विज्ञापन
Home ›   Video ›   Uttar Pradesh ›   Shravasti ›   Story of smart beti Shalu
शालू वर्मा

15 साल की शालू बोली, खिलवाड़ नहीं सहूंगी

अमर उजाला ब्यूरो, श्रावस्ती Updated Wed, 21 Nov 2018 07:16 PM IST

गरीब मां-बाप, बड़ा परिवार, बेटी को जल्दी से जल्दी ससुराल भेजने का जुनून और बेबस लाचार बेटी, लेकिन शालू ने इस कहानी को बदल दिया। बाल विवाह के लिए देश भर में बदनाम श्रावस्ती जिले के धुम्बोझी गांव में रहने वाली शालू का एक छोटी भाई और छोटी बहन है।

विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00