विश्व प्रसिद्ध खेलों का जन्मदाता है भारत

अमर उजाला

Fri, 1 April 2022

Image Credit : Pixabay

This browser does not support the video element.

मार्शल आर्ट्स

दक्षिण भारत में आज इसे कलारिपयट्टू के नाम से जाना जाता है, युद्ध की इस कला को 300 ईसा पूर्व पुराना माना जाता है

Video Credit : fionachiew Instagram

शतरंज

शतरंज का जिक्र पौराणिक गाथाओं में किया गया है, कहा जाता है इसे सबसे पहले रावण की पत्नी मंदोदरी ने खेला था

Image Credit : Pixabay

कबड्डी

कबड्डी को भी एक ऐतिहासिक खेल माना जाता है, इस खेल को दक्षिण भारत में चेडुगुडु और पूर्व में हु तू तू के नाम से भी जानते हैं

Image Credit : Mayur Mali Twitter

खो-खो

आत्मरक्षा, आक्रमण व प्रत्याक्रमण के कौशल को विकसित करने के लिए इस खेल की खोज हुई
Image Credit : pie.patrika.com

लूडो

आज हम इसे लूडो के नाम से जानते हैं लेकिन इतिहास के पन्नों में ये खेल चौसर के नाम से प्रसिद्ध है

Image Credit : Pixabay

कुश्ती

रामायण और महाभारत काल में कुश्ती लड़ने का जिक्र आता है, अखाड़ों का इतिहास लगभग 2500 ईपू से ताल्लुक रखता है

Image Credit : Pixabay

हॉकी

हॉकी का जन्म उस इलाके में हुआ, जहां भारत का प्राचीन कम्बोज देश था, यह खेल भारत से ही ईरान गया और वहां से ग्रीस

Image Credit : Pixabay

पोलो

यह खेल मणिपुर में जन्मा था, 1859 में सिलचर पोलो क्लब की स्थापना ब्रिटिश सैन्य अधिकारियों और चाय बागानियों ने की थी

Image Credit : Pixabay

ताश

प्राचीन भारत में इसे क्रीडा पत्रम नाम से जाना जाता था और पत्तों में महाभारत और रामायण के किरदार बनाए जाते थे

Image Credit : Pixabay

This browser does not support the video element.

बैडमिंटन

बैडमिंटन की शुरुआत 19वीं सदी के मध्य में ब्रिटिश भारत में मानी जाती है, उस समय ब्रिटिश सैनिक अधिकारियों द्वारा इसका सृजन किया गया था

Video Credit : Beny lope

WWE स्टार ट्रिपल एच के फैंस को बड़ा झटका

istock
Read Now