विज्ञापन
Hindi News ›   Video ›   Smart Beti ›   STORY OF SMART BETI SIMPI
स्मार्ट बेटी सिंपी

स्मार्ट बेटियांः दिक्कतें सहकर भी सिंपी के पापा ने साथ दिया

अमर उजाला ब्यूरो Updated Sat, 27 Oct 2018 06:16 AM IST

सिंपी कहती है, मेरी मां अगर पढ़ी-लिखी होतीं तो जब मेरे पापा बीमार पड़े थे, तब घर पर आई आर्थिक तंगी को वे टाल सकती थीं। मैं हर हाल में अपने पैरों पर खड़े होना चाहती हूँ ताकि अपने परिवार की जरूरत के समय उसका सहारा बन सकूँ।

विज्ञापन
विज्ञापन

Recommended

स्मार्ट बेटियां: जिद न करती तो प्रतिभा की प्रतिभा दबी रह जाती

Smart Beti 26 October 2018

स्मार्ट बेटियां: बेटी की जिद को मिला मां का साथ, बढ़ चली किरन

Smart Beti 26 October 2018

स्मार्ट बेटियांः मदद की आस का हर दर खटखटाया, तब बची एकता

Smart Beti 26 October 2018

स्मार्ट बेटियांः रूबी को एक सीख ने दिया बढ़ने का हौसला

Smart Beti 26 October 2018

स्मार्ट बेटियांः जहां बोझ मानते थे, उसी गांव का गौरव है कनकलता

Smart Beti 25 October 2018

स्मार्ट बेटियाः ‘पहले अपना आज सही बनाओ फिर औरों को प्रेरणा दो’

Smart Beti 25 October 2018

स्मार्ट बेटियां: "मैं निरक्षर रहा लेकिन बच्चे काबिल बनकर ही शादी करेंगे"

Smart Beti 25 October 2018

बाल विवाह रोकने की जिद तो करनी पड़ेगीः साधना

Smart Beti 25 October 2018
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00