लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   China President Xi Jinping ensures complete control on Chinese military after securing third term in power

China: तीसरी बार सत्ता हासिल करने के बाद राष्ट्रपति शी का सेना पर पूर्ण नियंत्रण, युद्ध की तैयारियों पर जोर

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, बीजिंग Published by: गुलाम अहमद Updated Sat, 10 Dec 2022 08:22 AM IST
सार

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने केंद्रीय सैन्य आयोग के संयुक्त ऑपरेशन कमांड सेंटर का निरीक्षण किया। इसके बाद माना जा रहा है कि नया केंद्रीय सैन्य मिशन चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की 20वीं राष्ट्रीय कांग्रेस की भावना के अनुसार काम करेगा।

China- Xi Jinping and Li Keqiang
China- Xi Jinping and Li Keqiang - फोटो : Agency (File Photo)
विज्ञापन

विस्तार

चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की 20वीं राष्ट्रीय कांग्रेस में तीसरे कार्यकाल के लिए सत्ता हासिल करने के बाद राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने पूरी तरह से सेना को अपने नियंत्रण में कर लिया है। मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने यह सुनिश्चित किया है कि पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) युद्ध की तैयारियों पर अपनी ऊर्जा केंद्रित करे और जीतने की अपनी क्षमता को मजबूत करे। इसके अलावा राष्ट्रपति शी ने पीएलए को 'नए युग' में मिशन और कार्यों को प्रभावी ढंग से अंजाम देने को कहा है।



मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, चीनी सशस्त्र बलों को शी जिनपिंग के प्रति वफादार रहने और नेतृत्व को समर्थन और सुरक्षा प्रदान करने का निर्देश दिया गया है। चीनी राष्ट्रपति ने पीएलए से युद्ध के प्रभाव के एकमात्र मौलिक मानक का पालन करने, युद्ध पर पूरी ऊर्जा केंद्रित करने, विजय पाने की क्षमताओं में तेजी से सुधार लाने और राष्ट्रीय संप्रभुता, सुरक्षा, विकास हितों की रक्षा करने का आह्वान किया है।


रिपोर्ट के मुताबिक, हाल ही में शी जिनपिंग ने केंद्रीय सैन्य आयोग के संयुक्त ऑपरेशन कमांड सेंटर का निरीक्षण किया। इसके बाद माना जा रहा है कि नया केंद्रीय सैन्य मिशन चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की 20वीं राष्ट्रीय कांग्रेस की भावना के अनुसार काम करेगा। नया केंद्रीय सैन्य मिशन सैन्य प्रशिक्षण और तैयारी को बढ़ावा देगा।

रिपोर्ट के अनुसार, चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की 20वीं राष्ट्रीय कांग्रेस ने आधुनिक समाजवादी देश के निर्माण की समग्र स्थिति से राष्ट्रीय रक्षा और सेना निर्माण के लिए रणनीतिक व्यवस्था की और चौतरफा तरीके से चीन के कायाकल्प का आह्वान किया।

सेना को बाहरी खतरों से किया आगाह
मीडिया में प्रकाशित एक लेख में सेना के शताब्दी संघर्ष के लक्ष्य को हासिल करने में सफल होने के पहलुओं को रेखांकित किया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि सीसीपी का नेतृत्व चीनी सेना को यह अहसास कराने के लिए बाहरी खतरों का हवाला दे रहा है कि वर्तमान स्थिति में नेतृत्व के प्रति उसका सम्मान कितना महत्वपूर्ण है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनिया बड़े बदलावों का सामना कर रही है जो चीन की सुरक्षा स्थिति के विकास को गति देते हैं। पीएलए को मजबूत करने और युद्ध की क्षमताओं में सुधार करने और राष्ट्रीय संप्रभुता व सुरक्षा का दृढ़ता से बचाव करने पर ऊर्जा केंद्रित करने के सीसीपी के विचार को लागू करना चाहिए।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00