जो भी आरटीपीसीआर जांचें की गईं उसका पूरा रिकॉर्ड सुरक्षित है।  

कुंभ कोविड जांच फर्जीवाड़ा : एसआईटी ने नामित फर्मों को पूछताछ के लिए जारी किया नोटिस, दिया चार दिन का समय

यह है मामला
कोविड जांच फर्जीवाड़े में सीएमओ हरिद्वार की ओर से मैक्स, लाल चंदानी लैब और नलवा लेबोरेटरी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई थी। पुलिस ने प्रकरण में मैक्स कॉरपोरेट सर्विसेज नई दिल्ली और नलवा लेबोरेटरी प्राइवेट लिमिटेड हरियाणा के साथ ही डॉ. लाल चंदानी लैब नई दिल्ली के खिलाफ आपदा प्रबंधन एक्ट के साथ 420, 467, 468, 128 धाराओं में केस दर्ज किया है। मामले में जांच के लिए एसआइटी भी बना दी गई है। जांच के लिए सीडीओ के नेतृत्व में तीन सदस्यीय टीम भी गठित की गई है। मामले में सीएमओ डा. शंभू झा और मेलाधिकारी डा. अर्जुन सिंह सेंगर के बयान भी दर्ज हो चुके हैं, जबकि टेंस्टिंग कंपनी के अधिकारियों को हरिद्वार तलब किया गया है। 

नाम को लेकर मैक्स प्रबंधन ने की स्थिति स्पष्ट
हरिद्वार कुंभ में फर्जी आरटीपीसीआर जांच में मिलते जुलते नाम को लेकर मैक्स अस्पताल ने स्थिति स्पष्ट की है। उल्लेखनीय है कि हाल ही में उत्तराखंड सरकार द्वारा हरिद्वार में कुंभ मेले के समय फर्जी आरटीपीसीआर रिपोर्ट के संबंध में की गई जांच में अधिकारियों ने मैक्स कॉरपोरेट सर्विसेज के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। देहरादून स्थित मैक्स अस्पताल प्रबंधन ने स्पष्ट किया है कि नामित फर्म अथवा कंपनी का मैक्स हेल्थकेयर इंस्टीट्यूट लिमिटेड (मैक्स हेल्थकेयर) अथवा मैक्स लैब्स से कोई संबंध नहीं है। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन