लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   North Korea leader Kim Jong decreed that children name bombs and guns

किम जोंग का फरमान: नाम बदलें देशवासी, बच्चों के नाम 'सुंदर' या 'कोमल' रखने के बजाय 'बंदूक' या 'बम' रखें

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, सियोल Published by: वीरेंद्र शर्मा Updated Sun, 04 Dec 2022 01:35 AM IST
सार

पिछले महीने से ही उत्तर कोरियाई निवासियों को लगातार नाम बदलने के लिए नोटिस जारी किए जा रहे हैं। ऐसे लोग जो अपने नाम के अंत को कुछ क्रांतिकारी नहीं कर सके हैं, उन्हें साल के अंत तक का समय दिया गया है।

किम जोंग उन
किम जोंग उन - फोटो : Social Media
विज्ञापन

विस्तार

उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन ने अब नया फरमान जारी किया है। इसके हिसाब से देश में बच्चों के नाम उनके पालकों को ऐसे रखने होंगे जिनमें मधुरता न हो। उन्होंने  ए री (प्यार करने वाला), सो रा (शंख) और सु एमआई (सुपर ब्यूटी) जैसे नामों के बजाय चोंग इल (बंदूक), चुंग सिम (वफादारी), पोक इल (बम) जैसे नाम रखने को कहा। इस दायरे में बच्चे ही नहीं, देश का हर नागरिक आएगा।


किम जोंग ने नए नामों के लिए बाकायदा दिशानिर्देश जारी किए हैं। वह मानते हैं कि ऐसे नामों में देशभक्ति का भाव झलकता है। उनका कहना है कि मधुर और कोमल किस्म के नाम दक्षिण कोरियाई शैली के हैं जो अब पाश्चात्य संस्कृति का प्रतीक बनते जा रहे हैं। किम का फरमान है कि इस साल के अंत में जो नागरिक अपना नाम बदलकर कुछ क्रांतिकारी नहीं रखेंगे वे या तो जुर्माना भुगतेंगे अथवा इससे भी बदतर हालात का सामना करेंगे। डेली स्टार की रिपोर्ट के मुताबिक एक नागरिक ने रेडियो फ्री एशिया को बताया कि निवासी इस बात की शिकायत कर रहे हैं कि अधिकारी लोगों को अपना नाम बदलने को मजबूर कर रहे हैं।


नाम बदलने के लिए नोटिस
पिछले महीने से ही उत्तर कोरियाई निवासियों को लगातार नाम बदलने के लिए नोटिस जारी किए जा रहे हैं। ऐसे लोग जो अपने नाम के अंत को कुछ क्रांतिकारी नहीं कर सके हैं, उन्हें साल के अंत तक का समय दिया गया है। इन्हें अपने नाम के आखिरी में कुछ ऐसा जोड़ना होगा जो राजनीतिक मैसेज दे। कुछ उत्तर कोरियाई लोग इस आदेश से खुश नहीं हैं। 

लोगों में नाराजगी
एक नाराज नागरिक ने कहा, मनुष्य अपना नाम कैसे रखें, इसकी अनुमति नहीं दी जा सकती। क्या हम एक मशीन हैं? उत्तर कोरिया के लोग मजाक बना रहे हैं कि क्या वह अपने बच्चों का नाम योंग चोल, मैन बोक या सन हुई जैसे पुराने जमाने के नाम देंगे। कुछ लोगों ने यह पूछने का साहस भी जुटाया है कि क्या वे अपने बच्चों को ऐसे नाम दे सकते हैं जो वर्तमान में भुखमरी और उत्पीड़न के युग को दर्शाते हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00