इराक : आईएस के हमले में कुर्द बलों के जवानों सहित 12 लोगों की मौत, पढ़ें दुनिया की महत्वपूर्ण खबरें

एजेंसी, इरबिल Published by: Kuldeep Singh Updated Sat, 04 Dec 2021 05:21 AM IST

सार

कुर्द मीडिया के मुताबिक बृहस्पतिवार देर रात उत्तरी इराक के मखमौर क्षेत्र के एक गांव में आतंकियों की कुर्द पेशमर्गा बलों के साथ मुठभेड़ हुई, जिसमें नौ जवान और तीन नागरिक मारे गए। हालांकि, इस्लामिक स्टेट ने फिलहाल हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।
इराक पर हमला
इराक पर हमला - फोटो : ani
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

उत्तरी इराक के एक गांव पर इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आतंकवादियों के हमले में कुर्द बलों के जवानों सहित 12 लोगों की मौत हो गई। कुर्द मीडिया के मुताबिक बृहस्पतिवार देर रात मखमौर क्षेत्र के एक गांव में आतंकियों की कुर्द पेशमर्गा बलों के साथ मुठभेड़ हुई, जिसमें नौ जवान और तीन नागरिक मारे गए।
विज्ञापन


हालांकि, इस्लामिक स्टेट ने फिलहाल हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। 2017 में आईएस को इराक से खदेड़े जाने के बाद से आतंक इराकी संघ के स्वायत्त क्षेत्र कुर्दिस्तान में छिपकर हमले करते आ रहे हैं। बीते कुछ दिनों से इन हमलों में तेजी आई है। आइए जानते हैं दुनिया की अन्य महत्वपूर्ण खबरोंं के बारे में...

भारत के अफगानिस्तान अनाज भेजने पर फिर से पाकिस्तान राजी

भारत के अफगानिस्तान को मानवीय आधार पर अनाज और जीवन रक्षक दवाएं भेजने पर आखिरकार पाकिस्तान ने सहमति दे दे दी। पाकिस्तान ने कहा कि भारत अफगान ट्रकों के जरिये यह सहायता सामग्री वाघा सीमा से भेज सकता है। इससे पहले बृहस्पतिवार को पाकिस्तान ने अपने भूभाग से सहायता सामग्री भेजने की इजाजत देने से इनकार कर दिया था। भारत  ने हालांकि कहा था कि इन सामग्रियों को भेजे जाने के तौर तरीकों पर पाकिस्तान से बातचीत चल रही है। भारत ने यह भी कहा था कि इस मानवीय सहायता को पाकिस्तान के रास्ते से भेजे जाने को लेकर कोई शर्त नहीं थोपी जानी चाहिए। 

गद्दाफी के बेटे को राष्ट्रपति चुनाव लड़ने की इजाजत मिली

लीबिया की एक अदालत ने वहां के पूर्व तानाशाह मोअम्मर गद्दाफी के बेटे सीफ-अल-इस्लाम गद्दाफी को राष्ट्रपति चुनाव लड़ने की इजाजत दी है। गद्दाफी के बेटे को पिछले हफ्ते लीबिया के चुनाव निकाय ने अयोग्य घोषित कर दिया था, जिसके खिलाफ उसने अपील की थी। राष्ट्रपति पद के लिए मतदान 24 दिसंबर को होना है। 

संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय के बाहर शॉटगन लेकर पहुंचा, गिरफ्तार

संयुक्त राष्ट्र के मुख्यालय के मुख्य द्वार के पास एक व्यक्ति (60) को शॉटगन के साथ देखे जाने के बाद अफरातफरी मच गई और कई घंटे तक मुख्यालय को बंद रखा गया। न्यूयॉर्क पुलिस के स्पेशल ऑपरेशंस के प्रमुख हैरी वेडिन ने बताया कि गिरफ्तारी के बाद उसे अस्पताल ले जाया गया है। संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने बताया, पुलिस से पता चला कि व्यक्ति संयुक्त राष्ट्र को कुछ कागजात देना चाहता था। 

ब्रिटेन में सिख किशोर की हत्या का आरोपी गिरफ्तार

सिख किशोर ऋषमीत सिंह की हत्या में 17 वर्षीय किशोर को गिरफ्तार किया गया है। मंगलवार को भी 19 वर्षीय आरोपी गिरफ्तार हो चुका है। दोनों आरोपियों को विंबलडन अदालत में पेश किया गया। ऋषमीत की 24 नवंबर को लूटपाट के दौरान चाकू से हमला कर हत्या कर दी गई थी।

जापान के रक्षा मंत्री की अमेरिकी एफ-16 विमानों की उड़ान पर आपत्ति

जापान के रक्षा मंत्री नोबुओ किशी ने बृहस्पतिवार को अमेरिकी एफ-16 विमानों की उड़ान फिर शुरू करने पर आपत्ति जताते हुए इसे खेदजनक बताया। जापान ने अनुरोध किया था कि जब-तक फ्यूल टैंक गिराने की घटन की जांच न हो जाए, उड़ान स्थगित रखी जाए। मंगलवार को एक अमेरिकी एफ-16 की आपातकालीन लैंडिंग के दौरान आओमोरी प्रान्त के मिसावा शहर में आवासीय क्षेत्रों के पास दो फ्यूल टैंक गिराए थे।

चीन ने श्रीलंका में हाइब्रिड पावर प्लांट का निर्माण रोका

भारत की तरफ से चिंता जताए जाने के बाद चीन ने श्रीलंका के तीन द्वीपों पर हाइब्रिड पावर प्लांट बनाने की परियोजनाओं को स्थगित कर दिया है। श्रीलंका की एक समाचार वेबसाइट ने दावा किया कि जनवरी में चीनी कंपनी सिनो सोअर हाइब्रिड टेक्नोलॉजी ने तमिलनाडु के पास डेल्फ्ट, नागादीपा और अनलथिवु द्वीपों पर हाइब्रिड पावर प्लांट की परियोजनाओं की शुरुआत की थी। भारत का नाम लिए बिना चीनी दूतावास ने ट्वीट कर बताया कि सिनो सोअर ने तीसरे पक्ष से सुरक्षा चिंताओं के कारण श्रीलंका के तीन उत्तरी द्वीपों में हाइब्रिड पावर प्लांट के निर्माण को रोक रही है। इस पर भारत ने श्रीलंका से नाराजगी जताई थी। 

कोविड की चुनौती के बीच भारत-अमेरिका के संबंध ऐतिहासिक मुकाम पर : संधू

कोविड की चुनौती के बीच भारत और अमेरिका के द्विपक्षीय संबंध ऐतिहासिक मुकाम पर पहुंच गए हैं। भारत-अमेरिका फोरम के पांचवें संस्करण को संबोधित करते हुए भारत में अमेरिका के राजदूत तरनजीत सिंह संधू ने कहा कि बीते वर्ष जब अमेरिका में कोविड की वजह से संकट की स्थिति बनी थी तो भारत जिस तरह से अमेरिका का साथ दिया वह प्रशंसनीय है।

संधू ने कहा कि भारत-अमेरिका के संबंध जन-केंद्रित हैं लोगों द्वारा संचालित हैं। लोगों की आकांक्षाएं भारत-अमेरिका संबंधों की मार्गदर्शक हैं और सरकार के रूप में हम लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए दोनो तरफ से प्रयास जारी हैं। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00