विज्ञापन
Home ›   Video ›   Himachal Pradesh ›   Chamba ›   HAS Topper Shikha Story chamba himachal prdaesh

वीडियो: कामयाबी की खुशी में पिता से गले लग शिखा की छलक पड़ी आंखें, एचएएस में हासिल किया चौथा स्थान

वीडियो डेस्क, अमर उजाला, शिमला/चंबा Published by: अरविन्द ठाकुर Updated Wed, 24 Mar 2021 03:26 PM IST

बिना Coaching भी सफलता हासिल की जा सकती है। इसका उदाहरण पेश किया है Himachal Pradesh के Chamba की शिखा ने। इन्होंने बिना किसी Coaching के लिए HPAS (HP Administrative Service Combined Competitive Examinaiton-2019) परीक्षा में प्रदेश भर में चौथा स्थान हासिल किया। खुशी इतनी थी कि शिखा की आंखें छलक पड़ीं। घर पहुंचते ही परिजनों और ग्रामीणों ने शिखा को पलकों पर बैठा लिया। पिता ने हार पहनाकर बेटी को गले से गलाया तो दोनों की आंखें भर आईं। शिखा जब मंगनूह गांव अपने घर पहुंची को मां आरती की थाली लेकर तैयार थी। घर पर ग्रामीण बधाई देने के लिए पहुंच गए थे। पिता से गले लगने के बाद मां ने शिखा की आरती उतारी और लाडली को गले से लगा लिया। इसके बाद लोगों ने भी शिखा को हार पहनाया और कामयाबी पर बधाई दी। बेटी की इस उपलब्धि के बाद पिता लिन्जो राम को अपनी बेटी पर गौरव महसूस कर रहे हैं। माता गुड्डी देवी की खुशी का भी ठिकाना नहीं है। शिखा के पिता Army से सेवानिवृत्त हैं। शिखा सात बेटियों में सबसे छोटी है। इससे पहले भी वह तीन बार एचएएस, दो बार Allied Service और RTO inspector की परीक्षा दे चुकी हैं, लेकिन कामयाबी हासिल नहीं हुई। अब शिखा को मंजिल मिल गई है। अमर उजाला से बात करते हुए शिखा ने कामयाबी का श्रेय अपने माता-पिता को दिया है। शिखा ने कहा कि उनके पिता सबसे बड़े प्रेरणा स्रोत हैं। शिखा ने कहा कि कठिन परिस्थिति में भी उन्होंने मेरी हौसला अफजाई की।

विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00