विज्ञापन
Home ›   Video ›   Uttar Pradesh ›   tajmahal generates employment for a large number of people special story
प्रतीकात्मक तस्वीर

ताजमहल से जलता है 4 लाख घरों का चूल्हा, पर्यटन उद्यमी निराश

वीडियो डेस्क-अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Wed, 18 Oct 2017 09:10 PM IST

उत्तर प्रदेश सरकार ने सांस्कृतिक धरोहरों की सूची से ताज को हटाकर विवादों का सिलसिला शुरू किया। यह सत्ता और विपक्ष के बीच अब भी जारी है। इसका बड़ा असर सूबे के पर्यटन कारोबार पर पड़ सकता है, क्योंकि ताजमहल देश के पर्यटन का आईना है। अकेले ताजनगरी में ही चार लाख लोगों की रोजी-रोटी इससे जुड़ी हुई है। 

विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00