लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   Spokesman Ulrich Lissek said Nord Stream 2 pipeline has stopped leaking gas under Baltic Sea

Russian Pipeline Leaks: प्रवक्ता ने कहा- नॉर्ड स्ट्रीम-2 पाइपलाइन में बाल्टिक सागर के नीचे गैस का रिसाव बंद है

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, मॉस्को। Published by: देव कश्यप Updated Sun, 02 Oct 2022 03:54 AM IST
सार

नॉर्ड स्ट्रीम 2 के प्रवक्ता उलरिच लिसेक (Ulrich Lissek) ने कहा कि पानी के दबाव ने कमोबेश पाइपलाइन को बंद कर दिया है, तो हम यह कर सकते हैं अंदर की गैस अब बाहर नहीं जा सकती है। उन्होंने कहा कि इसका मतलब यह है कि पाइपलाइन में अभी भी गैस है।

नॉर्ड स्ट्रीम गैस पाइल लाइन।
नॉर्ड स्ट्रीम गैस पाइल लाइन। - फोटो : Agency (File Photo)
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

रूस से यूरोप तक जाने वाली गैस पाइपलाइन नॉर्ड स्ट्रीम 2 से बाल्टिक सागर के नीचे हो रहा रिसाव अब बंद हो गया है। एएफपी न्यूज एजेंसी ने एक प्रवक्ता के हवाले से यह जानकारी दी है। प्रवक्ता ने बताया कि  गैस और पानी के दबाव के बीच संतुलन बनने से रिसाव अब बंद हो गया है।



नॉर्ड स्ट्रीम 2 के प्रवक्ता उलरिच लिसेक (Ulrich Lissek) ने कहा कि पानी के दबाव ने कमोबेश पाइपलाइन को बंद कर दिया है, तो हम यह कर सकते हैं अंदर की गैस अब बाहर नहीं जा सकती है।उन्होंने कहा कि इसका मतलब यह है कि पाइपलाइन में अभी भी गैस है। यह पूछे जाने पर कि पाइपलाइन में कितनी गैस बची है, लिसेक ने मजाकिया लहजे में कहा कि यह एक मिलियन डॉलर का सवाल है।


नॉर्ड स्ट्रीम-1 पाइपलाइन में हुआ रिसाव, जो काफी बड़ा था, की स्थिति के बारे में अभी कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है। नॉर्ड स्ट्रीम-1 और नॉर्ड स्ट्रीम-2 पाइपलाइन रूस को जर्मनी से जोड़ता है। यह फिलहाल भू-राजनीतिक तनाव का केंद्र बना हुआ है क्योंकि मास्को द्वारा यूक्रेन पर आक्रमण के बाद पश्चिमि देशों की ओर से रूस पर लगाए गए प्रतिबंधों के खिलाफ संदिग्ध प्रतिशोध में यूरोप को गैस की आपूर्ति में कटौती कर दी गई है। दोनों पाइपलाइनें वर्तमान में परिचालन में नहीं हैं, फिर भी  उन दोनों में गैस थी।

शुक्रवार को जारी एक डेनिश-स्वीडिश रिपोर्ट ने निष्कर्ष निकाला कि पाइपलाइनों में रिसाव पानी के नीचे सैकड़ों किलोग्राम विस्फोटक पदार्थों में विस्फोट के कारण हुआ था। कई देशों ने कहा कि "सभी उपलब्ध जानकारी इस बात की ओर इशारा करती है कि वे विस्फोट जानबूझकर किए गए कार्य का परिणाम हैं। हालांकि विस्फोटों का स्रोत एक रहस्य बना हुआ है, मॉस्को और वाशिंगटन दोनों ने जिम्मेदारी से इनकार किया है।

पाइपलाइन में सभी छेद जो सोमवार को खोजे गए थे, बोर्नहोम के डेनिश द्वीप से दूर बाल्टिक सागर में हैं। दो छेद स्वीडिश विशिष्ट आर्थिक क्षेत्र में स्थित हैं, और दो अन्य डेनिश में स्थित हैं। लिसेक ने कहा कि नॉर्ड स्ट्रीम-2 ने शनिवार से पहले डेनिश ऊर्जा नियामक को सूचित किया था कि पाइपलाइन ने गैस का रिसाव बंद कर दिया है। तब डेनिश अधिकारियों ने कहा था कि पाइपलाइनों में गैस समाप्त होने तक रिसाव जारी रहेगा, जो रविवार तक होने की उम्मीद है।

स्वीडिश कोस्टगार्ड ने शुक्रवार देर रात कहा था कि नॉर्ड स्ट्रीम 2 में लीक पाइपों में निहित गैस की कमी के कारण कमजोर होने के संकेत दिख रहा है। स्वीडिश विशिष्ट आर्थिक क्षेत्र में रिसाव के कारण समुद्र की सतह पर उबलते गैस का व्यास अब मात्र 20 मीटर (66 फीट) चौड़ा रह गया है, जो शुरुआत के व्यास से 10 गुना छोटा है। नॉर्ड स्ट्रीम-1 पर भी रिसाव शुक्रवार को कमजोर होना शुरू हो गया था, जिसकी सतह का व्यास 600 मीटर तक रह गया था, जो सोमवार को 900 से 1000 मीटर के बीच था।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00