लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   Islamic State Beatle member gets life term for US hostage deaths

Islamic State Beatle: इस्लामिक स्टेट 'बीटल' के सदस्य को अमेरिकी बंधकों की मौत मामले में आजीवन कारावास की सजा

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, अलेक्जेंड्रिआ (अमेरिका)। Published by: देव कश्यप Updated Sat, 20 Aug 2022 06:53 AM IST
सार

इस्लामिक स्टेट 'बीटल्स' ने एक दशक पहले लगभग दो दर्जन पश्चिमी लोगों को बंदी बना लिया था, इसमें से चार अमेरिकियों की मौत हो गई थी, जिनमें से तीन का सिर काट दिया गया था।

El Shafee Elsheikh
El Shafee Elsheikh - फोटो : Twitter@metpoliceuk
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

एक संघीय न्यायाधीश ने सीरिया में दो पत्रकारों सहित चार अमेरिकियों के अपहरण, दुर्व्यवहार और मौत के मामले में शुक्रवार को बीटल्स नामक इस्लामिक स्टेट के एक प्रमुख सदस्य ब्रिटिश नागरिक को पैरोल के बिना आठ समवर्ती आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। अमेरिकी जिला अदालत के न्यायाधीश ने 33 वर्षीय अल शफी एलशेख को सजा सुनाई है। अदालत के इस फैसले पर पीड़ितों के परिवारों और दोस्तों ने कहा कि "थोड़ा सा न्याय" मिला है।


इस्लामिक स्टेट बीटल्स ने एक दशक पहले लगभग दो दर्जन पश्चिमी लोगों को बंदी बना लिया था, इसमें से चार अमेरिकियों की मौत हो गई थी, जिनमें से तीन का सिर काट दिया गया था। जूरी ने अल शफी एलशेख को सभी मामलों में दोषी ठहराने से पहले चार घंटे तक विचार-विमर्श किया। जब फैसला पढ़ा गया तो एलशेख निश्चल खड़ा रहा और उसने कोई स्पष्ट प्रतिक्रिया नहीं दी। अब उसे जेल में आजीवन कारावास की सजा का सामना करना पड़ेगा। एलशेख को चार अमेरिकियों- पत्रकार फोले और स्टीवन सॉटलॉफ और सहायता कार्यकर्ता पीटर कासिग और कायला मुलर की मौत में उसकी भूमिका के लिए दोषी पाया गया।



कुख्यात इस्लामिक स्टेट अपहरण और हत्या प्रकोष्ठ के एक सदस्य को “बीटल्स” के रूप में जाना जाता है, जिसे सीरिया में चार अमेरिकी बंधकों की मौत के लिए शुक्रवार को अमेरिकी अदालत ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। न्यायाधीश टीएस एलिस ने वर्जीनिया के अलेक्जेंड्रिया में एक अमेरिकी जिला न्यायालय में सजा सुनाते हुए कहा कि एलशेख के आचरण को “केवल भयानक, बर्बर, क्रूर, कठोर और निश्चित रूप से, आपराधिक के रूप में वर्णित किया जा सकता है।”

अदालत में सुनवाई के दौरान एलशेख ने बड़ा चश्मा, काले रंग का कोविड फेस मास्क और गहरे हरे रंग का जेल जंपसूट पहना था, जिसकी पीठ पर “अलेक्जेंड्रिया इनमेट” लिखा हुआ था। सजा के बाद उसने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी और अदालत से बात करने के अवसर को अस्वीकार कर दिया। पूर्व ब्रिटिश नागरिक एलशेख का यह मुकदमा, जिसमें पूर्व बंधकों और मारे गए अमेरिकियों के माता-पिता की भावनात्मक गवाही शामिल थी, अमेरिका में एक आईएस आतंकवादी का सबसे महत्वपूर्ण अभियोजन था।

मारे गए बंधक जेम्स फोले की मां डायने फोले ने एलशेख और अदालत को संबोधित करते हुए कहा कि शुक्रवार को उनके बेटे की “भीषण सिर कलम” की आठवीं वर्षगांठ थी। फोले ने एलशेख से कहा “आपको अपने क्रूरता के लिए जवाबदेह ठहराया गया है। आपने अपना देश, अपनी नागरिकता, अपनी स्वतंत्रता और अपना परिवार खो दिया है।" उन्होंने कहा कि “प्यार नफरत से कहीं ज्यादा मजबूत होती है, मुझे आप पर दया आती है कि आपने नफरत को चुना।"

एलशेख और एक अन्य पूर्व “बीटल” अलेक्जेंंडा कोटे को जनवरी 2018 में सीरिया में कुर्द मिलिशिया द्वारा पकड़ लिया गया था और इराक में अमेरिकी सेना को सौंप दिया गया था। उन्हें मुकदमे का सामना करने के लिए 2020 में अमेरिका भेजा गया था। 38 वर्षीय कोटे को सितंबर 2021 में दोषी ठहराया गया था और अप्रैल में उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00