लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   US President Biden and French President Macron pledged to hold Russia accountable for war crimes in Ukraine

Russia Ukraine War: बाइडन और मैक्रों ने लिया संकल्प, यूक्रेन में युद्ध अपराध के लिए रूस को ठहराएंगे जवाबदेह

एएनआई, वाशिंगटन। Published by: देव कश्यप Updated Fri, 02 Dec 2022 12:56 AM IST
सार

इससे पहले यूरोपीय संघ (ईयू) ने भी यूक्रेन में रूस द्वारा किए गए संभावित युद्ध अपराधों की जांच करने के लिए संयुक्त राष्ट्र समर्थित एक विशेष अदालत स्थापित किए जाने और युद्धग्रस्त देश के पुनर्निर्माण के लिए रूस की फ्रीज की गई संपत्ति का इस्तेमाल करने का प्रस्ताव रखा था।

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों।
अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों। - फोटो : ANI
विज्ञापन

विस्तार

रूस और यूक्रेन के बीच संघर्ष नौ महीने से ज्यादा समय से जारी है। इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने यूक्रेन में युद्ध अपराधों के लिए रूस को जवाबदेह ठहराने का संकल्प लिया है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, जो बाइडन और इमैनुएल मैक्रों ने यूक्रेन में 'व्यापक रूप से प्रलेखित अत्याचारों और युद्ध अपराधों' के लिए रूस को जवाबदेह ठहराने का संकल्प लिया है। बैठक में सभी सहयोगियों ने युद्ध से उपजे आर्थिक संकट से निपटने पर भी जोर दिया। दोनों नेताओं ने गुरुवार को व्हाइट हाउस में इस मामले को लेकर बैठक के बाद एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस को दौरान इसकी घोषणा की।



2021 की शुरुआत में अमेरिकी राष्ट्रपति का पदभार संभालने के बाद बाइडन मैक्रों की पहली अमेरिकी यात्रा की मेजबानी कर रहे हैं। बाइडन और उनकी पत्नी जिल ने मैक्रों और उनकी पत्नी ब्रिगिट को गले लगाकर स्वागत किया और दोनों ने अमेरिका-फ्रांसीसी संबंधों के 200 से अधिक वर्षों का जश्न मनाया। व्हाइट हाउस के ओवल कार्यालय में बैठक के बाद जारी एक संयुक्त बयान में दोनों नेताओं ने कहा कि वे व्यापक रूप से प्रलेखित अत्याचारों और युद्ध अपराधों के लिए रूस को जिम्मेदार ठहराने के लिए प्रतिबद्ध हैं।


उन्होंने मानवाधिकारों के सम्मान और जलवायु परिवर्तन जैसे महत्वपूर्ण वैश्विक मुद्दों पर चीन के साथ मिलकर काम करने सहित नियम-आधारित अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था के लिए चीन की चुनौती के संबंध में अपनी चिंताओं पर एक दूसरे का साथ देने का भी संकल्प लिया। बाइडन ने कहा कि फ्रांस और अमेरिका व्लादिमीर पुतिन की लालची महत्वाकांक्षा का सामना कर रहे हैं और लोकतांत्रिक मूल्यों और सार्वभौमिक मानवाधिकारों का बचाव कर रहे हैं। मैक्रों ने कहा कि दोनों देशों के पास समुद्र के दोनों किनारों पर लोकतंत्र की रक्षा करने और यूक्रेन में युद्ध के प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष परिणामों का एक साथ सामना करने की साझा जिम्मेदारी है।

रूस के युद्ध अपराधों की जांच करे विशेष कोर्ट : यूरोपीय संघ  
इससे पहले यूरोपीय संघ (ईयू) ने यूक्रेन में रूस द्वारा किए गए संभावित युद्ध अपराधों की जांच करने के लिए संयुक्त राष्ट्र समर्थित एक विशेष अदालत स्थापित किए जाने और युद्धग्रस्त देश के पुनर्निर्माण के लिए रूस की फ्रीज की गई संपत्ति का इस्तेमाल करने का प्रस्ताव रखा था। यूरोपीय आयोग की अध्यक्ष उर्सुला वॉन देर लेयेन ने कहा कि ईयू इसके लिए वैश्विक समर्थन जुटाने के वास्ते अंतरराष्ट्रीय सहयोगियों के साथ मिलकर काम करने को तैयार है।

उन्होंने कहा, हम अंतरराष्ट्रीय अपराध अदालत के काम को समर्थन देना जारी रखेंगे। रूसी सेना पर आरोप है कि उसने 24 फरवरी को युद्ध शुरू करने के बाद से कीव के उपनगर बुका में कई लोगों की हत्या की और मैरियूपोल के एक थिएटर में 16 मार्च की गई बमबारी में आम लोगों पर हमले किए जिसमें 600 लोगों की मौत की आशंका है। यूरोप और हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय अपराध अदालत यूक्रेन में युद्ध के दौरान किए गए सैन्य अपराधों की जांच कर रही है।

यूक्रेन की प्रथम महिला ओलेना जेलेंस्की ने भी अपील की कि यूक्रेन में आक्रमणकारियों को जवाबदेह बनाया जाए। लेयेन ने बुधवार को कहा कि ईयू चाहता है कि प्रतिबंधों के तहत फ्रीज की गई रूसी संपत्ति का इस्तेमाल पड़ोसी यूक्रेन में हुए विनाश के भुगतान के लिए किया जाए। उन्होंने अनुमान जताया कि यूक्रेन में 600 अरब यूरो का नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा, हम चाहते हैं कि रूस भुगतान करे।
विज्ञापन

इस साल के अंत तक रूस गवांएगा अपने एक लाख सैनिक : जेलेंस्की
रूस के साथ जारी जंग के बीच यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने अहम बयान दिया। जेलेंस्की ने रूसी सैनिकों को होने वाले भारी नुकसान को लेकर आगाह किया। उन्होंने कहा कि इस साल के अंत तक रूस अपने एक लाख सैनिकों को गंवा देगा। राष्ट्रपति जेलेंस्की ने देश को वीडियो के जरिये संबोधित करते हुए यह भी कहा कि अग्रिम मोर्चे पर हालात बहुत ही कठिन हैं।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00